--Advertisement--

मुकेश अंबानी की सैलरी 10 साल से लगातार 15 करोड़ पर स्थिर, स्वेच्छा से नहीं ली वेतन वृद्धि

2008-09 से पहले कुल कंपेनसेशन 24 करोड़ रुपए था

Dainik Bhaskar

Jun 08, 2018, 11:27 AM IST
रिलायंस की नॉन एग्जीक्यूटिव ड रिलायंस की नॉन एग्जीक्यूटिव ड

  • मुकेश अंबानी को मिले 15 करोड़ में 4.49 करोड़ सैलरी-भत्ते और 9.53 करोड़ रुपए कमीशन शामिल है
  • अन्य सुविधाओं के लिए मिलने वाली रकम 60 लाख से घटकर 27 लाख रुपए हुई

मुंबई. देश के सबसे बड़े अमीर उद्योगपति मुकेश अंबानी को उनकी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज से लगातार 10वें साल 15 करोड़ रुपए सैलरी मिली है। अंबानी ने स्वेच्छा से 10 साल से वेतन वृद्धि नहीं ली है। उन्होंने 2008-09 से सैलरी, अन्य लाभ, भत्ते तथा कमीशन 15 करोड़ रुपए पर स्थिर रखा है। इससे पहले उनका कुल कपेंनसेशन सालाना करीब 24 करोड़ रुपए था।

रिलायंस इंडस्ट्रीज के दूसरे अधिकारियों की सैलरी बढ़ी
- 31 मार्च, 2018 को खत्म हुए वित्त वर्ष में उनके रिश्तेदार निखिल और हेतल मेसवानी और कंपनी के पूर्णकालिक निदेशकों की सैलरी अच्छी-खासी बढ़ी है।
- निखिल और हेतल का कंपेनसेशन 2017-18 में बढ़कर 19.99 करोड़ रुपए पहुंच गया है। 2016-17 में ये 16.85-16.85 करोड़ रुपए था। इससे पहले 2015-16 में निखिल को 14.42 करोड़ और हेतल को 14.41 करोड़ रुपए मिले थे।
- रिलायंस इंडस्ट्रीज ने सालाना रिपोर्ट में ये जानकारी दी है।

- मुकेश अंबानी का कमीशन 9.53 करोड़ रुपए ही रहा है।
- अन्य सुविधाओं के मद में दी जाने वाली राशि 60 लाख से घटकर 27 लाख रुपए रह गई है।
- सीईओ की सैलरी को सही स्तर पर रखने को लेकर विवाद के बीच मुकेश अंबानी ने स्वेच्छा से अक्टूबर 2009 में सैलरी पर लिमिट तय की थी।

X
रिलायंस की नॉन एग्जीक्यूटिव डरिलायंस की नॉन एग्जीक्यूटिव ड
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..