• Hindi News
  • Mp
  • Dhar
  • Dhar News mp news higher education department stops recognition of three bed colleges affiliated to davv 300 seats to be reduced

उच्च शिक्षा विभाग ने डीएवीवी से जुड़े तीन बीएड कॉलेजों की मान्यता रोकी, 300 सीटें होंगी कम

Dhar News - उच्च शिक्षा विभाग ने देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी से संबद्धता प्राप्त तीन बीएड कॉलेजों (इल्वा, क्रिश्चियन एजुकेशन...

Mar 27, 2020, 07:00 AM IST

उच्च शिक्षा विभाग ने देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी से संबद्धता प्राप्त तीन बीएड कॉलेजों (इल्वा, क्रिश्चियन एजुकेशन सोसायटी और यश एजुकेशन सोसायटी) की मान्यता रोक दी है। बाद में खामियां दूर करने का मौका दिया जा सकता है।

इंदौर संभाग में देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी से संबद्धता प्राप्त 65 कॉलेज हैं। इनमें इंदौर शहर के 31 हैं। यह बात भी सामने आई है कि इस बार कोरोना के चलते एडमिशन प्रक्रिया में देरी होगी। यह प्रक्रिया मई के अंत तक आगे बढ़ सकती है। पहले संभावना थी कि बीएड में इस बार अप्रैल में ही एडमिशन होंगे, लेकिन अब कोरोना के चलते यह प्रक्रिया 30 अप्रैल के बाद ही शुरू हो पाएगी। बीएड कोर्स की पूरे प्रदेश में 50 हजार से ज्यादा सीटें हैं।

इंदौर में 6600 सीटें, 26 फीसदी इजाफा संभव

इंदौर में बीएड के 31 कॉलेजों में 3200 सीटें हैं, जबकि पूरे संभाग में डीएवीवी से सम्बद्धता प्राप्त 65 कॉलेजों में 6600 सीटें हैं, अगर इन तीन कॉलेजों की मान्यता नहीं मिल पाती है तो 300 सीटें कम हो जाएंगी। इधर नए सत्र से बीएड में भी आर्थिक आधार पर 10 फीसदी आरक्षण लागू करने की तैयारी है। इसके तहत 26 फीसदी सीट बढ़ाई जा सकती हैं। इस बार शासन मेरिट आधार पर बीएड में सीधे एडमिशन की तैयारी कर रहा है। हालांकि अभी तक शासन ऑनलाइन एडमिशन प्रक्रिया के तहत मेरिट आधार पर सूची जारी करता था। इस बार भी अभी तैयारी उसी की है, लेकिन ज्यादा देरी हुई तो सीधे कॉलेज स्तर पर मेरिट आधार पर एडमिशन होंगे।

मेरिट आधार पर प्रवेश, सीट 50

केंद्र की इंचार्ज डॉ. माया इंगले के अनुसार इन कोर्स की अधिकतम सीटें 50-50 रहेंगी। एडमिशन मेरिट आधार पर होगा। खास बात यह है कि बीवोक में छात्र छह माह में पढाई छोड़ने पर सर्टिफिकेट, सालभर में डिप्लोमा और दो साल में पढ़ाई छोड़ने पर एडवांस डिप्लोमा पा सकते हैं। अब एमवोक और बीवोक के कोर्स बराबर संख्या में हो गए हैं।

अब पीएचडी की तैयारी

डॉ. इंगले के अनुसार अगले साल यानी 2021-22 के सत्र से यहां हम पीएचडी भी शुरू करेंगे। अभी जिन कोर्स में एमवोक शुरू होगा और जिनमें पहले से चल रहा है, सभी विषयों में पीएचडी शुरू होगी। हमारा प्रयास है हर छात्र को उसके संपूर्ण करियर के मुताबिक यहां हर संभव मदद भी मिल सके। यूजीसी लगातार इसके लिए फंड भी दे रहा है।

कौशल विकास केंद्र में इस साल दो नए एमवोक कोर्स शुरू होंगे, डिप्लोमा कोर्स एडवांस होगा

भास्कर संवाददाता | इंदौर

देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी के कौशल विकास केंद्र में इस नए सत्र से छात्रों के लिए दो नए एमवोक कोर्स शुरू होंगे, जबकि एक डिप्लोमा कोर्स को पहले एडवांस डिप्लोमा और फिर अगले साल बीवोक में तब्दील किया जाएगा।

दरअसल, यूजीसी के फंड से संचालित इस केंद्र में सत्र 2020- 21 से न्यूट्रिशन एंड डाइटेटिक्स तथा लैंड्स्कैप एंड डिज़ाइन दोनों विषय में एमवोक कोर्स शुरू होगा। वहीं हैंडीक्राफ्ट विषय में पिछले साल छात्र नहीं मिलने कारण बंद हुए बीवोक कोर्स को भी दोबारा शुरू किया जाएगा। इसके अलावा डिप्लोमा इन लॉजिस्टिक एंड सप्लाय (कार्गो मैनेजमेंट) को पहले एडवांस डिप्लोमा और फिर बीवोक में बदला जाएगा। फिलहाल, डीएवीवी के इस केंद्र में बीवोक इन न्यूट्रिशन एंड डाइटेटिक्स , लैंड्स्कैप डिज़ाइन कोर्स चल रहा है, जबकि इंटीरियर डिजाइन इन एमवोक चल रहा है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना