पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Indore News Mp News 65 Complaints Against Advisory Companies Cheated Above 3 Crore

एडवाइजरी कंपनियों के खिलाफ 65 शिकायतें, 3 करोड़ से ऊपर पहुंची ठगी

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

शहर में चल रही अनरजिस्टर्ड एडवाइजरी कंपनियों के खिलाफ क्राइम ब्रांच को अब तक 65 शिकायतें मिली हैं, जिनमें करीब तीन करोड़ से ज्यादा की ठगी का आंकड़ा सामने आ चुका है। कई पीड़ित ऐसे भी हैं, जिन्होंने जीवनभर की जमा पूंजी इसमें लगा दी और सब कुछ गंवा बैठे, वहीं कई को कुछ माह में लाखों कमाने का झांसा देकर धोखाधड़ी की गई। शनिवार को रायपुर, बिलासपुर (छग), गुजरात और फिरोजाबाद (यूपी) के पीड़ित भी क्राइम ब्रांच पहुंचे और शिकायतें की। इसके अलावा गुजरात के एक सीआईएसएफ के जवान मेहुल के साथ भी एडवाइजरी संचालक ने धोखाधड़ी की। उसने रुपए के लिए फोन करने वाले एडवाइजरी कंपनी के एक कर्मचारी को खुद ही पकड़ लिया और क्राइम ब्रांच को सौंपा।

एएसपी राजेश दंडोतिया को मेहुल ने शिकायत की है कि उसे इंदौर की मैक्स इनोवेशन ग्रोथ कंपनी के संचालकों ने 1 लाख 10 हजार रुपए निवेश कराए थे, लेकिन न तो मुनाफा दिया न ही रुपए लौटाए। उलटा उनसे और रुपए निवेश के लिए उकसा रहे थे तो उन्होंने उससे बातचीत कर उनकी कंपनी के एक कर्मचारी योगेश को इंदौर आकर मिलने बुलाने के बहाना पकड़ लिया। योगेश ने बताया कि वह हाल ही में कंपनी से जुड़ा है। उसे ठगी की जानकारी नहीं है। उसकी कंपनी का संचालक विशाल लाड है। एएसपी ने उसे पलासिया पुलिस के हवाले कर संचालक को तलाशने के निर्देश दिए हैं।

केस-1 बिलासपुर के ठेकेदार से की 29 लाख की धोखाधड़ी, दो दिन परिजन ने खाना नहीं खाया

एडवाइजरी कंपनी एल्गो सिस्टम और इन्वेस्टमेंट रिसर्च एडवाइजर (आईआरए) के खिलाफ बिलासपुर के कॉन्ट्रैक्टर दिनेश सिंह ने शिकायत की है कि दोनों एडवाइजरी कंपनी के संचालकों ने उन्हें शेयर कारोबार में धन कमाने का लालच देकर29 लाख की धोखाधड़ी की है। आरोपियों ने शेयर कारोबार में निवेश के नाम पर घर तक बिकवा दिया और जीवनभर की पूंजी निवेश में लगाकर कंपनी बदल ली। एक रुपया मुझे रिटर्न नहीं किया। घाटे के बाद दो दिन घर में न खाना बना, न किसी ने खाया। अब सड़क पर आ गया हूं।

केस-2 पौने आठ लाख रुपए पर एक करोड़ रिटर्न देने का झांसा देकर की धोखाधड़ी

इसी तरह रायपुर (छग) से पवन कुमार ने शिकायत की है कि उन्हें रिपल्स एडवाइजरी के कपिल शर्मा नाम के युवक ने फोन कर 7 लाख 72 हजार 651 रुपए लेकर 1 करोड़ रुपए रिटर्न करने का झांसा देकर धोखाधड़ी की है। जब मैं इंदौर कंपनी में निवेश किए रुपए लेने आया तो संचालकों ने कह दिया कि कपिल शर्मा का दुर्घटनाग्रस्त हो गया है। उसके बाद से न तो उनका फोन लगा, न ही कोई संपर्क हुआ।

केस-3 तीन महीने में ढाई लाख के साढ़े सात लाख करना बोलकर फिरोजाबाद के शिक्षक से की ठगी

फिरोजाबाद के ऋषि वशिष्ठ ने बताया की वह शिक्षक हैं। कुछ समय पहले उन्हें फेयर इन्वेस्टर प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के संचालकों ने फोन कर शेयर कारोबार में कम समय में ज्यादा धन कमाने का बोलकर निवेश कराया। डीमैट अकाउंट खोला और उनसे 2 लाख 10 हजार निवेश करा लिए। तीन माह में ये रुपए 7 लाख 50 हजार करने का बोलकर उनसे धोखाधड़ी की है।

इंदौर की एडवाइजरी कंपनियों के खिलाफ शिकायत करने के लिए रोजाना लोग क्राइम ब्रांच पहुंच रहे हैं।
खबरें और भी हैं...