विज्ञापन

शास्त्रों से- अगर पत्नी करती है ये 5 काम तो पति कभी अमीर नहीं बन पाता है

Dainik Bhaskar

Apr 12, 2018, 04:54 PM IST

शास्त्रों बताई गई बातों का पालन करने पर जीवन में सुख-समृद्धि बनी रहती है।

शकुन-अपशकुन, mythological tips for happy life in hindi, bhavishya puran
  • comment

यूटिलिटी डेस्क। हिन्दू धर्म में कुल सोलह संस्कार बताए गए हैं। इन संस्कारों में विवाह सबसे खास माना गया है। विवाह के बाद पति-पत्नी का भाग्य, एक-दूसरे से जुड़ जाता है। दोनों को एक-दूसरे के शुभ-अशुभ कर्मों का फल मिलता है। अगर किसी व्यक्ति का जीवन साथी गलत काम करता है तो उसका बुरा फल उसे भी मिलता है। गीताप्रेस गोरखपुर द्वारा प्रकाशित संक्षिप्त भविष्य पुराण के ब्राह्म पर्व में स्त्री-पुरुष के शुभ-अशुभ लक्षण बताए गए हैं। यहां जानिए इसी पुराण के अनुसार पत्नी के 5 ऐसे अशुभ काम, जिनकी वजह से पति को भाग्य का साथ नहीं मिल पाता है और वह गरीब बना रहता है।

1. अगर कोई स्त्री रोज स्नान नहीं करती है तो उसके पति को दुर्भाग्य का सामना करना पड़ता है।

2. जो स्त्री घर साफ-सफाई का ध्यान नहीं रखती है, घर में बदबू आती रहती है तो उसका पति कभी भी भाग्य का साथ प्राप्त नहीं कर पाता है।

3. अगर किसी पुरुष की पत्नी कड़वा बोलने वाली है, दूसरों को दुख देने वाली बातें करती हैं तो ये दुर्भाग्य बढ़ाने वाली आदत है।

4. अगर कोई स्त्री सुबह देर तक सोती रहती है तो उसका पति कभी भी भाग्यशाली नहीं बन पाता है।

5. जिसकी पत्नी हमेशा भूख से ज्यादा खाते रहते है, वह पुरुष को किस्मत का साथ नहीं मिलता है।

ये हैं भाग्यशाली स्त्री के संकेत

भविष्यपुराण के अनुसार जो स्त्री रोज सुबह जल्दी उठती है और स्नान के बाद सुंगधित द्रव्य लगाती है, पूजा-पाठ करती है, घर में साफ-सफाई का ध्यान रखती है, घर का वातावरण सुंगधित बनाए रखती है, धर्म का पालन करती है, वह पति के लिए भाग्यशाली है। जिस पुरुष की पत्नी ऐसे शुभ काम करती है, वह हर काम में सफलता पाते हैं। ऐसे लोगों के घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है।

ये भी पढ़ें-

पत्नी रोज करेगी ये एक काम तो पति को मिल सकता है भाग्य का साथ, दूर हो सकती है गरीबी

पति-पत्नी जब भी हों एकांत में तो ये बातें ध्यान रखें, हमेशा सुखी रहेंगे

X
शकुन-अपशकुन, mythological tips for happy life in hindi, bhavishya puran
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन