बाल मन में जागा जरूरतमंदों की मदद का जज्बा

News - दिवाली के मौके पर अक्सर बच्चे अपने लिए नए कपड़े, गिफ्ट और पटाखे की मांग करते हैं। लेकिन शहर के कुछ बाल समूहों ने इस...

Bhaskar News Network

Oct 13, 2019, 06:50 AM IST
Bhopal News - mp news child awakened in the spirit of helping the needy
दिवाली के मौके पर अक्सर बच्चे अपने लिए नए कपड़े, गिफ्ट और पटाखे की मांग करते हैं। लेकिन शहर के कुछ बाल समूहों ने इस दिवाली को अपने आसपास की उन बस्तियाें में जाकर मनाने का निर्णय लिया है, जहां के बच्चों को नए कपड़े और पटाखे नसीब नहीं होते।

डीबी स्टार
राजधानी के एक निजी स्कूल में कक्षा 2 में पढ़ने वाली भूमिजा ने इस बार अपने पापा जीतेंद्र सिंह से दिवाली पर खास गिफ्ट मांगा है। उसने गिफ्ट में ढेर सारे चॉकलेट्स के पैकेट, पटाखे और कपड़ों की मांग की है। उसके पापा ने जब पूछा कि वह इनका क्या करेगी? तो जवाब मिला कि वह पास की बस्ती के बच्चों काे बांटेगी। भूमिजा ने अपने पिता को बताया कि जब वो बच्चे दिवाली पर हमें नए कपड़े पहने, पटाखे फोड़ते और चाॅकलेट खाते देखते हैं तो मुझे अच्छा नहीं लगता है। इसलिए इस बार उसने और उसके दोस्तों ने मिलकर तय किया है कि वे इस दिवाली पर अपने आसपास की बस्ती में रहने वाले बच्चों को गिफ्ट देंगे। भूमिजा की सहेली साक्षी रोहित नगर में रहती है, उसने भी अपनेे पापा हरि खोलवाल से दिवाली पर कुछ मांगा है। साक्षी चाहती है कि उससे पहले उनके घर में काम करने वाली बाई के बच्चों को दिवाली पर कपड़े दिलाएं। साक्षी ने भी इस बार पास की बस्ती के बच्चों को बांटने के लिए गिफ्ट मंगाए हैं।

बच्चों में बदलाव आ रहा है

बच्चों की इस मुहिम को लेकर डीबी स्टार ने मनो वैज्ञानिक दीप्ति सिंघल से बात की तो उन्होंने बताया कि यह बेहद सकारात्मक पहलू सामने आ रहा है। अक्सर हम बच्चों के मोबाइल एडिक्शन की बात करते हैं। लेकिन इसमें जरूरतमंद बच्चों पर भी कई फिल्में अपलोड की गई हैं। इनको देखकर बच्चे सवाल करते हैं। दिवाली और हाेली पर अब बच्चे दूसरों को गिफ्ट देने के लिए पैरेंटस से डिमांड करते हैं। माता-पिता को उन्हें मोटीवेट करना चाहिए।

घर-स्कूल से ही मिलते हैं संस्कार

प्ले स्कूल संचालित करने वाली नीति भूषण बताती हैं कि बड़े स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चे सक्षम होते हैं। जब उन्हें समझ में आ जाता है कि वे किसी की मदद कर सकते हैं तो वे जरूर करते हैं। घर-स्कूल में उन्हें ऐसे संस्कार मिलने चाहिए। अच्छी बात यह है कि स्कूलों में अब त्यौहाराें के बारे में विस्तार से बताया जाता है।

X
Bhopal News - mp news child awakened in the spirit of helping the needy
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना