पचरंगों मालवी ग्रुप ने मालवी दिवस मनाया, सुनाई कविता

News - सिटी रिपोर्टर | गुड़ी पड़वा पर पचरंगों मालवी ग्रुप ने मालवी दिवस मनाया। कर्फ्यू के दौरान ऑनलाइन हुए कार्यक्रम में...

Mar 27, 2020, 07:26 AM IST

सिटी रिपोर्टर | गुड़ी पड़वा पर पचरंगों मालवी ग्रुप ने मालवी दिवस मनाया। कर्फ्यू के दौरान ऑनलाइन हुए कार्यक्रम में मालवी कवि राजेश भंडारी ने कविता ‘भाषा अपनी बोलिए जो चाहे सम्मान’ और ‘मालवी बोले लोग तो मालवा को है मान’ से की। हेमलता शर्मा ने रचना ‘आवो अपन करना का बिच नवो बरस मनावा, घरे री सब करोना के भगाव’ सुनाई। द्रोणाचार्य दुबे ने ‘घरे से तू मत निकल’ और ‘आतंकी उन्दरा के म्हने मारने को मन बनायो’ सुनाकर माहाैल बनाया। धीरेन्द्र कुमार जोशी ने रचना ‘हूं तो दूसरा को बोझ उठाने में री गयो’ सुनाई। सुषमा दुबे ने ‘धरती से तो सरग ज भलो’ सुनाकर दाद बटाेरी। राधेश्याम गोयल ने रचना बुड़ापो एसो बेरी आयो और कवि वेद हिमांशु ने कविता ‘या बात सच्ची है के कविता से तम रोटी नि पाव्गा’ सुनाई।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना