बीएड, एमएड और डीएलएड में 26% सीटें बढ़ाएं, ताकि लागू हो आर्थिक आधार पर 10% आरक्षण

News - कुलाधिपति और प्रदेश सरकार को ईसी के पूर्व सदस्य ने लिखा पत्र इंदौर सहित प्रदेशभर में बीएड, एमएड और डीएलएड...

Feb 15, 2020, 07:41 AM IST

{कुलाधिपति और प्रदेश सरकार को ईसी के पूर्व सदस्य ने लिखा पत्र

इंदौर सहित प्रदेशभर में बीएड, एमएड और डीएलएड कोर्स में 10 फीसदी आर्थिक आरक्षण लागू करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है, लेकिन 26 फीसदी सीटों की बढ़ोतरी पर अब तक निर्णय नहीं हो पाया है। सीटों में बढ़ोतरी और 2020-21 सत्र से ही आर्थिक आधार पर 10 फीसदी आरक्षण की मांग कार्यपरिषद के पूर्व सदस्य केके तिवारी ने की है। उन्होंने कुलाधिपति और सरकार को पत्र लिखकर कहा है कि बीएड-एमएड और डीएलएड में सीटों की संख्या 100-100 है। केंद्र और प्रदेश सरकार की तरफ से हर कोर्स में 10 फीसदी कोटा आर्थिक आधार पर लागू किया गया है। इसे पिछले सत्र में देरी और तकनीकी कारणों से लागू नहीं किया जा सका था। इसी कारण इस बार समय पर प्रक्रिया शुरू कर सीटें बढ़ाई जाना चाहिए, ताकि यह आरक्षण लागू किया जा सके। माना जा रहा है कि शासन अगले माह इस पर औपचारिक आदेश जारी कर देगा।

26 फीसदी सीटें बढ़ीं तो इंदौर में बीएड की 1690 सीटें और बढ़ेंगी

इंदौर में देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी से जुड़े हुए 65 बीएड कॉलेज हैं। इनमें 6600 सीटें हैं, अगर 26 फीसदी सीटें बढ़ती हैं तो इन कॉलेजों में कुल 1690 सीटें बढ़ जाएंगी। एमएड में फिलहाल 12 कॉलेजों में 300 के आसपास सीटें हैं, अगर सीटें बढ़ती हैं तो यह संख्या पौने चार सौ के पार पहुंच जाएगी। बीएड कॉलेजों के एसोसिएशन के अवधेश दवे, गिरधर नागर का कहना है कि हम सीटें बढ़ाने के लिए तैयार हैं। ज्यादातर कॉलेज सुविधाएं और फैकल्टी भी बढ़ाएंगे, ताकि पढ़ाई में किसी तरह की दिक्कतें नहीं आए।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना