• Hindi News
  • Mp
  • Sagar
  • Sagar News mp news jalandhar mother jwala mai is sitting in the posture of padmasana on 7 flame

जलंधर : 7 ज्वालाओं पर पद्मासन की मुद्रा में विराजमान हैं मां ज्वाला माई

Sagar News - नवरात्र का तीसरा दिन श हर से करीब 26 किलोमीटर दूरी पर जलंधर गांव में विराजमान हैं मां ज्वाला माई। यहां पहाड़ी...

Mar 27, 2020, 08:22 AM IST
Sagar News - mp news jalandhar mother jwala mai is sitting in the posture of padmasana on 7 flame

नवरात्र का तीसरा दिन

श हर से करीब 26 किलोमीटर दूरी पर जलंधर गांव में विराजमान हैं मां ज्वाला माई। यहां पहाड़ी पर जो मां का मंदिर है, उसमें 7 ज्वालाओं पर पद्मासन पर में मां ज्वालामाई विराजमान हैं। मां की जिव्हा उदर तक गई है। मान्यता है कि यहां पर भी एक मुख है। मां हाथ में अमृत कलश लिए हुए हैं। करीब एक हजार साल पुरानी पाषाण पत्थर की प्रतिमा यहां पर स्थापित है। मां के दोनों तरफ सिंह विराजमान है। जलंधर के मंदिर और ज्वालादेवी का उल्लेख गीता प्रेस गोरखपुर की कल्याण में भी उल्लेख मिलता है। जरुआखेड़ा से सीधा जलंधर पहुंचा जा सकता है। पहले यहां तक पहुंचने गांव से दुर्गम रास्ता था, अब मंदिर तक ही सीसी रोड बन चुका है।

किवदंती और मान्यता : स्थानीय लोग बताते हैं कि ऐसी मान्यता और किवदंती है कि यहां पर जो मां ज्वाला माई विराजमान हैं, उन्होंने राक्षस रक्तबीज का वध किया था। राक्षस रक्तबीज काे वरदान था कि उसके रक्त की जितनी भी बूंदें गिरेंगी उतने ही रक्तबीज पैदा होंगे। मां ज्वाला माई ने अपनी जिव्हा को पेट तक बढ़ा कर लिया और रक्तबीज पर प्रहार करते हुए उसके शरीर से गिरने वाली रक्त को वे पी गईं। इस प्रकार उन्होंने रक्तबीज का वध किया। इसीलिए यह भी माना जाता है कि मां का एक मुंह पेट में भी है। इसीलिए उन्हें उदर मुखी बाेला जाता है।

Sagar News - mp news jalandhar mother jwala mai is sitting in the posture of padmasana on 7 flame
X
Sagar News - mp news jalandhar mother jwala mai is sitting in the posture of padmasana on 7 flame
Sagar News - mp news jalandhar mother jwala mai is sitting in the posture of padmasana on 7 flame

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना