• Hindi News
  • Mp
  • Khargon
  • KASRAWAD News mp news more than 100 cold cough patients arrived in opd 1 m standing in the circle at a distance of waiting for the turn

ओपीडी में पहुंचे 100 से ज्यादा सर्दी-खांसी के मरीज, 1 मी. की दूरी पर घेरे में खड़े रह बारी का इंतजार किया

Khargon News - कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव से सर्दी-खांसी से पीड़ित लोग भयभीत है। यह जांच व उपचार के लिए अस्पताल पहुंच रहे हैं।...

Mar 27, 2020, 07:45 AM IST

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव से सर्दी-खांसी से पीड़ित लोग भयभीत है। यह जांच व उपचार के लिए अस्पताल पहुंच रहे हैं। अस्पताल की ओपीडी में गुरुवार को पहुंचे 400 से ज्यादा लोगों में सर्दी-खांसी के पीड़ित करीब 100 लोग शामिल थे। अस्पताल प्रबंधन ने इन्हें संक्रमण से बचाने के लिए एक मीटर की दूरी पर गोल घेरे बनाए। इन घेरों में खड़े रहकर पीड़ित महिला, पुरुष व बच्चों ने खड़े रहकर अपनी बारी का इंतजार किया व उपचार लिया।

कई लोग निजी अस्पताल भी पहुंच रहे हैं। अस्पताल कर्मचारियों के अनुसार सभी मरीजों का इलाज जारी है लेकिन कुछ लोग कोई तकलीफ नहीं होने के बाद भी अकारण भीड़ कर रहे हैं। इससे चिकित्सकों को इलाज करने में असुविधा हो रही है। जहां तक संभव हो अस्पताल में कम ही मरीजों का आना चाहिए। साधारण समस्याओं को लेकर मोबाइल पर भी मेडिसिन लिखी जा सकती हैं। भीड़ अधिक होने पर अन्य मरीजों की परेशानी भी बढ़ रही है। फिलहाल मरीजों की बढ़ती भीड़ को देख महिला व पुरुषों के अलग-अलग परिसर में खड़े रहने की व्यवस्था की गई है। यहां एक पुलिस जवान की व्यवस्था भी की है।

विभाग में मास्क व सैनिटाइजर नहीं

अस्पताल के अनुसार महाराष्ट्र व अन्य प्रदेशों में मजदूरी कर लौटे लोगों की सुरक्षा बेहद जरूरी है, क्योंकि यह लंबे समय से बाहर होने से संक्रमित हो सकते हैं। अस्पताल में डॉक्टरों के साथ मरीजों को मिलने वाली सामग्री की कमी है। कर्मचारियों के मुताबिक विभाग में मास्क व सैनिटराइजर नहीं दिया गया है। इसके बावजूद कर्मचारी अपनी सेवाएं दे रहे हैं।



इधर... मुख्य मार्ग पर पुलिस ने दिखाई सख्ती, नावड़ातौड़ी में कांटे बिछाकर बंद की सड़क

ये सुकून की बात... महिला व पुरुषों के अलग-अलग खड़े रहने की व्यवस्था

बेवजह घरों से निकले लोगों से उठक-बैठक लगवाई।

मेडिकल संचालक भी सतर्क

संक्रमण से खुद को बचाने के लिए मेडिकल व किराना दुकान संचालकों ने भी गोलाई आकार के घेरे बनाए हैं। कुछ ने दुकान के सामने 1 मीटर के पटिए लगाकर सुरक्षा की है। कुछ स्थानों पर प्लास्टिक के फ्रेम टांग ली है। हालांकि किराणा सामान नहीं मिलने से लोग परेशान है। कुछ लोग सुबह दुकानों के चक्कर लगाते नजर आए।

कसरावद | लॉकडाउन के दौरान जय स्तंभ चौराहे पर सुबह के समय पुलिस ने कुछ देर सख्ती दिखाई। सुबह 11 बजे मुख्य सड़क पर दो व चार पहिया वाहनों को रोका। बेवजह घूमने पर बाइक सवारों से उठक-बैठक लगवाई। आधे घंटे के बाद फिर वही स्थिति बन गई। वार्ड 1, 2, 3, 4, 5 व 6 में ओटलों पर बैठकर लोग बतियाते नजर आए। ग्राम दोगावां में कुछ लोगों ने दुकानें भी खोल रखी। नावड़ातौड़ी में बाहर से आने वाले लोगों को ग्रामीणों ने रोका। मुख्य सड़क मार्ग पर कांटे बिछा दिए। बली केवट व संतोष केवट ने कहा- गुरुवार को 2 व 4 पहिया वाहनों से महाराष्ट्र के श्रद्धालु नर्मदा स्नान करने आए थे। पूछताछ के बाद इन्हें लौटा दिया। कांटे बिछाकर सड़क बंद कर दी। पुलिस को भी इस संबंध में जानकारी दी।

अलाव से लेमिनेशन : विद्युत वितरण कंपनी के कर्मचारी के पहचान पत्र बनाए गए। लेमिनेशन की व्यवस्था नहीं होने पर इन्होंने जुगाड़ लगाई। प्लास्टिक के भीतर परिचय पत्र को रखा और अलाव जलाकर इसे लेमिनेशन जैसा बंद कर लिया।

अस्पताल परिसर में घेरा बनाकर मरीजों के बीच दूरी बनाई।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना