पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Banwar,Tikamgarh News Mp News 88 People From Bus Workers From Pune Maharashtra Stranded At Border Police Stopped

पुणे महाराष्ट्र से बस में आए मजदूर परिवारों के 88 लोग सीमा पर फंसे, पुलिस ने रोका

5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोविड 19 - कोरोना वायरस के चलते 14 अप्रैल तक के लिए लॉक आउट होने ने कारण सभी नगरों व शहरों की सीमाओं पर आवाजाही बंद कर दी गई है। लॉक डाउन होने से दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, मुंबई या अन्य महानगरों से अपने घर वापस आने वाले मजदूरों के लिए मुसीबत आ गई है। वह कहीं आ जा नहीं पा रहे हैं। मजदूर प्राइवेट वाहन किराए से लेकर घर पहुंचना चाहते हैं लेकिन सीमा सील्ड होने के कारण वह घर नहीं पहुंच पा रहे हैं।

छतरपुर- टीकमगढ़ सीमा भी सील्ड है, सीमा पर पुलिस मुस्तैदी से लगी हुई है। मंगलवार की सुबह करीब 4 बजे सिद्धार्थनगर गोरखपुर (नेपाल सीमा) के मजदूर एक यात्री बस क्रमांक यूपी 55 टी 8063 से महाराष्ट्र पुणे से अपने गांव वापस आने लिए गर्रोली चौकी सीमा क्षेत्र में आए। यहां सीमा चैकिंग पॉइंट पर तैनात चौकी प्रभारी माधवी अग्निहोत्री के नेतृत्व में आरक्षक जीतेंद्र राय, धर्मेंद्र यादव व अन्य पुलिस कर्मियों ने एेहतियातन उन्हें सीमा में प्रवेश करने से रोक दिया। बस के ड्राइवर ने बताया कि इन मजदूरों को पुणे महाराष्ट्र से बिठाकर यूपी के सिद्धार्थ नगर गोरखपुर छोड़ने जा रहे हैं। चौकी प्रभारी की सूचना पर स्वास्थ्य विभाग की टीम मौके पहुंची, डॉ. सौरभ मिश्रा ने बस में आए 69 पुरुष, 7 महिला व 12 बच्चों के स्वास्थ्य का परीक्षण किया। जांच में सभी स्वस्थ पाए गए।

चौकी प्रभारी ने सभी मजदूरों के हाथों को धुलवाते हुए सेनेटाइज्ड कराया, उनके खाने के लिए बिस्किट, फल आदि दिए। लेकिन चौकी प्रभारी माधवी अग्निहोत्री ने प्रशासन के आदेश का हवाला देते हुए आगे जाने से रोक दिया। ऐसी हालत में सभी मजदूर सीमा पर ही श्री हनुमान मंदिर परिसर में रुक गए। तीन दिनों से सभी मंदिर परिसर में खुले आसमान के नीचे डेरा डाले हुए हैं।

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि के लिए ग्रह गोचर बेहतरीन परिस्थितियां तैयार कर रहा है। आप अपने अंदर अद्भुत ऊर्जा व आत्मविश्वास महसूस करेंगे। तथा आपकी कार्य क्षमता में भी इजाफा होगा। युवा वर्ग को भी कोई मन मुताबिक क...

और पढ़ें