बड़ी बीमारी से निपटने में छोटी दिक्कतें

News - आए दिन आ रही इस तरह की समस्याएंं जिला प्रशासन का कहना है कि महामारी से निपटने के दौरान लोगों को मामूली दिक्कतें...

Mar 27, 2020, 06:50 AM IST
आए दिन आ रही इस तरह की समस्याएंं

जिला प्रशासन का कहना है कि महामारी से निपटने के दौरान लोगों को मामूली दिक्कतें आना स्वाभाविक हैं। आवश्यक सामान की आपूर्ति बनाए रखने के पुख्ता प्रबंध किए जा रहे हैं। इस मौके पर किराना, खाद्य सामग्री, फल-सब्जी, दूध और दवाइयों की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई की जा रही है। इस विश्वव्यापी अापदा में पुलिस प्रशासन को जनता का सहयोग अपेक्षित है।

एंबुलेंस वाले तैयार नहीं हुए

शाजापुर निवासी रवि आसेरी के परिवार की एक महिला सुल्तानिया में एडमिट थी। बुधवार को उनकी इलाज के दौरान मौत हो गई। घर जाने के लिए एंबुलेंस बुक करना चाही तो ड्राइवर ने कहा कि पहले अनुमति लेकर आओ। रवि के मित्र निखिल सोनगरा ने डीबी स्टार को समस्या बताई। तब डीबी स्टार ने उन्हें पुलिस कंट्रोल रूम बात करने के लिए कहा। कंट्रोल रूम से बताया गया कि एंबुलेंस अतिआवश्यक सेवा है, इसलिए अलग से किसी अनुमति की जरूरत नहीं है।

भाई साकेत नगर में, दवाएं कोलार रोड पर

बावड़िया कला में रहने वाले हरि प्रसाद को भी एक अजीब स्थिति का सामना करना पड़ा। उनके भाई साकेत नगर में रहते हैं और उनकी बीमारी के लिए जो दवाएं लगती हैं, वो कोलार के एक मेडिकल स्टोर पर ही मिलती हैं। हरि घर से निकले तो उन्हें कोलार थाना पुलिस ने रोक लिया। काफी मान-मनोव्वल के बाद उन्हें जाने दिया। इधर जैसे ही साकेत नगर पहुंचे तो फिर पुलिस ने रोक लिया। फिर उन्होंने डॉक्टर से बात कराई, तब जाकर उन्हें जाने दिया।

कटारा हिल्स स्थित ग्लोबल पार्क सिटी निवासी सारंग जैन के घर में दो दिन से फ्रिज खराब है। उसके मेंटेनेंस के लिए उन्होंने कंपनी को कॉल किया। आनाकानी करने के बाद टेक्नीशियन आने को तैयार हो गया। लेकिन उसे रास्ते में पुलिस ने रोक दिया, जबकि फ्रिज चालू होना बेहद जरूरी है, क्योंकि सब्जियां और बाकी सामान लंबे समय तक सुरक्षित रखना है। लेकिन उनके फ्रिज का कंप्रेशर खराब है और नया कंप्रेशर दुकान मंे ताला डला होने से उपलब्ध नहीं हो पाया।

रमेश पवार के परिवार को गैस सिलेंडर की बुकिंग में दिक्कत आ रही थी। रमेश ने डीबी स्टार को बताया कि वे अभी प्रदेश से बाहर हैं और गैस एजेंसी की ऑनलाइन बुकिंग बंद है। जब डीबी स्टार ने प्रशासन को सूचना दी तो अगले एक घंटे में बुकिंग चालू हो गई और उनके घर सिलेंडर भी पहुंच गया। दोनों ही मामले में डीबी स्टार टीम ने आम जनता की आवाज प्रशासन तक पहुंचाई और समस्या हल हो गई। जरूरी सेवाओं के बारे में डीबी स्टार ने प्रशासन के जिम्मेदार अफसरों से जब बात की तो जवाब मिला कि इसके लिए अलग से हेल्पलाइन नंबर जारी किए गए हैं। किसी भी दिक्कत के समय इन नंबर्स पर काॅल कर सकते हैं।

दस्तावेज बताने होंगे

अतिआवश्यक काम से कोई शहर के भीतर ही आना-जाना चाहता है तो उन्हें सही कारण और दस्तावेज बताने होंगे। इसी प्रकार बाहर जाने वालों को भी ठोस वजह बतानी होगी, तब उन्हें अनुमति दे दी जाएगी। इसके लिए हमने एसडीएम, तहसीलदार और थाना प्रभारी को अधिकृत किया है। -
सतीश कुमार एस, एडीएम एवं नोडल ऑफिसर, कोरोना कंट्रोल टीम

देशव्यापी टोटल लॉक डाउन के बाद भी भोपाल में कुछ लोग बाहर निकलने से बाज नहीं आ रहे। ऐसे व्यक्तियों को घर में ही रखने के लिए पुलिस प्रशासन ने थोड़ी सख्ती की है। इसके शिकार कुछ ऐसे लोग भी हो गए हैं, जो इमरजेंसी ड्यूटी या अत्यावश्यक कार्य से ही घर से बाहर निकले थे। **

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना