• Hindi News
  • Mp
  • Damoh
  • Damoh News mp news air quality index dropped from 99 to 32 after the vehicle stopped

वाहन थमे तो 99 से गिरकर 32 पर आया एयर क्वालिटी इंडेक्स

Damoh News - कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए जिले में 22 मार्च से लॉकडाउन चल रहा है। स्वयं एवं परिवार की सुरक्षा को देखते...

Mar 27, 2020, 06:56 AM IST
Damoh News - mp news air quality index dropped from 99 to 32 after the vehicle stopped

कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए जिले में 22 मार्च से लॉकडाउन चल रहा है। स्वयं एवं परिवार की सुरक्षा को देखते हुए जिले के 95 फीसदी लोग घरों में ही कैद होकर रह गए हैं। जिससे वाहनों की आवाजाही लगभग बंद हो गई है। बसें, ट्रक, ऑटो, कार सड़कों पर नजर ही नहीं आ रहीं हैं। सिर्फ अत्यावश्यक काम में जुटे कर्मचारी-अधिकारी ही ड्यूटी पर जा रहे हैं या फिर लोग बेहद जरूरत का सामान खरीदने के लिए ही बाहर आ रहे हैं। इसका सीधा असर शहर की हवा की क्वालिटी पर भी पड़ रहा है।

शहर का एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) 26 मार्च को एयर क्वालिटी इंडेक्स 32 पर पहुंच गया है। जो बेहद आदर्श स्थितियों मंे ही होता है। जबकि लॉकडाउन के पहले 21 फरवरी तक दमोह का एयर क्वालिटी इंडेक्स 99 पर था। लेकिन वाहनों की आवाजाही थमने के कारण अचानक सीधे चार ही दिनों में इंडेक्स में 67 अंकों की गिरावट आई है। जानकारों के अनुसार यह बहुत ही अच्छी स्थिति कहलाती है। गौरतलब है कि आम दिनों में जब वाहनों की आवाजाही रहती है जब दमोह का एयर क्वालिटी इंडेक्स 80 से 120 रहता है।

ऐसे समझें कैसे कम हुआ प्रदूषण: दमोह जिले में वर्तमान में 70 हजार से अधिक वाहन हैं। इन वाहनों से 0.60 ग्राम कार्बन मोनोऑक्साइड प्रति किमी निकलती है। लेकिन वर्तमान में लाॅकडाउन के चलते कार्बन मोनो डाईआक्साइड 0.28 ग्राम पर आ गई है। यही स्थिति में नाइट्रोजन ऑक्साइड की भी है। वायुमंडल में घुलने वाले धूल के कणों की संख्या भी वर्तमान में 25.45 पर पहुंच गई है।


दो माह पहले सबसे खतरनाक स्थिति
में था दमोह का एआईक्यू


जनवरी माह में दमोह का एयर क्वालिटी इंडेक्स सबसे खतरनाक स्थिति में पहुंच गया था। 1 जनवरी को 202 एवं 15 जनवरी को यह 272 पर पहुंच गया था। जिसके चलते दमोह का एक्यूआई देश के सबसे सबसे शहरों में खतरनाक हो गया था।

Ãवाहनों से कार्बन मोनोऑक्साइड, नाइट्रोजन ऑक्साइड और धूल के कण निकलते हैं। वाहन नहीं चले ताे पर्यावरण में बड़ी मात्रा में ये नहीं घूले। जिससे आक्सीजन की मात्रा अपने आप बढ़ जाती है। सोचिए लॉकडाउन के दौरान आगामी दिनों में भी हम संयम रखते हुए घरों में रहें, तो पर्यावरण का कितना भला करेंगे।
- मीरा माधुरी महंत, प्रो. पीजी कॉलेज, पर्यावरण

जानिए किस दिन कितनी रही हवा की शुद्धता

दिनांक एयर क्वालिटी

{21 मार्च 99 एक्यूआई

{22 मार्च 78 एक्यूआई

{23 मार्च 74 एक्यूआई

{24 मार्च 24 एक्यूआई

{25 मार्च 65 एक्यूआई

{26 मार्च 32 एक्यूआई

शहर का एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) 26 मार्च को एयर क्वालिटी इंडेक्स 32 पर पहुंच गया है। जो बेहद आदर्श स्थितियों मंे ही होता है। जबकि लॉकडाउन के पहले 21 फरवरी तक दमोह का एयर क्वालिटी इंडेक्स 99 पर था। लेकिन वाहनों की आवाजाही थमने के कारण अचानक सीधे चार ही दिनों में इंडेक्स में 67 अंकों की गिरावट आई है। जानकारों के अनुसार यह बहुत ही अच्छी स्थिति कहलाती है। गौरतलब है कि आम दिनों में जब वाहनों की आवाजाही रहती है जब दमोह का एयर क्वालिटी इंडेक्स 80 से 120 रहता है।

जानकारों के अनुसार वाहनों के पहिए थमने के कारण एयर क्वालिटी इंडेक्स में बेहद कमी है। वहीं बुधवार की रात हुई बारिश के कारण इसमें अचानक दमोह का एयर क्वालिटी इंडेक्स बेहद अच्छी स्थिति में पहुंच गया है। हालांकि 26 मार्च की दोपहर 2 बजे यह 32 पर था, लेकिन देर शाम वाहनों की रफ्तार थमने के कारण 28.53 पीएम पर पहुंच गया।

X
Damoh News - mp news air quality index dropped from 99 to 32 after the vehicle stopped

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना