पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • तीन बहनों के साथ बलात्कार, शव कुँए में डाले

तीन बहनों के साथ बलात्कार, शव कुँए में डाले

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

महाराष्ट्र में पुलिस ने तीन बहनों के साथ बलात्कार और उसके बाद उनकी हत्या किए जाने के मामले में तीन लोगों को हिरासत में लिया है. सबसे बड़ी बहन की उम्र 11 साल थी जबकि छोटी बहन केवल छह साल की थी.

बलात्कार और हत्या की इस घटना से पुलिस हैरान है और इसके कारणों का पता लगाने की कोशिश कर रही है.

भंडारा ज़िले की एसपी आरती सिंह ने बीबीसी को बताया कि लड़कियों की माँ को शक है कि इसमें किसी पहचान वाले का हाथ है.

पुलिस के मुताबिक तीनों संदिग्ध व्यक्तियों से पूछताछ चल रही है. अब तक इस सिलसिले में किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है.

दो महीने पहले दिल्ली में एक युवती के साथ बलात्कार के बाद उठे हंगामे के बाद भंडारा जिले में हुए तीन बहनों के बलात्कार और हत्या से इलाके में सनसनी फैल गयी है.

'पारिवारिक दुश्मनी कारण नहीं'

तीनों बहनें आखरी बार 14 फ़रवरी को स्कूल के लिए जाती देखी गई थीं. इन बहनों के शव दो दिनों बाद गाँव के बाहर एक कुँए से बरामद हुए.

आरती सिंह के मुताबिक लड़कियों की माँ का कहना है कि जिस कुँए में उनकी बेटियों के शव मिले हैं वो उनके घर से काफी दूर है और इन लड़कियों के वहां जाने की कोई वजह नहीं है.

आरती सिंह कहती हैं, "हमें कई सुराग़ मिले हैं जिन पर हम काम कर रहे हैं और जल्द ही अपराधियों का पता लग जाएगा."

पुलिस का कहना है कि इस मामले में पारिवारिक दुश्मनी कारण नहीं है क्योंकि इस परिवार का किसी के साथ झगड़ा नहीं था.

लड़कियों के पिता का कुछ साल पहले ही देहांत हो चुका था. लड़कियां अपनी माँ और दादा के साथ रहती थीं. लड़कियों की माँ पापड़ बनाने के एक उद्योग में काम करती हैं जबकि लड़कियों के दादा एक आटा चक्की की दुकान चलाते हैं.