• Hindi News
  • Chandigarh
  • News
  • Manimajra News municipal corporation gave glove of polythene to sanitation workers employees expressed anger

नगर निगम ने सफाई कर्मचारियों को दिए पॉलीथिन के ग्लव्स, कर्मचारियों ने जताया रोष

News - कर्मचारी मना कर रहे हैं... मनीमाजरा के चीफ़ सेनिटरी इंस्पेक्टर गुरमीत सिंह का कहना है कि इन कर्मचारियों को निगम...

Mar 27, 2020, 07:27 AM IST
}कर्मचारी मना कर रहे हैं... मनीमाजरा के चीफ़ सेनिटरी इंस्पेक्टर गुरमीत सिंह का कहना है कि इन कर्मचारियों को निगम द्वारा मुहैया करवाए ग्लव्स और मास्क दिए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि मनीमाजरा में भी वही सामग्री उपलब्ध करवाई जा रही है। जिसको लेने से कर्मचारी मना करते हैं ।

मनीमाजरा में डोर टू डोर गार्बेज कलेक्शन करने वाले कर्मचारियों को न तो नगर निगम द्वारा ग्लव्स दे रहा है और न ही मास्क। इसी को लेकर कर्मचारी यूनियन के नेता धर्मबीर ने रोष व्यक्त किया है ।उनका कहना है कि मनीमाजरा एरिया में काम करने वाले उनकी साथी सफ़ाई कर्मचारियों को निगम की ओर से किसी तरह की भी कोई सुविधा नहीं दी जा रही है ।जिस कारण उन्हें काम करने में परेशानी आ रही है ।वहीं सफ़ाई कर्मचारियों को निगम द्वारा पॉलीथिन के ग्लव्स देने पर कर्मचारियों में ख़ासा रोष व्यक्त किया है ।कर्मचारी एसोसिएशन की अध्यक्ष धर्मवीर ने निगम के अधिकारियों पर गंभीर आरोप लगाए हैं कि जो पॉलीथिन निगम ने बैन कर रखा है उसी के बने ग्लव्स उनके कर्मचारियों को मुहैया करवा दी गई हैं ।जिसको लेकर कर्मचारी सकते में हैं । धर्मबीर का आरोप है कि यह ग्लव्स हाथों में डालते ही फट जाते हैं ।ऐसे में इनका कोई भी फ़ायदा नहीं है । धर्मवीर ने कहा कि वीरवार को डोर टू डोर गार्बेज कलेक्टर संघर्ष कमेटी चंडीगढ़ के सभी सदस्य की मीटिंग हुई ।जिसकी अध्यक्षता कमेटी के अध्यक्ष धर्मवीर ने की जिसमें यह फैसला लिया गया कि नगर निगम जो मास्क व ग्लव्स दे रहा है उनकी क्वालिटी बहुत ही खराब है । इसका इस्तेमाल नहीं किया जाएगा उन्होंने कहा कि यह ग्लव्स एक बार भी इस्तेमाल नहीं हो सकते ।जो हमें ग्लव्स दिए गए हैं ।वह पॉलिथीन के हैं ।जबकि चंडीगढ़ में पॉलिथीन बैन है ।जबकि डोर टू डोर का कर्मचारी हर रोज अपने काम पर आ रहा है ।जैसा कि देश के अंदर कोरोना जैसा संक्रमण फैला हुआ हैं ।जिसका कि अभी तक कोई भी इलाज नहीं आया है ।इस भयानक स्थिति में भी डोर टू डोर के कर्मचारी अपनी जिम्मेदारी से पीछे नहीं हट रहे हैं ।अपनी जान की बाजी लगाकर चंडीगढ़ शहर की गंदगी को साफ कर रहे हैं ।कोरोना जैसे संक्रमण के बीच में चंडीगढ़ सेनिटेशन कमेटी ने डोर टू डोर के साथ एक बैठक की थी जिसमें नगर निगम ने बड़े-बड़े वादे किए थे ।हमें कहा गया था कि हम आपको बढ़िया क्वालिटी के ग्लव्स देंगे ।मास्क भी बढदेंगे सेनेटाइजर देंगे जबकि हमें ग्लव्स वह मास्क दिए गए वह बहुत घटिया क्वालिटी के दिए जा रहे हैं ।जिसका की डोर टू डोर
गार्बेज कलेक्टर संघर्ष कमेटी
चंडीगढ़ विरोध करती है। इसलिए डोर टू डोर गार्बेज कलेक्टर संघर्ष कमेटी ने यह फैसला लिया है की कमेटी अपने स्तर पर अपने कर्मचारियों को बढ़िया क्वालिटी के मास्क व गलब्स सेनेटाइजर उपलब्ध करवाएगी ।इस मीटिंग में विजेंद्र दुलगच, बलविंदर टाक, भजनलाल, अजय कुमार, दिलबाग टॉक, सुरजीत और अन्य मौजूद रहे।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना