• Hindi News
  • Mp
  • Sagar
  • Sagar News mp news do not worry your religion is not missing it is not necessary to go to the temple worship at home and watch shantidhara on tv munishree

घबराइए नहीं आपका धर्म नहीं छूट रहा है, मंदिर जाना जरूरी नहीं, घर बैठे पूजन करें टीवी पर ही शांतिधारा देखें : मुनिश्री

Sagar News - धर्म स्थान पर दिए गए दान का अपना अलग महत्व है और अस्पताल में दिए गए दान का अलग, अस्पताल की उपयोगिता जीवन निर्माण है...

Mar 27, 2020, 08:25 AM IST

धर्म स्थान पर दिए गए दान का अपना अलग महत्व है और अस्पताल में दिए गए दान का अलग, अस्पताल की उपयोगिता जीवन निर्माण है जबकि धर्म की आस्था विपदा की घड़ी में आपके साथ रहती है यह कोरोना वायरस का संकट है थोड़ा सावधानी रखें कुछ दिनों में चला जाएगा अस्पताल भी किसी को अमर नहीं बना सकता है। यह बात ऑनलाइन धर्म सभा में मुनि श्री प्रमाण सागर महाराज ने भाग्योदय तीर्थ के संत भवन में शंका समाधान कार्यक्रम के प्रश्नों के जवाब में कहीं। उन्होंने कहा की अस्पताल तन ठीक कर सकती है परंतु मन को धर्म ही ठीक कर सकता है इस आपदा से रंच मात्र घबराओ नहीं इससे बड़ी बड़ी आपदाएं भी आकर के चली गई हैं सृष्टि को कोई खत्म नहीं कर सकता है यह प्रकोप तन पर है आत्मा पर नहीं आत्मा तो चोला बदल लेती है आत्मा का ना तो जन्म होता है और ना ही मरण होता है जब जाना होता है तो सब चले जाते हैं दूध पीता बच्चा भी संसार से चला जाता है अपनी सोच को ठीक करें और मन के भय को दूर रखें सरकार के द्वारा जो निर्देश आपकेको दिए जा रहे हैं उसका पालन करना चाहिए संक्रमित लोगो के बारे में आप सोचो क्योंकि प्रकृति के आगे मनुष्य के हाथ बहुत छोटे होते हैं।

मुनि श्री ने कहा कि आचार्य ज्ञान सागर महाराज ने कहा था कि आत्मा मेरी है और शरीर राष्ट्र का है राष्ट्र का सम्मान करना है इसे आगे बढ़ाने का कार्य करना है अभी लोगों को बचाने के लिए कार्य करना चाहिए मंदिरों में जो भीड़ का दबाव सुबह चल रहा है वह कम होना चाहिए धर्म भाव से होता है और घर बैठकर भी भगवान से प्रार्थना करो कि सभी का मंगल हो त्यागी व्रतियों और जो प्रतिमाधारी है वह सब घर बैठकर धर्म ध्यान करें जरूरी नहीं कि मंदिर जाएं यह आपदा अचानक आई है यह आपदा अकेले आप पर नहीं पूरे विश्व में आई है तो आप लोगों के ऐसा लग रहा है कि जैसे धर्म छूट रहा है तो लोग घबरा रहे हैं धर्म हमारे अंदर की आस्था है घर में बैठकर भी आप टीवी पर अभिषेक शांतिधारा देखें और शांति जाप करें। मुनि श्री ने कहा ज्ञान तो सबके पास अनंत है बस अंतर इतना है कि आपकी फाइलें है बंद है और मेरी फाइलें फट से खुल जाती हैं इसे मेंटल फाइलिंग कहते हैं यह एक कला है जब मैं ध्यान में होता हूं तो अपने आप में होता हूं और जब आप के बीच में होता हूं तो आपके जैसा होता हूं। आशावादी बनो और मन में हताशा के भाव कभी मत लाओ एक प्रश्न के उत्तर में मुनि श्री ने कहा हार भी जाओ पर हिम्मत कभी नहीं हारना, बार-बार असफल होते हो तो यह सोचिए असफलता से कभी ना घबराए हमेशा आशावादी बनें मन में हताशा के भाव कभी नहीं लाना चाहिए उन्होंने अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति अब्राहिम लिंकन का उदाहरण देते हुए कहा उन्नीस चुनाव हारने के बाद सीधे अमेरिका के राष्ट्रपति चुने गए विफल व्यक्ति ही सफल होता धैर्य धीरज मन में रखना चाहिए आज नहीं तो कल हो जाएगा नकारात्मक सोच हो जाती है तो रात में भी लंबी लगने लगती हैं लेकिन सुबह तो होती ही है सकारात्मक सोच ना चाहिए जिससे उसका उत्साह बना रहता है अगर आत्मविश्वास भी नहीं खोना चाहिए क्योंकि कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना