न होम डिलीवरी कर रहे और न डॉक्टर्स की लिखी दवाएं दे रहे

Patiala News - कर्फ्यू के दौरान दवाअों की होम डिलीवरी का डीसी ने अादेश दिया था, जिसे कोई भी केमिस्ट नहीं मान रहा है। मजबूरी में...

Mar 29, 2020, 07:17 AM IST

कर्फ्यू के दौरान दवाअों की होम डिलीवरी का डीसी ने अादेश दिया था, जिसे कोई भी केमिस्ट नहीं मान रहा है। मजबूरी में लोग चौक चौराहों पर पुलिस को जवाब देते हुए केमिस्ट की दुकान पर पहुंच जाएं तो उन्हें सेम साल्ट की दूसरी कंपनी की महंगी दवा थमाई जा रही है। केमिस्टों की मनमानी रोकने के लिए अमृतसर अौर चंडीगढ़ प्रशासन ने सोशल डिस्टेंसिंग को फाॅलो करते हुए जहां चयनित केमिस्टों को दुकानें खोलने की हिदायत दी है, वहीं पटियाला में जिला प्रशासन की ढीली कार्यप्रणाली से चयनित केमिस्ट कफर्यू की अाड़ में अाम जनता को लूट रहे हैं।

राजिंदरा अस्पताल के अासपास के केमिस्ट, जिला प्रशासन की इजाजत के बगैर अपनी दुकानें खोलकर नियमों के साथ साथ गाइडलाइन का उल्लंघन कर रहे हैं। पुलिस अौर सेहत विभाग को इसकी जानकारी दी। राजिंदरा अस्पताल पुलिस चाैकी के एएसअाई मलकीत सिंह ने यह कहकर पल्ला झाड़ लिया कि उनका काम तो भीड़ कंट्रोल करना है न कि केमिस्ट की दुकानों को खोलना या बंद करवाना। उसके बाद ड्रग इंस्पेक्टर राेहित कालड़ा को फोन करके बताया गया। उन्होंने अपने पाले से गेंद उलटा पुलिस को पाले में फेंकते हुए कहा कि अाप पुलिस काे सूचना दे दें। पुलिस माैके पर पहुंचकर दुकानें बंद करवा देगी। यहीं हद नहीं, ड्रग इंस्पेक्टर की लाचारी देखिए कि उन्होंने माना कि कई बार दुकानें वो बंद करवा चुके हैं, लेकिन दुकानदार उनकी सुनते ही नहीं हैं।

सरकार और प्रशासन के आदेशों के बाद भी केमिस्ट कर रहे मनमर्जी

को फोन करके बताया गया। उन्होंने अपने पाले से गेंद उलटा पुलिस को पाले में फेंकते हुए कहा कि अाप पुलिस काे सूचना दे दें। पुलिस माैके पर पहुंचकर दुकानें बंद करवा देगी। यहीं हद नहीं, ड्रग इंस्पेक्टर की लाचारी देखिए कि उन्होंने माना कि कई बार दुकानें वो बंद करवा चुके हैं, लेकिन दुकानदार उनकी सुनते ही नहीं हैं।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना