• Hindi News
  • Mp
  • Indore
  • News
  • Indore News mp news in order to complete the tunnel work quickly excavation started at some distance from sanjay reservoir

टनल का काम जल्दी पूरा करने के लिए संजय जलाशय से कुछ दूरी पर खुदाई शुरू

News - भास्कर संवाददाता | इंदौर/पीथमपुर रेलवे सुरंग का कार्य अभी तक पीथमपुर में धार की ओर के हिस्से में किया जा रहा था।...

Nov 11, 2019, 08:25 AM IST
भास्कर संवाददाता | इंदौर/पीथमपुर

रेलवे सुरंग का कार्य अभी तक पीथमपुर में धार की ओर के हिस्से में किया जा रहा था। लेकिन अब सुरंग के टीही तरफ के हिस्से में भी जलभराव समाप्त होने की स्थिति में प्रारंभ हो गया है। रेलवे सुरंग के बीचोंबीच में संजय जलाशय के पास एक बड़ा 18 से 20 मीटर गहरा गड्ढा खोद दिया गया है ताकि सुरंग खुदाई का कार्य इस गड्ढे के दाएं-बाएं भी चालू किया जा सके। इस प्रकार चार जगह से चार जेसीबी मशीन एवं ब्लॉस्ट कर सुरंग का कार्य तेज गति से प्रारंभ हो गया है। जिसे अगली बारिश के पहले ही समाप्त करने का लक्ष्य है, लेकिन यदि विलंब हुआ तो अगले वर्ष दिसंबर तक सुरंग को पूरी तरह से दोनों तरफ से खोल दी जाएगी।

जनवरी में एक टीम और मिल जाएगी

रेलवे अधिकारियों के अनुसार फातेहाबाद-उज्जैन के बीच रेलवे ट्रैक पर छोटी लाइन को बड़ी बनाने का कार्य चल रहा है। संभवत जनवरी 2020 तक पूरा हो जाएगा। उसके बाद वहां की रेलवे टीम भी सभी उपकरणों के साथ सुरंग के कार्यों को पूरा करने के लिए लगाई जाएगी।

इस तरह से हो रहा है खुदाई कार्य

रेलवे कार्य के तकनीकी विशेषज्ञों के अनुसार पीथमपुर में भूमिगत सुरंग बनाने के कार्य में सबसे पहले चट्‌टानों में ब्लॉस्ट किया जाता है। मलबा हटाने के बाद जेसीबी मशीन द्वारा सुरंग की कटाई की जाती है और कदम-कदम पर लेवल और दिशा का मिलान दूरबीन से किया जाता है ताकि सुरंग की दीवारों का अलाइमेंट एक निश्चित दिशा में नक्शे के अनुरूप हो सके। नहीं तो सुरंग दिशा भटकने का अंदेशा रहता है।

18 मीटर गहरा गड्ढा खोदा जा रहा है

रेलवे के टनल कार्य के चीफ इंजीनियर मनीष मलिक ने रेल लाओ समिति के पूर्व संयोजक डॉ. दीपक नाहर को बताया कि संजय जलाशय से कुछ दूरी पर सुरंग मार्ग पर जमीन से 18 मीटर गहरा गड्ढा खोद दिया गया है। जहां पर गड्ढा खोदा गया है वहां सुरंग के आगे टीही की ओर और सुरंग के पीछे पीथमपुर की ओर दो नई दिशाओं से सुरंग खुदाई और ब्लास्टिंग का कार्य शुरू हो जाएगा। मलिक का कहना है कि जिस गति से कार्य किया जा रहा है उससे इस कार्य को हम संभवत: दिसंबर 2020 तक पूरा कर लेंगे।

टनल मार्ग के बीचोबीच खोदा जा रहा है गड्ढा।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना