तिल-तिल जोड़कर लड्‌डू बनाना हमारी संस्कृति - मित्तल

News - हिन्दू संस्कृति जोड़ने की संस्कृति है, हम तिल-तिल को मिलाकर लड्डू का बड़ा आकार बनाने में विश्वास रखते हैं।...

Jan 16, 2020, 08:15 AM IST
Khandwa News - mp news making sesame seeds and sesame seeds our culture mittal
हिन्दू संस्कृति जोड़ने की संस्कृति है, हम तिल-तिल को मिलाकर लड्डू का बड़ा आकार बनाने में विश्वास रखते हैं। पाश्चात्य संस्कृति बड़े से केक को काटकर छोटे-छोटे टुकड़ों में खंडित करने की रही है। भारतीय संस्कृति हमें प्रकृति से जोड़ती है और यदि कोई प्राकृतिक रूप से हमारी जन्म देने वाली मां के बराबर है तो वह गाय है। यह बात चिकित्सा विज्ञान ने भी स्वीकारी है कि बच्चे को यदि उसकी मां का दूध नहीं मिल पाए तो उसे गाय का दूध ही पिलाना चाहिए। देशी गाय के दूध एवं गौमूत्र में स्वर्ण तत्व होता है। श्रीगणेश गाेशाला में आयोजित मकर संक्रांति पर्व एवं हल्दी-कुमकुम कार्यक्रम में अध्यक्ष ओम मित्तल ने यह बात कही। मकर संक्रांति पूजा अर्चना के पश्चात मंदिरों के बाहर गोमाता की पूजा कर हरा चना खिलाया। महिलाअाें ने एक-दूसरे को हल्दी कुमकुम लगाकर सुहाग सामग्री के साथ तिल के लाडू भेंट किए।

गाे माता की पूजा कर हरा चना खिलाया

श्री गणेश गाेशाला में भी महिलाओं ने गोमाता की पूजा अर्चना की एवं हरा चारा और हरे चने, तिल के लड्डू भी गौमाता को खिलाए। गाेशाला के अध्यक्ष ओम मित्तल, सचिव रामचंद्र मौर्य सहित पदाधिकारियों ने भी गोमाता की पूजा की। गौशाला की ओर से समस्त मातृशक्ति को सुहाग सामग्री हल्दी-कुमकुम लगाकर भेंट की गई। तिल-गुड़ के लड्डु के साथ खिचड़ी प्रसाद का अल्पाहार भी करवाया गया। कार्यक्रम में भूपेंद्र सिंह चौहान, आशीष चटकेले, सुनील जैन, गौतम पटेल, अरुण जैन, सुनील बंसल, किरण पटेल, पंकज अग्रवाल, राकेश मालवीया, कविता जायसवाल, महेश पटेल, शोभा तोमर, निहारिका बंसल, संध्या गंधे, संगीता संचेती, सरला वोरा, अमिता गौर, योगिता माहेश्वरी सहित बड़ी संख्या में मातृशक्ति उपस्थित थीं।

तिल गुड घ्या आणि गोड गोड बोला कहते हुए लाडू बांटे

समाजसेवी सुनील जैन ने बताया शहर के प्राचीन विट्ठल मंदिर और बजरंग चौक पर मुनिबाबा व बजरंग मंदिर में भी सुबह से ही बड़ी संख्या में महिलाओं ने पूजा अर्चना की। विट्ठल मंदिर में महाराष्ट्रीय महिलाओं की काफी भीड़ रही। महिलाओं ने तिल गुड घ्या आणि गोड गोड बोला कहते हुए एक-दूसरे को हल्दी-कुमकुम लगाकर तिल के लाडू खिलाकर सुहाग सामग्री भेंट की।

गणेश गोशाला में गाय को चार खिलाती महिलाएं।

X
Khandwa News - mp news making sesame seeds and sesame seeds our culture mittal
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना