• Hindi News
  • Mp
  • Dewas
  • Double Chowki News mp news no vehicle found in indaar 4 youths walk to village 130 km away

इंदाैर में नहीं मिला वाहन, 130 किमी दूर गांव के लिए पैदल निकले 4 युवक

Dewas News - प्रदेश के अन्य जिले के साथ ही देवास जिले के भी कई लाेग इंदाैर में काम करते हैं। कई लाेग अपने परिवार सहित किराए से...

Mar 27, 2020, 07:02 AM IST
Double Chowki News - mp news no vehicle found in indaar 4 youths walk to village 130 km away

प्रदेश के अन्य जिले के साथ ही देवास जिले के भी कई लाेग इंदाैर में काम करते हैं। कई लाेग अपने परिवार सहित किराए से भी रहते हैं, लेकिन काेराेना वायरस के चलते किए गए लाॅकडाउन अाैर काेराेना संक्रमित लाेगाें के मिलने के बाद पुलिस प्रशासन ने कर्फ्यू इंदाैर में लगा दिया है। चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात है। लाेगाें काे घराें से बाहर नहीं निकलने दिया जा रहा है। एेसे में देवास जिले के कई लाेग अब अपने घर लाैटना चाहते हैं, लेकिन कर्फ्यू के चलते पुलिस उन्हें घर से बाहर नहीं निकलने दे रही है।

हालांकि फिर भी कई लाेग देर रात पुलिस से बचते-बचाते अपने घर लाैट रहे हैं। लेकिन वाहन बंद हाेने से कई लाेग अपनी बाइक ताे कई साइकिल से कुछ ताे पैदल ही अपने घर लाैट रहे हैं।

इंदौर में अलग-अलग क्षेत्र में काम करने वाले लोग का अपने घरों की ओर लौटने का क्रम दाे दिन से लगातार जारी है। वाहन नहीं मिलने एक बाइक पर तीन से चार लाेग बैठकर घर की अाेर रवाना हाे रहे हैं। इनमें कई परिवार वाले भी शामिल हैं, जाे अपनी प|ी अाैर बच्चाें के साथ घर लाैट रहे हैं। भास्कर संवाददाता पिछले दाे दिनाें से देख रहे हैं कि बड़ी संख्या में लाेग रात 12 से सुबह 7 बजे तक इंदाैर-बैतूल राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित चापड़ा चाैराहे से गुजर रहे हैं। इसी दाैरान गुरुवार सुबह करीब 5 बजे चार युवक पैदल चापड़ा पहुंचे। चाैराहे पर माैजूद भास्कर संवाददाता ने उनसे पूछा कि अाप कहां से अा रहे हैं ताे वे बाेले कि हम इंदाैर में पढ़ाई करते हैं। इंदाैर में कर्फ्यू लगने से अपने गांव धांसड़ तहसील सतवास लाैट रहे हैं।

इंदाैर से राजगढ़
के लिए निकले


कहानी-1

चापड़ा चाैराहे पर खड़े इंदाैर से पैदल अाए धांसड़ के चाराें युवक।

50 किमी पैदल चलने से पैराें में पड़ गए छाले

इंदाैर से पैदल अपने गांव धांसड़ लाैटने वाले चाराें युवाअाें ने बताया कि दिन में तो कर्फ्यू के कारण पुलिस हमें निकलने नहीं दे रही थी। रात में जैसे-तैसे बचते-बचाते अपने गांव की ओर जा रहे हैं। हमारा गांव इंदौर से 130 किलोमीटर है। अभी तो हम 50 किलोमीटर ही आए हैं। रास्ते में कई लोगों से हमने लिफ्ट भी मांगी, लेकिन किसी ने भी लिफ्ट नहीं दी। इतनी लंबी दूर पैदल चलते से हमारे पैरों में छाले पड़ चुके हैं। इंदाैर से चापड़ा तक रास्ते में हमें एक भी दुकान चालू नहीं मिली। यहां तक की हमें चाय भी नसीब नहीं हुई। बड़ी परेशानी से हम यहां तक पहुंचे हैं।

कहानी-2

साइकिल से ही निकल पड़े अपने गांव की अाेर

नेमावर के पास के रहने वाले दो युवक इंदौर से एक साइकिल पर ही अपने गांव की ओर निकले पड़े। लेकिन डबलचौकी के पास साइकिल पंक्चर हाे गई ताे वहीं से साइकिल काे लेकर पैदल अा रहे हैं। इसी तरह सुबह 6 बजे भी कुछ युवक इंदाैर से पैदल नसरूल्लागंज की अाेर जा रहे थे। चापड़ा के कुछ लोगों ने उन्हें अपने घरों से चाय
लाकर पिलाई और नाश्ते में बिस्किट दिए।

इंदौर में गुरुवार सुबह 7 बजे बस स्टैंड पर सारंगपुर राजगढ़ के श्रमिक अर्जुन भिलाला और मित्र अर्जन भिलाला को कोई साधन नहीं मिला तो वे पैदल ही चल दिए। दोपहर में देवास पहुंचे। अर्जुन ने बताया हम दोनों पैदल जा रहे हैं। रास्ते में पुलिस पूछती है तो बता देते हैं। पैदल राजगढ़ जा रहे है। इंदौर एक कंपनी में काम करते हैं।

X
Double Chowki News - mp news no vehicle found in indaar 4 youths walk to village 130 km away

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना