शाम 7 बजे के बाद बोट संचालन पर लगाई गई थी रोक, पर्यटन निगम को दी थी निगरानी की जिम्मेदारी

News - पांच दिन पहले धारा 144 के तहत आदेश जारी करके कलेक्टर तरुण पिथौड़े ने भोपाल जिले के सभी तालाबों में शाम 7 बजे के बाद बोट...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 06:57 AM IST
Bhopal News - mp news boat operations were banned after 7 pm the tourism corporation was given the responsibility of monitoring
पांच दिन पहले धारा 144 के तहत आदेश जारी करके कलेक्टर तरुण पिथौड़े ने भोपाल जिले के सभी तालाबों में शाम 7 बजे के बाद बोट संचालन पर रोक लगा दी थी और इसकी पूरी व्यवस्था नगर निगम की बजाय पर्यटन निगम को दे दी थी। लेकिन, गणेश विसर्जन के दौरान रात भर नावों का असुरक्षित तरीके से संचालन होता रहा। कलेक्टर पिथौड़े ने अपने आदेश में इस बात का जिक्र किया है कि बोट संचालन में निर्धारित सुरक्षा नियमों का पालन नहीं हो रहा है। इससे गंभीर घटना हो सकती है। इसलिए सुरक्षा संबंधी सभी उपाय करने के लिए यह जरूरी किया गया है कि बोट चालक अपने साथ बोट की मजबूती का प्रमाण पत्र रखेंगे। पर्यटन निगम बोट की जांच के बाद यह प्रमाण पत्र जारी करेगा।

आदेश की कॉपी

यह भी है कलेक्टर के आदेश में

Áहर बोट में यात्रियों की संख्या के बराबर लाइफ जैकेट होना चाहिए।

Áहर बोट की क्षमता पर्यटन निगम द्वारा प्रमाणित होना चाहिए।

Á हर बोट में पर्याप्त संख्या में सेफ्टी ट्यूब होना चाहिए।

Áहर बोट चालक अनिवार्य रूप से कुशल तैराक होना चाहिए।

Áहर बोट चालक को नेम प्लेट लगाना चाहिए।

Áबोट में यात्रियों के बैठने से पहले उन्हें लाइफ जैकेट पहनाना चाहिए।

Áबोट चालक या यात्री नशे की हालत में नहीं होना चाहिए।

Áबोट केवल अनुमति वाले स्थान पर ही संचालित की जा सकेगी।

Áअनुमति के बिना प्राइवेट बोट का संचालन नहीं किया जा सकेगा।

X
Bhopal News - mp news boat operations were banned after 7 pm the tourism corporation was given the responsibility of monitoring
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना