2 सीएमओ के चलते अटके काम, 3 माह से नहीं मिला सफाई कर्मचारियों को वेतन; हड़ताल शुरू

Badwani News - नगर परिषद पलसूद में पिछले कुछ माह से सीएमओ की कुर्सी के लिए खींचतान चल रही है। इसके चलते परिषद में होने वाले कार्य...

Jan 16, 2020, 08:50 AM IST
Palsud News - mp news work stuck due to 2 cmos salary not paid to cleaning staff for 3 months strike start
नगर परिषद पलसूद में पिछले कुछ माह से सीएमओ की कुर्सी के लिए खींचतान चल रही है। इसके चलते परिषद में होने वाले कार्य प्रभावित हो रहे हैं। पिछले तीन माह से सफाई कर्मचारियों को वेतन नहीं मिलने पर कर्मचारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर उतर गए हैं। इसके चलते नगरवासियों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं पूरे शहर में यहां-वहां कचरा पड़ा हुआ है।

जानकारी के अनुसार 2 दिसंबर को खेतिया नगर परिषद सीएमओ एमएस अलावा का पलसूद सीएमओ के पद पर स्थानांतरण किया गया था। इन्होंने ज्वाइनिंग भी दे दी थी लेकिन यहां के मौजूदा सीएमओ विनोद बार्चे हाईकोर्ट से स्टे ले आए। इसके चलते पिछले कुछ माह से नगर परिषद में होने वाले कार्य प्रभावित हो रहे थे। दो सीएमओ के चक्कर में कर्मचारियों का वेतन भी नहीं निकला। इस कारण से कर्मचारियों ने अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू कर दी। अब तीन दिन से नगर में सफाई व्यवस्था ठप पड़ी हुई है। कर्मचारियों की मांग है कि जब तक वेतन का भुगतान नहीं होता। तब तक हड़ताल जारी रहेगी। इसके अलावा नगर परिषद के अन्य कर्मचारियों को भी पिछले तीन माह से वेतन नहीं मिला है। इसके चलते अब ये कर्मचारी भी हड़ताल पर जाने की बात कर रहे हैं।

नगर परिषद
सफाई कर्मचारियों के अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू करने से शहर में फैला कचरा

स्वच्छता सर्वेक्षण में भी पिछड़ जाएंगे

नगर परिषद पलसूद ने स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 में भाग लिया है लेकिन सफाई कर्मचारियों की हड़ताल के चलते नगर परिषद अभियान में फेल हो जाएगी। जानकारी के अनुसार स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 के तहत पहले और दूसरे तिमाही में हुए सर्वे के अनुसार पलसूद नगर परिषद जिले के सभी नगरीय निकायों में पीछे रही है। यदि अब भी सफाई व्यवस्था पर ध्यान नहीं दिया गया तो देश के सबसे खराब शहरों में नगर परिषद का नाम शामिल हो जाएगा।

नगर परिषद में काम करते हुए विनोद बार्चे।

नगर परिषद में काम करते हुए एमएस अलावा।

हाईकोर्ट का फैसला आने तक बार्चे को दी जिम्मेदारी

पलसूद नगर परिषद में चल रही सीएमओ की कुर्सी की खींचतान को लेकर हाईकोर्ट में मामला चल रहा है लेकिन नगर परिषद के कार्य प्रभावित न हों, इसको लेकर बड़वानी परियोजना अधिकारी कुशलसिंह डोडवे ने आदेश जारी कर विनोद बार्चे को सीएमओ का दायित्व निभाने के निर्देश दिए हैं। वह भी जब तक हाईकोर्ट का फैसला नहीं आ जाता तब तक। जानकारी के अनुसार 20 जनवरी को मामले की सुनवाई हाईकोर्ट में होगी। फैसला आने के बाद ही सीएमओ के पद को लेकर स्थिति स्पष्ट होगी।

दोनों सीएमओ आ रहे परिषद

नगर परिषद में दोनों सीएमओ आ रहे हैं लेकिन काम कोई नहीं कर पा रहा है। यहां आकर कार्यालय में बैठकर घर चले जाते हैं। बुधवार को भी दोनों सीएमओ कार्यालय आए। एक ने सीएमओ के चेंबर में बैठकर काम किया तो दूसरे ने अन्य स्थान पर बैठकर काम किया।

व्यवस्थाओं को सुधारने का कर रहे प्रयास


Palsud News - mp news work stuck due to 2 cmos salary not paid to cleaning staff for 3 months strike start
Palsud News - mp news work stuck due to 2 cmos salary not paid to cleaning staff for 3 months strike start
X
Palsud News - mp news work stuck due to 2 cmos salary not paid to cleaning staff for 3 months strike start
Palsud News - mp news work stuck due to 2 cmos salary not paid to cleaning staff for 3 months strike start
Palsud News - mp news work stuck due to 2 cmos salary not paid to cleaning staff for 3 months strike start
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना