सरकारी अस्पताल की दवाइयां गांवों में ले जाकर चपरासी करता है इलाज, रु. भी लेता है

Badwani News - तहसीलदार को आवेदन देते जयस कार्यकर्ता। जांच की मांग : नियमानुसार नहीं की गई भर्ती चपरासी संविदा कर्मचारी...

Dec 04, 2019, 09:55 AM IST
तहसीलदार को आवेदन देते जयस कार्यकर्ता।

जांच की मांग : नियमानुसार नहीं की गई भर्ती

चपरासी संविदा कर्मचारी है। अनुसूचित जन जाति की सीट पर इसे नियुक्ति दी गई। जो नियमानुसार फर्जी है। न ही इस पद के लिए नियुक्ति संबंधित प्रकाशन हुआ। न ही किसी समाचार पत्र में विज्ञप्ति जारी हुई। इसकी जांच की जाए। झोलाछाप डॉक्टरों की भी डिग्री की जांच की जाए। नगर में जगह-जगह ऐसे डॉक्टरों ने क्लीनिक खोल रखी हैं। इनके यहां इलाज कराने से दो लोगों की मौत भी हो चुकी है।

वरिष्ठ अधिकारी के निर्देशानुसार करेंगे कार्रवाई


जयस ब्लॉक इकाई ने तहसीलदार को सीएम व कलेक्टर के नाम आवेदन देकर की शिकायत, कार्रवाई की मांग की

भास्कर संवाददाता | निवाली

जयस की ब्लॉक इकाई के सदस्यों ने तहसीलदार जेपी सौर को सीएम व कलेक्टर के नाम आवेदन देकर शासकीय अस्पताल के चपरासी की शिकायत की। इसमें बताया कि चपरासी संतोष राठौर के माध्यम से शासकीय अस्पताल की दवाइयों से ग्रामीण क्षेत्र में प्राइवेट प्रेक्टिस की जा रही है। आवेदन देकर जयस सदस्यों ने इसका विरोध कर चपरासी पर कार्रवाई करने की मांग की।

ज्ञापन में बताया कि शासन के माध्यम से दी जा रही अस्पतालों की दवाइयां चपरासी व अन्य कर्मचारी चोरी छिपे ले जाकर ग्रामीण क्षेत्र में भोले-भाले लोगों से मोटी रकम लेकर इलाज कर लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं।

वर्तमान में निवाली में पदस्थ संविदा कर्मचारी संतोष राठौर चटली अस्पताल से शासकीय दवाइयों को लेकर लोगों का इलाज कर रुपए ले रहा है। आवेदन में बताया कि 4 दिन पूर्व चटली शासकीय अस्पताल से सलाइन की बाटलें ले जाते हुए ग्रामीणों ने रंगे हाथों पकड़ा था। मौके का पंचनामा बना कर निवाली बीएमओ डॉ. एमएस जमरे के समक्ष पेश किया गया था, लेकिन बीएमओ ने कर्मचारी पर अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है। इस दौरान जयस ब्लाॅक अध्यक्ष विक्रम निगवाल, संरक्षक राकेश अलावे, तुकाराम सोलंकी, मनोज बरडे, संजय जाधव सहित अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहे।

मैं नहीं करता प्राइवेट इलाज


X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना