80 ट्यूबवेल्स में से 10 पर ही ऑपरेटर एक ऑपरेटर के जिम्मे पांच ट्यूबवेल्स

Mohali Bhaskar News - जीरकपुर शहर में पीने के पानी की गुणवत्ता को लेकर एमसी बेहद लापरवाह है। किसी भी ट्यूबवेल पर पानी की चेकिंग नहीं...

Jan 15, 2020, 07:35 AM IST
Zirakpur News - out of 80 tubewells only 10 operators charge five tubewells for one operator
जीरकपुर शहर में पीने के पानी की गुणवत्ता को लेकर एमसी बेहद लापरवाह है। किसी भी ट्यूबवेल पर पानी की चेकिंग नहीं होती है। हरेक एरिया से यह शिकायत आ रही है कि पीने वाला पानी साफ नहीं है। नप ने शहर में पानी की सप्लाई का जिम्मा ठेकेदारों को सौंपा है और ठेकेदारों की मनमर्जी इस कदर पब्लिक पर भारी है कि गंदे पानी की शिकायत तक करने के लिए ट्यूबवेल्स पर कहीं भी लाॅग बुक नहीं रखी है। लाॅग बुक रखना तो दूर की बात, शहर के 80 ट्यूबवेल्स में से 10 पर ही ऑपरेटर मिलेंगे। एक ऑपरेटर के जिम्मे पांच-पांच ट्यूबवेल्स चल रहे हैं। सभी ट्यूबवेल्स पर टाइमर लगाए गए हैं जो ऑटोमेटिकली पानी की सप्लाई शुरू कर देते हैं। वह पानी साफ है या नहींं। इसकी चेकिंग कभी भी नहीं की गई।

पानी में क्लोरीन के लिए ट्यूबवेल्स पर कोई इंतजाम नहीं: ट्यूबवेल्स चलाने के दौरान पानी में क्लोरीन मिलाने के लिए कोई इंतजाम नहीं है। ट्यूबवेल पर ताला लगा है तो क्लोरीन का होना या न होना कोई मायने नहीं रखता। पानी के टैंक साफ कराने पड़ते हैं। इनमें कई किलो मिट्टी जमा हो जाती है। इसके अलावा वाटर प्यूरीफायर भी खराब हो रहे हैं।

बलजीत सिंह का कहना है कि पभात में पानी की सप्लाई पिछले एक साल से नहीं सुधर रही है। पिछले साल यहां गंदे पानी की वजह से 50 से ज्यादा लोग बीमार हो चुके हैं। पानी में क्लोरीन डालना तो दूर की बात है। एमसी को चाहिए कि हरेक ट्यूबवेल पर पानी की सप्लाई की जांच हो। उसकी गुणवत्ता को लेकर अगर कमी है तो उसमें सुधार किया जाए और पानी में क्लोरीन मिलाया जाए।

X
Zirakpur News - out of 80 tubewells only 10 operators charge five tubewells for one operator
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना