--Advertisement--

'रोनाल्डो भाई' बुलाते हैं दोस्त, दिक्कतों से जीतकर इंडियन सुपर लीग में शामिल हुआ चपरासी का बेटा

निशू कुमार को बेंगलुरु फुटबॉल क्लब में एक करोड़ रुपए का कॉन्ट्रैक्ट मिला है।

Dainik Bhaskar

Jul 08, 2018, 07:51 AM IST
निशू कई अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल प्रतियोगिताओं में हिस्सा ले चुके हैं। -फाइल निशू कई अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल प्रतियोगिताओं में हिस्सा ले चुके हैं। -फाइल

  • निशू कुमार ने चंडीगढ़ फुटबॉल एकेडमी से करियर शुरू किया था
  • अंडर-15 और अंडर-16 भारतीय टीमों का हिस्सा भी रह चुके हैं निशू
  • मलेशिया, इंडोनेशिया, थाईलैंड, जापान यूरोप में भी खेल चुके हैं

मुजफ्फरनगर. उत्तरप्रदेश के मुजफ्फरनगर में रहने वाले निशू कुमार को उनके दोस्त 'रोनाल्डो भाई' बुलाते हैं। दरअसल, अपनी दमदार 'किक' के दम पर उन्होंने बेंगलुरु फुटबॉल क्लब की इंडियन सुपर लीग में जगह बनाई है। इसके लिए उन्होंने एक करोड़ रुपए का कॉन्ट्रैक्ट किया है। वे 5 साल की उम्र से फुटबॉल के दीवाने हैं।

निशू के पिता कॉलेज में चपरासी हैं। इसके बावजूद उनहोंने अपनी तंगी को अपने सपनों की राह में कभी आड़े नहीं आने दिया। 21 साल के निशू ने अपना करियर चंडीगढ़ फुटबॉल एकेडमी से शुरू किया था। उन्हें बड़ा ब्रेक 2016 में एएफसी अंडर-19 फुटबॉल टीम में शामिल होने के बाद मिला। इसके अलावा वह भारत की अंडर-15 और अंडर-16 टीम का हिस्सा भी रह चुके हैं। वह इंडोनेशिया, मलेशिया, थाईलैंड, जापान, यूरोप, रूस और खाड़ी देशों में भी खेल चुके हैं।

स्कूल में शुरू किया था अभ्यास : निशू बताते हैं कि उन्होंने 5 साल की उम्र में स्पोर्ट्स टीचर की मदद से स्कूल के मैदान में ही अभ्यास शुरू किया था। भारतीय टीम के चीफ कोच स्टीफन कॉन्टाटाइन से भी काफी कुछ सीखा। मुजफ्फरनगर के कोच कुलदीप ने बताया कि जिले के बच्चे निशू को अपना आदर्श मानते हैं।

निशू ने भारतीय टीम के चीफ कोच स्टीफन कॉन्टाटाइन से फुटबॉल के कई गुर सीखे। -फाइल निशू ने भारतीय टीम के चीफ कोच स्टीफन कॉन्टाटाइन से फुटबॉल के कई गुर सीखे। -फाइल
मुजफ्फरनगर के बच्चे निशू को अपना आदर्श मानते हैं। -फाइल मुजफ्फरनगर के बच्चे निशू को अपना आदर्श मानते हैं। -फाइल
X
निशू कई अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल प्रतियोगिताओं में हिस्सा ले चुके हैं। -फाइलनिशू कई अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल प्रतियोगिताओं में हिस्सा ले चुके हैं। -फाइल
निशू ने भारतीय टीम के चीफ कोच स्टीफन कॉन्टाटाइन से फुटबॉल के कई गुर सीखे। -फाइलनिशू ने भारतीय टीम के चीफ कोच स्टीफन कॉन्टाटाइन से फुटबॉल के कई गुर सीखे। -फाइल
मुजफ्फरनगर के बच्चे निशू को अपना आदर्श मानते हैं। -फाइलमुजफ्फरनगर के बच्चे निशू को अपना आदर्श मानते हैं। -फाइल
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..