आर्ट आफ लिविंग : घरों से साधकों ने ऑडियो-वीडियो कांफ्रेंसिंग पर किया सत्संग

Burhanpur News - आर्ट ऑफ लिविंग का सत्संग गुरुवार रात 9 बजे शुरु हुआ। इस बार आॅडियो व वीडियो कांफ्रेंसिंग से साधकों ने अपने घरों पर...

Mar 27, 2020, 06:51 AM IST

आर्ट ऑफ लिविंग का सत्संग गुरुवार रात 9 बजे शुरु हुआ। इस बार आॅडियो व वीडियो कांफ्रेंसिंग से साधकों ने अपने घरों पर बैठकर सत्संग का आनंद लिया।

इतवारा में तबले की थाप बजी तो भरत श्राफ ने सिंधीपुरा से भजन गुनगुनाया। गुरु के प्रति अटूट श्रद्धा व संकल्प ने 11 साल के सत्संग की इस कड़ी को टूटने नहीं दिया। केंद्र प्रमुख संतोष देवताले ने तबले पर संगत की। बांसुरी पर बेटे विश्वास ने साथ दिया और आस्था ने कृष्ण भक्ति का भजन अच्युतम केशवम गुनगुनाया। सीए भरत श्राफ ने ‘अमर आत्मा सच्चिदानंद मैं हूं’ भजन से कोरोना वायरस के शिकार व मृत्यु को प्राप्त हुए देशवासियों के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित की। पं. संगीता देवताले ने शुरुआत में गुरु पूजा से मंत्रोच्चार कर देश की खुशहाली, कल्याण व कोरोना वायरस से देशवासियों को मुक्ति दिलाने के लिए गुरु चरणों में आराधना की। साधकों ने अपने घरों पर बैठकर बैंगलुरू आश्रम से रविशंकरजी द्वारा कराए गए समर्पण ध्यान का आनंद लिया। लाइव सत्संग से स्नेहा मुंगी, विजय दुबानी, अनिल जडिया, धर्मेंद्र जडिया व कई साधक रात 10 बजे तक जुड़े रहे। प्रशिक्षक देवताले ने कहा यह समय घबराने का नहीं है लेकिन सजग रहने का जरूर है। जो साधक साधना और सत्संग से जुड़े हैं, उन्हें यह वायरस छू भी नहीं सकता लेकिन आवश्यकता है धैर्य बनाए रखने की। अंत में सभी ने मौन धारण कर कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों के शीघ्र स्वास्थ्य होने के लिए प्रार्थना भी की।

संतोष देवताले ने परिवार के साथ शामिल होकर सत्संग किया।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना