पिछले 6 साल में राजगढ़ से सबसे अधिक 514 और भोपाल से 198 युवाओं का हुआ सेना के लिए चयन

News - सेना भर्ती रैली का आयोजन भोपाल में पांच साल बाद हो रहा है। भोपाल एआरओ में 9 जिले आते हैं। इन जिलों से रैली में इस साल 45...

Bhaskar News Network

Nov 11, 2019, 06:46 AM IST
Bhopal News - mp news in the last 6 years maximum 514 youths were selected from rajgarh and 198 from bhopal
सेना भर्ती रैली का आयोजन भोपाल में पांच साल बाद हो रहा है। भोपाल एआरओ में 9 जिले आते हैं। इन जिलों से रैली में इस साल 45 हजार उम्मीदवार शामिल हो रहे हैं। इससे पहले यह रैली 2013 में हुई थी। पिछले 6 सालों की बात करें तो रैली के माध्यम से सबसे ज्यादा राजगढ़ जिले के युवाओं का चयन हुआ है। वहीं, सबसे कम जवान हरदा से मिले हैं। भोपाल छठवें स्थान पर है। हालांकि, औसतन रूप में सफल उम्मीदवार देने वाले जिलों में बैतूल आता है। बैतूल से शामिल उम्मीदवारों में से सफल होने वाले उम्मीदवारों का औसत 2.02 % रहा, जबकि सीहोर से 1.9% और राजगढ़ से 1.8% उम्मीदवार सफल होकर सोल्जर बन सकंे। भोपाल का अाैसत 1.3 % है। सेना में भर्ती होने के लिए युवाओं को कड़ी मेहनत करनी होती है। इसके बाद ही चयन संभव हो पाता है। यही कारण है कि रैली में शामिल होने वाले उम्मीदवारों की संख्या में से चयनित उम्मीदवारों की संख्या बहुत कम रह जाती है। चयनित उम्मीदवारों की संख्या के मामले में टॉप तीन जिलों की बात करें तो राजगढ़ के बाद दूसरे स्थान पर सीहोर और तीसरे स्थान पर बैतूल है। इस साल भोपाल के लाल परेड ग्राउंड पर सेना भर्ती रैली का आयोजन किया जा रहा है। यह रैली 7 से शुरू हुई है, जो 16 नवंबर तक चलेगी।

इस बार की रैली में अब तक सामने आ चुके हैं 5 फर्जी दस्तावेजों के प्रकरण

लाल परेड ग्राउंड... पांच साल बाद हो रहा सेना भर्ती रैली का आयोजन, पहली बार उम्मीदवारों की अंक सूची का मौके पर वेरिफिकेशन

विदिशा रैली में पकड़े गए थे 238 फर्जी दस्तावेज प्रकरण

पिछले साल विदिशा रैली में करीब 238 ऐसे प्रकरण सामने आए थे, जिनमें उम्मीदवारों ने मार्कशीट, जाति प्रमाण-पत्र व मूल निवासी भी फर्जी लगाए थे। लाल परेड मैदान में आयोजित इस रैली में भी अब तक ऐसे 5 प्रकरण सामने आ चुके हैं। बताया गया कि हुजूर तहसील इलाके में कंप्यूटराइज्ड तरीके से स्कैनिंग के माध्यम से यह काम अधिक हो रहा है।

छह साल में यह रही स्थिति

जिला उम्मीदवार चयन प्रतिशत

राजगढ़ 27634 514 1.8%

सीहोर 25717 495 1.9%

बैतूल 21777 449 2.02%

छिंदवाड़ा 26000 403 1.5%

होशंगाबाद 25534 300 1.1%

भोपाल 14144 198 1.3%

विदिशा 10980 142 1.3%

रायसेन 9220 91 0.9%

हरदा 4726 22 0.4%

(वर्ष 2013-14 से 2018-19 तक की स्थिति)

ऑन स्टॉप वेरिफिकेशन...सेना द्वारा रैली के माध्यम से की जाने वाली भर्ती की प्रक्रिया को लगातार सख्त बनाया जा रहा है। इसमें उम्मीदवार के दस्तावेजों का ऑन स्पॉट वेरिफिकेशन हो रहा है। इसके लिए मप्र माशिमं ने निशुल्क रूप से यूजर आईडी व पासवर्ड उपलब्ध कराया है। इसके कारण उम्मीदवारों की 10वीं और 12वीं की अंक सूची का मौके पर ही वेरिफिकेशन हो रहा है। ऐसा पहली बार भोपाल रैली में किया जा रहा है।

एनसीसी कैडेट्स की परफॉर्मेंस

वर्ष उम्मीदवार सफल औसत

2018-19 149 48 32%

2017-18 129 52 40%

2016-17 156 52 33%

2015-16 106 47 44%

2014-15 188 92 49%

2013-14 161 54 34%

कब-कहां हुईं रैली... 2013-भोपाल, 2014-बैतूल, 2015-सीहोर, 2016-बैतूल, 2017-सीहाेर, 2018-विदिशा।

भोपाल एआरओ में 9 जिले, इस साल 45 हजार युवा शामिल

हो रहा बायोमेट्रिक परीक्षण

रैली में होने वाले फिजिकल टेस्ट व मेडिकल गतिविधि में शामिल करने से पहले उम्मीदवार का बॉयोमेट्रिक परीक्षण किया जाता है। उम्मीदवारों का कद मापने और दौड़ लगवाने के बाद बॉयोमेट्रिक इंप्रेशन लिए जाते हैं। वीडियो भी बनाया जाता है। इसमें उम्मीदवार को अपना व पिता का नाम बताना होता है। वहीं चेहरे की पहचान करने वाली मशीन का भी उपयोग किया जा रहा है।

फोकस होकर तैयारी करें युवा


X
Bhopal News - mp news in the last 6 years maximum 514 youths were selected from rajgarh and 198 from bhopal
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना