--Advertisement--

28 को है विष्णु के इस अवतार का दिन, कई समस्याएं हो सकती हैं दूर

भगवान विष्णु ने हिरण्यकशिपु पर क्रोध करते हुए उसे मारने के लिए ये अवतार लिया था।

Danik Bhaskar | Apr 25, 2018, 06:40 PM IST

रिलिजन डेस्क. 28 अप्रैल को भगवान नृसिंह का जन्मोत्सव है। आधे शेर और आधे मानव के रुप में अपने भक्त प्रहलाद को बचाने के लिए खंभा तोड़कर प्रकट हुए भगवान नृसिंह हमारी कई समस्याओं का समाधान करते हैं। नृसिंह क्रोधावतार हैं। भगवान विष्णु ने हिरण्यकशिपु पर क्रोध करते हुए उसे मारने के लिए ये अवतार लिया था। चूंकि, क्रोध से भगवान नृसिंह का शरीर जलता है, इसलिए उन्हें ठंडी चीजें अर्पित की जाती हैं, अलग-अलग चीजें चढ़ाने से भक्तों को अलग-अलग फल मिलता है।

ज्योतिषाचार्य पं. एस.के. त्रिपाठी के मुताबिक हालांकि भगवान नृसिंह की पूजा का चलन उत्तर भारत से ज्यादा दक्षिण भारत में है लेकिन उत्तर में भी इनकी काफी मान्यता है। अगर भगवान को ऐसी चीजें चढ़ाई जाएं जो ठंडी तासीर की हों तो उसका शुभफल मिलता है। कालसर्प दोष से धन की समस्या तक, किसी रुठे को मनाने से लेकर दुश्मनों पर विजय तक हर मनोकामना के लिए उपाय हैं।

28 अप्रैल को भगवान नृसिंह का जन्मोत्सव है। इस दिन सुबह स्नान के बाद भगवान नृसिंह के मंदिर में जाकर उनकी पूजा करने का विधान हैं। फूल और चंदन से भगवान की पूजा करें। इसके बाद जो भी आपकी मनोकामना हो उसके अनुसार भगवान को वैसी वस्तु अर्पित करें।

किस मनोकामना के लिए कौन सी वस्तु चढ़ाएंः

धन के लिए या बचत के लिए भगवान नृसिंह को नागकेसर चढ़ाया जाता है। नागकेसर चढ़ाकर थोड़ा सा अपने साथ घर लेकर आएं और उसे घर की तिजोरी या उस अलमारी में रख दें, जहां आप पैसे और गहने आदि रखते हैं।

अगर कालसर्प दोष है कुंडली में और आप इसका पूजन या कोई ज्योतिषीय उपाय नहीं कर पा रहे हैं तो 28 अप्रैल को किसी नृसिंह मंदिर में जाकर एक मोरपंख चढ़ा दें। इससे आपको राहत मिलेगी।

किसी कानूनी उलझन में फंसे है और कोर्ट-कचहरी में चक्कर लगाते हुए थक गए हैं तो नृसिंह चतुर्दशी पर भगवान को दही का प्रसाद चढ़ाएं।

प्रतिस्पर्धा से परेशान हैं या अनजान दुश्मनों का डर हमेशा बना रहता है तो भगवान नृसिंह को बर्फ मिला पानी चढ़ाएं। आपको हर ओर से सफलता मिलने लगेगी।

अगर कोई आपसे नाराज है या दूर हो गया है तो उससे रिश्ते को फिर वैसे ही बनाने के लिए मक्की का आटा मंदिर में दान कर दें।

अगर आप कर्ज में डूब रहे हों या आपका पैसा मार्केट में फंस गया है, उधारी वसूल नहीं हो रही है तो नृसिंह भगवान को चांदी या मोती चढ़ाएं।

अगर शरीर में लंबे समय से कोई बीमारी है, राहत नहीं मिल पा रही है, तो भगवान नृसिंह को चंदन का लेप चढ़ाएं।