रजिस्ट्रेशन अटका, टैक्सके लिए भी लोग परेशान

News - लॉक डाउन होने से बीएस-4 वाहनों का रजिस्ट्रेशन अटक गया है। लोग टैक्स को लेकर भी परेशान हैं। बीएस-4 को लेकर नई तारीख...

Mar 27, 2020, 07:35 AM IST

लॉक डाउन होने से बीएस-4 वाहनों का रजिस्ट्रेशन अटक गया है। लोग टैक्स को लेकर भी परेशान हैं। बीएस-4 को लेकर नई तारीख नहीं आई है। इससे पुराने स्टैंडर्ड की गाड़ी खरीदने वालों को डर है कि उनकी गाड़ी रजिस्टर्ड हो पाएगी या नहीं।

कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण परिवहन विभाग का कामकाज ठप पड़ गया है। लोगों को डर है कि यदि वह 31 मार्च के बाद टैक्स जमा करेंगे तो उन्हें पेनल्टी तो नहीं लगेगी। यही हाल बीएस-4 वाहनों के पंजीकरण को लेकर है।

परिवहन विभाग ने बीएस-4 वाहनों के रजिस्ट्रेशन के लिए 25 मार्च 2020 तक का समय तय किया था। इस बीच देश में लॉक डाउन घोषित हो गया। लोगों को डर है कि विभाग अब उनकी गाड़ी रजिस्टर्ड करेगा या नहीं। जिन कमर्शियल गाड़ियों का टैक्स बकाया है, उनके मालिक 31 मार्च से पहले टैक्स जमा करना चाहते हैं। विभाग भी इस बारे में स्थिति स्पष्ट नहीं कर रहा है।

तारीख बढ़ने की उम्मीद, लेकिन रिबेट पर गुंजाइश कम

बीएस-4 वाहनों के रजिस्ट्रेशन की आखिरी तारीख सुप्रीम कोर्ट के निर्देशानुसार ही तय हुई थी। कुछ वीडियो देखने में आए थे कि यह तारीख बढ़ेगी। फिर भी हम इस बारे में जानकारी निकालते हैं। जो भी आदेश होगा, उसका पालन होगा। हमें उम्मीद है कि लॉक डाउन के कारण यह तारीख बढ़ेगी। वित्तीय वर्ष खत्म होने में कुछ दिन बाकी थे कि लॉक डाउन हो गया। ऐसे में टैक्स पर रिबेट की गुंजाइश कम है।

निशा चौहान, एआरटीओ

केस-1|पेनल्टी को लेकर तनाव

रोशन जैन ने अपने कमर्शियल वाहन (एमपी-09केडी-8529) का 2014 के बाद से टैक्स नहीं भरा है। अब वह पूरा टैक्स एकमुश्त जमा करना चाहते हैं। परिवहन विभाग एकमुश्त टैक्स जमा करने पर 10 से 20 फीसदी की रिबेट देता है। जैन को उम्मीद थी कि वे 31 मार्च से पहले टैक्स जमा कर छूट का लाभ ले लेंगे। लॉक डाउन होने से वे परेशान हैं कि छूट के बजाय उन्हें पेनल्टी न भुगतना पड़े।

केस-2|गाड़ी रजिस्टर्ड होगी या...

कार डीलरों ने बीएस-4 गाड़ियों पर छूट की घोषणा की थी। देवाशीष राय ने रुपए बचाने के लिए पुराने नियमों वाली कार खरीद ली। लॉक डाउन होने से वह गाड़ी रजिस्टर्ड नहीं करा पाए। अब उन्हें डर है कि गाड़ी रजिस्टर्ड होगी या नहीं।

केस-3|आरसी निरस्त नहीं हो रहा

मोहन शर्मा के पास 20 साल पुरानी कमर्शियल गाड़ी है। वह इसे सरेंडर करना चाहते हैं। इसके लिए रजिस्ट्रेशन कार्ड (आरसी) निरस्त कराना होगा। उसके बाद ही वह गाड़ी स्क्रैप में निकाल सकते हैं। लॉक डाउन होने से आरसी भी निरस्त नहीं हो पा रहा है।

{परिवहन विभाग ने नहीं बढ़ाई अंतिम तारीख**

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना