पितृदेवो भव: बरसते पानी में घाटों पर पहुंचकर पुरखों को दी जलांजलि

News - विधि-विधान से किया तर्पण, भगवान सूर्यदेव को दिया अर्घ्य : इन सभी स्थानों पर पितृदेवो भव: अादि मंत्रोच्चार के बीच...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 06:52 AM IST
Bhopal News - mp news pitridevo bhava jalanjali given to ancestors after reaching ghats in rainy water
विधि-विधान से किया तर्पण, भगवान सूर्यदेव को दिया अर्घ्य : इन सभी स्थानों पर पितृदेवो भव: अादि मंत्रोच्चार के बीच लोगों ने जौ, तिल व कुश अादि से पितरों को जलांजलि देकर नमन किया। तर्पण करने वालों की सर्वाधिक संख्या शीतलदास की बगिया घाट पर थी। यहां पं. किरण शर्मा व गिन्नौरी घाट पर पं. ओमप्रकाश अाचार्य के मार्गदर्शन में तर्पण व अन्य क्रियाएं की गईं। लोगों ने दान-पुण्य भी किया। भंवरलाल शर्मा ने बताया कि कई लोग पिंडदान करने हरिद्वार, गयाजी व उज्जैन अादि तीर्थ स्थलों के लिए रवाना हो चुके हैं। इसी तरह गायत्री शक्तिपीठ में भी तर्पण की नि:शुल्क व्यवस्था की गई थी। घाटों पर पंडित मौजूद थे, जो मंत्रोच्चार कर विधि-विधान से तपर्ण करा रहे थे।

पहला दिन... पूर्णिमा से श्राद्ध पक्ष की शुरुअात

भोपाल | पितृ पक्ष के पहले दिन शुक्रवार सुबह लोगों ने छोटे-बड़े तालाब समेत विभिन्न जलाशयों के घाटों के साथ ही देवालयों में पितरों के निमित्त तर्पण किया। घरों व कई अन्य स्थानों पर भी पिंडदान व श्राद्ध‌ कर्म किए गए। जलार्पण, पिंडदान व श्राद्ध का यह सिलसिला 28 सितंबर को सर्वपितृ मोक्ष अमावस्या तक चलेगा। पितरों को जलांजलि देने, तर्पण करने के लिए सुबह से ही शीतलदास की बगिया, गिन्नौरी मंदिर, माता कंठाली, शाहपुरा झील स्थित घाटों व गायत्री शक्तिपीठ अादि स्थानों पर बारिश होने के बावजूद पंडित पहुंच गए थे। इस बार खटलापुरा घाट पर नाव पलटने की घटना के कारण लोग तर्पण करने नहीं पहुंचे।

निकलेगी अस्थि विसर्जन यात्रा : नमामि देवी नर्मदे जन कल्याण समिति की अध्यक्ष रागिनी त्रिवेदी ने बताया कि उनकी संस्था द्वारा अज्ञात लोगों की कई सालों से प्रेमकुटी व अन्य विश्रामघाटों में रखीं अस्थियों को एकत्र कर उनका विसर्जन होशंगाबाद पहुंच कर नर्मदा में कराया जाएगा। इसके पूर्व प्रेमकुटी नादरा बस स्टैंड से अस्थि कलश विसर्जन यात्रा निकाली जाएगी, जिससे लोग अज्ञात मृतकों को पुष्पांजलि अर्पित कर सकें।

विश्रामघाट में भी तर्पण

सुभाषनगर विश्रामघाट कमेटी ट्रस्ट व मानव संस्कार समिति द्वारा विश्रामघाट परिसर में पितृपक्ष के दौरान 14 से 28 सितंबर तक सुबह 9 से 12 बजे तक तर्पण, पिंडदान व यज्ञ कराया जाएगा। सामग्री की व्यवस्था ट्रस्ट द्वारा की जाएगी। व्यवस्थापक शोभराज ने बताया कि इस मौके पर यहां 22 से 28 सितंबर तक दोपहर 2.30 से शाम 6 बजे तक पितरों की अात्मशांति के लिए भागवत कथा होगी। कथा का वाचन अाचार्य जितेंद्र भार्गव करेंगे। संयोजक टीअार मिश्रा ने बताया कि समापन पर हवन व महाअारती की जाएगी।

X
Bhopal News - mp news pitridevo bhava jalanjali given to ancestors after reaching ghats in rainy water
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना