• Hindi News
  • Mp
  • Raisen
  • Bareli News mp news worrying farmers due to rain sdm said farmers should not be worried

बारिश से किसानों को सता रही चिंता एसडीएम बोले- किसान न हो चिंतित

Raisen News - क्षेत्र में हुई बारिश से चने की फसल को नुकसान सुल्तानपुर। बुधवार की शाम एवं रात में हुई बेमौसम बारिश से...

Mar 27, 2020, 06:31 AM IST

क्षेत्र में हुई बारिश से चने की फसल को नुकसान

सुल्तानपुर। बुधवार की शाम एवं रात में हुई बेमौसम बारिश से किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें दिखाई दे रही है। जहां किसानों की फसलें पककर तैयार खड़ी है और किसान उन्हें काटने के लिए तैयारी कर रहे है वहीं इन फसलों को नुकसान पहुंचा रही है क्षेत्र में हुई बारिश से किसानों की खेतों में रखी कटी हुई एवं खड़ी हुई चने की फसलों को ज्यादा नुकसान बताया जा रहा है। जबकि गेहूं की फसलों को आंशिक नुकसान की जानकारी बताई जा रही है हालांकि इस सबंध में नायब तहसीलदार शिवांगी खरे ने बताया कि क्षेत्र में हुई बारिश से किसानों की फसलों को नुकसान संबंधी अभी कोई सूचना हमारे पास नही पहुंची है फिर भी मौसम का परिवर्तन होना चिंता का विषय है।

बरेली| ग्रामीण अंचलों में बदलते मौसम और बारिश ने किसानों की चिंता बढ़ने लगी है। लॉकडाउन के चलते फसल काटने के लिए न तो मजदूर मिल रहे हैं न ही हार्वेस्टर मिल रहे हैं। यही वजह है कि किसान फसल नहीं कटवा पा रहे हैं। बारिश के कारण फसलों का दाना गिरने लगा है। वहीं क्वालिटी भी कमजोर होने लगी है। इसके चलते फसलों के दाम भी कम मिलने की संभावना किसानों को सता रही है। फसल कटाई की समस्या को लेकर क्षेत्र का किसान परेशान है।

बता दें कि वर्तमान में क्षेत्र में गेहूं और चना की 50 प्रतिशत से ज्यादा फसल कटने को तैयार है। खेतों में फसल पक कर तैयार खड़ी है, जिनकी हार्वेस्टिंग ओर थ्रेसिंग होना है, लेकिन जिले की सीमाएं सील होने के कारण से किसानों के द्वारा जो हार्वेस्टर पहले से बुक किए जा चुके हैं वह हार्वेस्टर खेतों तक नहीं पहुंच पा रहे हैं। यही वजह है कि किसानों का परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

इस संबंध में जनपद सदस्य राकेश पालीवाल ने कलेक्टर रायसेन से अनाज निकलवाई के लिए गाइड लाइन तय करने के लिए बात कही है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में मौसम की स्थिति बहुत खराब है कभी पानी तो कभी ओले गिर रहे हैं। ऐसी स्थिति में यदि किसानों की तैयार फसल समय पर नहीं कट पाएगी तो किसान पूरी तरह बर्बाद हो जाएगा। छबारा गांव निवासी राजेंद्र रघुवंशी ने बताया कि लगभग 1 माह पहले हरदा में एक हार्वेस्टर फसल कटाई के लिए बुक कर लिया है जिसका एडवांस भी दे दिया गया है। इस हार्वेस्टर से मेरी फसल के साथ परिवार की कुल फसल 400 से 500 एकड़ की कटाई की जाती है, लेकिन हरदा से हार्वेस्टर बरेली , छबारा लाने के लिए परमिशन नहीं दी जा रही। जब इस संबंध में एसडीएम बृजेंद्र रावत नपे बताया कि किसान के द्वारा जो हार्वेस्टर पहले से बुक किए जा चुके हैं वह अपने हार्वेस्टरों को अपने गांव बुलवा सकता है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना