एक ओर चिकनी सड़कों पर चढ़ रही परत, दूसरी ओर गड्‌ढे से होकर हर रोज गुजर रहे हजारों लाेग

News - चुनाव नजदीक आते ही कई योजनाओं पर तेजी से काम शुरू हो गया है, ताकि करोड़ों रुपए का बिल बनाया जा सके। क्योंकि, जब तक काम...

Nov 11, 2019, 07:22 AM IST
चुनाव नजदीक आते ही कई योजनाओं पर तेजी से काम शुरू हो गया है, ताकि करोड़ों रुपए का बिल बनाया जा सके। क्योंकि, जब तक काम नहीं होगा, तब तक पैसा भी नहीं आएगा। इसका सबसे बड़ा उदाहरण है शहर की प्रमुख सड़कों पर चढ़ रही बिटुमिन की परत। पहले जर्जर सड़क की मरम्मत पथ निर्माण विभाग कराता था। लेकिन, स्मार्ट रोड बनाने के लिए चार प्रमुख सड़कें नगर विकास विभाग को हस्तांतरित हो गई। नगर विकास विभाग तीन वर्षों में स्मार्ट रोड तो नहीं बना सका, लेकिन अब चुनाव के समय राजभवन से बिरसा चौक, बिरसा चौक से एयरपोर्ट, राजभवन से बूटी मोड़ और सर्कुलर रोड में बिटुमिन की परत चढ़ा रहा है। इस पर करीब 10 करोड़ रुपए खर्च हो रहे हैं।

बरियातू रोड

नगर निगम, नगर विकास, पथ निर्माण के अफसर बेखबर

एक ओर करोड़ों रुपए खर्च चिकनी सड़कों पर परत चढ़ाई जा रही है, तो दूसरी ओर पिछले कई वर्षों से जर्जर सड़कों की सुधि लेने वाला कोई नहीं है। रातू रोड दुर्गा मंदिर से एलपीएन शाहदेव चौक तक की स्थिति नारकीय है। जगह-जगह गड्ढे हैं। तीखा मोड़ व जर्जर सड़क से दुर्घटनाएं हो रही हैं। यह स्थिति सालभर से अधिक समय से है, लेकिन नगर निगम, पथ निर्माण और नगर विकास के अफसरों को उन्हें दुरुस्त करने की फुर्सत नहीं है।

रातू रोड दुर्गा मंदिर के पीछे

पिस्कामोड़, पंडरा, आईटीआई बस स्टैंड भी बदहाल स्थिति में

रातू रोड में पिस्कामोड़ और पिस्कामोड़ से पंडरा व आईटीआई बस स्टैंड रोड की स्थिति भी खराब है। सड़क का अधूरा निर्माण होने से हिचकोले खाते हुए वाहन सवार गुजर रहे हैं। कुछ दिन पहले एनएचएआई की ओर से रोड के गड्ढाें को भरने के लिए डस्ट डाला गया था, लेकिन अब डस्ट की परत भी हट गई है। इससे फिर गड्ढाें में हिचकोले खाते हुए लोगों को गुजरना पड़ रहा है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना