शहरवासियों ने पेश की इंसानियत की मिसाल

News - डीबी स्टार

Nov 11, 2019, 07:15 AM IST
डीबी स्टार
सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को अयोध्या में राम जन्मभूमि को लेकर ऐतिहासिक फैसला सुनाया। इसके मद्देनजर ऐहतियात के तौर पर जिला प्रशासन ने शहर के सभी बाजार बंद करा दिए थे। इस वजह से शहरवासी दूध-दही, फल-सब्जी और जरूरत की वस्तुओं के लिए भटकते रहे। दूसरी तरफ देवउठनी ग्यारस से शादी-ब्याह के मांगलिक आयोजन भी शुरू हो गए। लेकिन शनिवार को अचानक शहर के बाजार बंद होने से शादी की तैयारियाें पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ा। खासतौर से उन परिवारों को ज्यादा परेशानी हुई, जो शादी के लिए बाहर से आए थे। इस मुश्किल घड़ी में शहर के कुछ लोग मदद को आगे आए और उन्होंने इंसानियत की अनूठी मिसाल पेश की। कुछ शहरवासियों ने एक बार फिर सिद्ध कर दिया कि शहर में गंगा-जमुनी तहजीब अभी भी जिंदा है। इसमें जिला प्रशासन और भोपाल पुलिस की भूमिका भी सराहनीय रही।

डीबी स्टार ने संकट की घड़ी में आगे बढ़कर मदद करने वालों के किस्सों को संजोया है, आज की अपनी इस रिपोर्ट में। पेश है मानवीयता के ये किस्से:-

उपयोग का आवश्यक सामान मुहैया कराया

बंद की वजह से अधिकांश शहरवासी दैनिक उपयोग की वस्तुओं के लिए इधर-उधर भटक रहे थे। उन्हें दाल, चावल, आटा, सब्जी, दूध-दही तक नहीं मिल पा रहे थे। लेकिन शहर में कई लोग ऐसे हैं, जिन्होंने इंसानियत का पैगाम देते हुए दुकान खोलकर सामान उपलब्ध करवाया। आजाद मार्केट के व्यवसायी राहुल को पता चला कि ईद मिलादुन्नबी के लिए खाद्यान्न तक नहीं खरीद पाए हैं। ऐसे ग्राहकों को राहुल ने अपनी दुकान खोलकर सामान उपलब्ध कराया। साथ ही अन्य व्यवसायियों से आग्रह किया कि वे भी दुकान खोलकर जरूरी सामान दे दें, ताकि त्योहार की खुशी कम न हो।
राहुल ने हमारी पूरी मदद की

 रविवार को ईद मिलादुन्नबी के मौके पर हम लोग शनिवार से जरूरत का सामान खरीदने के लिए परेशान हो रहे थे। हमारी मुलाकात अचानक राहुल से हो गई, जिनकी आजाद मार्केट में रेडीमेड की दुकान है। उन्हें जब पता चला तो उन्होंने हमारी मदद की और जरूरत का सामान दिलवाया, वह भी ऐसे समय में जब व्यापारी बाजार बंद होने का फायदा उठाते हैं। लेकिन राहुल भाई ने हमें पूरी मदद की। जुल्फिकार और फहीम खान, निवासी श्यामला हिल्स

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना