अगले माह शुरू होगी ड्रग टेस्टिंग लैब

News - डीबी स्टार

Nov 11, 2019, 06:55 AM IST
डीबी स्टार
प्रदेश की पहली ड्रग टेस्टिंग लैब दिसंबर 2019 से चालू हो जाएगी। लैब के लिए एमपीपीएससी के जरिए दो साइंटिस्ट का सेलेक्शन हो चुका है। 19 मशीनों मेंे से 14 इंस्टॉल हो चुकी हैं। पांच का इंस्टाललेशन हो रहा है। कंपू स्थित आयुर्वेद कालेज परिसर में बनी लैब में आयुर्वेद, यूनानी व होम्योपैथी दवाओं का जांच होगी। इसके अलावा दवाओं के कम्पाउंड और जड़ी-बूटियां की जांच भी इन मशीनों से होगी। कॉलेज प्राचार्य ने लैब शुरू करने के लिए आयुष विभाग के अफसरों से उद्घाटन की डेट मांगी है।

ड्रग टेस्टिंग लैब के शुरू होने से ग्वालियर सहित प्रदेशभर की दवा कंपनियों के दवा सैंपलों की जांच यहां हो सकेगी। अभी आयुर्वेद दवाओं की गुणवत्ता की जांच के लिए सरकार को विभिन्न कंपनियों की दवाएं दूसरे राज्यों में जांच के लिए भेजना पड़ती थीं। ड्रग टेस्टिंग लैब का रेनोवेशन कार्य पूरा किया जा चुका है। बिजली फिटिंग से लेकर मशीनों की फिटिंग भी की जा चुकी है। मशीनों की जांच के लिए शासकीय फार्मेसी की दवाओं की टेस्टिंग भी की जा चुकी है।

मशीनों के लिए आए इंजीनियर

इस ड्रग टेस्टिंग लैब में कुल 19 मशीनें इंस्टॉल की जानी हैं। इनमें से 14 मशीनें इंस्टॉल की जा चुकी हैं, वहीं पांच मशीनें इंस्टाल होना बाकी हैं। इन मशीनों के लिए कंपनियों के इंजीनियर बुलाए जाने के लिए प्रक्रिया की जा चुकी है।

17 साल ऐसे चली प्रक्रिया

शासकीय आयुर्वेद कॉलेज में वर्ष 2003 में ड्रग टेस्टिंग लैब के प्रस्ताव को स्वीकृति मिली थी। वर्ष 2004 में भवन का निर्माण शुरू किया गया। ड्रग टेस्टिंग लैब के लिए 19 मशीनों की खरीद की गई। डीटीएल के लिए पांच पद रखे गए थे, लेकिन राज्य सरकार इन पदों को न तो स्वीकृत कर पाई और न ही इन पर भर्ती हो सकी। इस प्रक्रिया में वर्ष 2005 से लेकर 2018 तक का समय निकल गया, लेकिन कोई भी प्रक्रिया आगे नहीं बढ़ पाई थी। डीटीएल लैब के संचालन के लिए केंद्र सरकार द्वारा एक करोड़ का बजट दिया गया था, लेकिन इसके संचालन की जिम्मेदारी राज्य सरकार को दी गई थी। पदों पर भर्ती से लेकर मशीनों का संचालन राज्य सरकार को ही करना था। भर्ती न होने के कारण ये लैब इतने वर्षों में शुरू नहीं हो पाई थी।

लैब शुरू कर रहे हैं

 ड्रग टेस्टिंग लैब के लिए साइंटिस्ट व लैब टेक्नीशियन की भर्ती की जा चुकी है। कुछ मशीनों का इंस्टॉलेशन करा लिया गया है और कुछ का इंस्टॉलेशन जल्द ही करा दिया जाएगा। लैब के भवन का रेनोवेशन व बिजली फिटिंग के काम भी पूरे कराए जा चुके हैं। हम जल्द ही लैब को शुरू कर देंगे। डॉ. महेश शर्मा, प्राचार्य, शासकीय आयुर्वेद कॉलेज, ग्वालियर

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना