अल्पसंख्यक कॉलेजों में इस बार भी ऑफलाइन प्रवेश

News - इंदौर सहित प्रदेशभर के अल्पसंख्यक दर्जा प्राप्त कॉलेजों में इस बार भी एडमिशन ऑफलाइन ही होंगे, लेकिन कॉलेजों को...

Feb 15, 2020, 07:45 AM IST

इंदौर सहित प्रदेशभर के अल्पसंख्यक दर्जा प्राप्त कॉलेजों में इस बार भी एडमिशन ऑफलाइन ही होंगे, लेकिन कॉलेजों को उतने ही समय एडमिशन देने की छूट रहेगी, जितने समय तक ऑनलाइन एडमिशन की प्रक्रिया चलेगी। जिस दिन ऑनलाइन एडमिशन के रजिस्ट्रेशन शुरू होंगे, उसी दौरान अल्पसंख्यक कॉलेजों में प्रवेश शुरू होंगे। इन कॉलेजों को भी 45 दिन का ही समय दिया जाएगा। इधर, कॉलेजों में ऑनलाइन एडमिशन के लिए शासन ने 45 दिन की समय-सीमा तय कर दी है और नई गाइड लाइन भी तय की जा रही है। 12 वीं का रिजल्ट आने के बाद ही एडमिशन प्रक्रिया शुरू होगी।

इंदौर में 3 और कॉलेजों को अल्पसंख्यक का दर्जा मिलेगा

पिछली बार की तरह इस बार भी अल्पसंख्यक कॉलेजों को बाकायदा एडमिशन की पूरी सूची शासन के पोर्टल पर अपलोड करना होगी। यह बात भी सामने आई है कि इस बार अल्पसंख्यक कॉलेजों की संख्या बढ़ेगी। इंदौर में ही तीन नए कॉलेजों को यह दर्जा मिल सकता है। फिलहाल 37 कॉलेजों के पास अल्पसंख्यक का दर्जा है, जबकि 65 से ज्यादा कॉलेज ऑनलाइन एडमिशन प्रक्रिया का हिस्सा हैं।

10 से ज्यादा कोर्स शुरू होंगे, एक यूनिवर्सिटी को भी मान्यता

इस बार एडमिशन से पहले दो सरकारी कॉलेजों सहित आठ कॉलेजों में दस नए कोर्स शुरू किए जाएंगे। 31 मार्च के बाद उच्च शिक्षा विभाग कभी भी इनकी एनओसी जारी कर देगा। उसके बाद एक नई यूनिवर्सिटी को भी मान्यता देने की चर्चा चल रही है।

पीजी कोर्स की संख्या भी बढ़ेगी

गवर्नमेंट राऊ कॉलेज की प्राचार्य डॉ. सुधा सिलावट के अनुसार हमने पीजी के कुछ कोर्स मांगे हैं। उम्मीद है कि एमए और एमकॉम को अनुमति मिल सकती है। होलकर साइंस सहित अन्य कॉलेजों को भी पीजी में कम से कम एक-एक स्पेशलाइजेशन की अनुमति मिलने की संभावना है।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना