• Hindi News
  • Mp
  • Raisen
  • Raisen News mp news 337 people reported home quarantine 5 out of 7 hospitalized report negative 2 paid

337 लोगों को किया होम क्वारेंटाइन, अस्पताल में भर्ती 7 में से 5 की रिपोर्ट निगेटिव, 2 की पेडिंग

Raisen News - जिले के बरेली ब्लॉक में बाहर से आने वाले लोगों को होम क्वारेंटाइन किया जा रहा है। इस तरह से वहां अभी तक 337 लोगों को...

Mar 27, 2020, 08:16 AM IST

जिले के बरेली ब्लॉक में बाहर से आने वाले लोगों को होम क्वारेंटाइन किया जा रहा है। इस तरह से वहां अभी तक 337 लोगों को क्वारेंटाइन किया जा चुका है। वहीं जिला अस्पताल में जिन संदिग्धों में का इलाज चल रहा था उनमें से 5 की रिपोर्ट निगेटिव आई है और दो लोगों की रिपोर्ट अभी आना बाकी है।

बरेली एसडीएम बृजेश रावत ने बताया कि भोंड़िया में बाहर से तीन व्यक्तियों के आने तथा सर्रा गांव में जयपुर राजस्थान से दो व्यक्तियों के आने की सूचना मिलने पर रेपिड रिस्पांस टीम द्वारा गांवों में पहुंचकर व्यक्तियों की प्राथमिक जांच की गई। प्रारंभिक जांच में उनमें कोरोना वायरस के कोई लक्षण नहीं पाए गए। इसके बाद भी उन्हें एहतियातन उन्हें घर पर ही रहने के निर्देश दिए गए। एसडीएम रावत ने बताया कि अनुभाग में 25 मार्च तक 278 व्यक्ति होम क्वारेंटाइन थे तथा 26 मार्च को 59 लोगों को होम क्वारेंटाइन किया गया है। इस प्रकार कुल 337 लोग होम क्वारेंटाइन हैं। सभी जगह एसडीएम ने व्यापारियों के साथ बैठक लेकर सामान की आपूर्ति बनाए रखने के निर्देश दिए हैं। साथ इसमें सोशल डिस्टेसिंग का पालन आवश्यक तौर पर करने की बात कही गई है।

जिला अस्पताल में करीब 290 डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ सहित अन्य कर्मचारी तीन शिफ्ट में काम कर रहे हैं। वहां खांसी और फ्लू के लिए अलग ओपीडी बनाई गई हैं। जहां औसतन करीब 150 लोग जुकाम खांसी और फ्लू के होते हैं। जिनकी जांच कर दवाइयां उपलब्ध कराई जा रही हैं। वहीं कोरोना के संदिग्ध मरीजों की संख्या में भी अभी पूरी तरह से नियंत्रित हैं।

आज सुबह 8 बजे से शाम 6 बजे तक खुलेंगी किराने की दुकानें

आज दिनभर किराने की दुकानें खोले जाने के निर्देश कलेक्टर उमाशंकर भार्गव ने दिए है। इसके बाद अब शुक्रवार को सुबह 8 बजे से 6 बजे पूरे शहर में किराने की दुकानें खुलेंगे। लेकिन इन दुकानों से राशन खरीदने के लिए दो लोगों को आपस में दूरी रखने के नियम को पालन करना होगा। इससे कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा न रहे। वहीं नए प्लान के तहत शहर के 18 वार्डों में से प्रत्येक वार्ड के लिए तीन-तीन सब्जी के ठेले तय किए गए हैं। इस तरह से हर वार्ड मे सब्जी के तीन ठेले सब्जी बेचेंगे। इन ठेलों पर एक तख्ती लगाई जाएंगी। वहीं एसडीएम मिशा सिंह ने व्यापारियों के साथ बैठक की। दूध आैर सब्जी के लिए सुबह 8 से 10 बजे तक दुकानें खुलेंगी।

तहसील : पास बनवाने लगी भीड़ सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं

तहसील और एसडीएम कार्यालय में इन दिनों पास बनवाने के लिए भीड़ लगी हुई है। लोग नियमों का पालन ही नहीं कर रहे हैं। वहां तैनात पुलिस और तहसील के कर्मचारी समझाइश भी दे रहे हैं। इसके बावजूद लोग मानने के लिए तैयार नहीं है। वहां पहुंचने वाला हर व्यक्ति जिद करके अपने पास बनवाने का प्रयास कर रहा है। चाहे उनके द्वारा बताए गए कारण महत्वपूर्ण हों या न हों। इतना ही नहीं वे तहसील कार्यालय में भीड़ लगाकर खड़े हो रहे हैं। किसी की बात ही सुनने काे तैयार नहीं है। इससे वहां तैनात कर्मचारी भी संक्रमण से डरे हुए हैं। गुरुवार को तहसील में नायब तहसीलदार विष्णु प्रसाद रघुवंशी और पलक पीड़िहा पास बनाने का काम कर रहे थे।

कैसे टूटेगी संक्रमण की चेन : 8 फीट की जगह खड़े 14 लोग

जिला अस्पताल के पास गायत्री मेडिकल स्टोर पर गुरुवार की सुबह 10.30 बजे आठ फीट की जगह में 14 लोग खड़े थे। सभी लोग आपस में सटे थे। ग्राहकों के साथ ही दुकान संचालक सहित उनके कर्मचारी मिलाकर कुल 14 लोग वहां एक साथ छोटी से जगह में खड़े हुए थे। इनमें से कुछ लोग मास्क लगाए हुए थे तो कुछ लोग बिना मास्क के ही मेडिकल स्टोर पर खड़े होकर दवाइयां खरीद रहे थे।

अस्पताल में बदलाव: आइसोलेशन वार्ड के लिए अलग द्वार

जिला अस्पताल में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड में पहुंचने के लिए वार्ड के मुख्य द्वार और एसएनसीयू के सामने से होते हुए वहां पहुंचना पड़ता है। गुरुवार को जब कलेक्टर उमाशंकर भार्गव ने वार्ड का भ्रमण किया तो उन्होंने पीडब्ल्यूडी काे इस बात के लिए निर्देश दिए आइसोलेशन वार्ड के लिए अलग से प्रवेश और निकासी द्वारा बनाया जाए। इसके अलावा उन्होंने शहर के सरकारी होस्टल भी देखे जहां जरूरत पड़ने पर आइसोलेशन वार्ड बनाए जा सकेंगे। कलेक्टर ने मौके पर पहुंचकर वहां की व्यवस्थाएं देखी। इसके अलावा कलेक्टर भार्गव और एसपी मोनिका शुक्ला जिले के कई क्षेत्रों पहुंचकर वहां की व्यवस्था को जायजा लिया और आवश्यक निर्देश भी दिए।

यहां संक्रमण का खतरा : सुबह सब्जी मंडी में लगी भीड़


सुबह के समय थोक सब्जी मंडी में लोग बड़ी संख्या में एक साथ वहां पहुंच रहे है। इसके चलते एक ही जगह बड़ी संख्या में लोग जमा होने से वहां कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा बहुत अधिक बढ़ गया है। लेकिन जहां ध्यान देना चाहिए वहां जिम्मेदार लापरवाही बरत रहे हैं। साथ ही लोग भीड़ में पहुंचकर अपनी जान जोखिम में डाल रहे हैं। इस तरह के लोगों पर यदि सख्ती नहीं बरती गई तो लॉक डाउन का उद्देश्य ही विफल हो जाएगा और आगे कर्फ्यू जैसी स्थिति से बनने में देर नहीं लगेगी।


यहां सख्ती : बाहर घूमने वालों से लगवाई उठक- बैठक


पुलिस को भी काफी चुनौती भरा काम करना पड़ रहा है। लॉक डाउन होने के बाद भी कई लोग सड़कों पर यहां से वहां घूम रहे हैं। वे कोरोना वायरस जैसे गंभीर महामारी को भी गंभीरता से नहीं ले रहे है। इसलिए ऐसा लोगों को सबक सिखाने के लिए पुलिस काम कर रही है। इसको लेकर सागर तिराहे पर कुछ युवकों से पुलिस ने उठक बैठक लगवाईं तो कुछ को हल्के तरीके से डंडे भी मारे।

लापरवाही की हद... एसडीएम के सामने ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया गया

स्वास्थ्य िवभाग के कर्मचारी सतर्कता के साथ कर रहे ड्यूटी।

पुलिस कंट्रोल में रूम में किराना व्यापारियों को निर्देश देते हुए एसडीएम मिशा सिंह।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना