बैंड प्रतियोगिता में पाेर्टमोर शिमला की गर्ल्स टीम फर्स्ट

Hamirpur News - बाल सीसे स्कूल हमीरपुर में हुई समग्र शिक्षा के तहत स्टेट बैंड प्रतियोगिता में प्रदेश के विभिन्न स्कूलों की...

Nov 11, 2019, 07:20 AM IST
बाल सीसे स्कूल हमीरपुर में हुई समग्र शिक्षा के तहत स्टेट बैंड प्रतियोगिता में प्रदेश के विभिन्न स्कूलों की ब्याॅयज-गर्ल्स की 20 टीमों ने प्रतियाेगिता दिखाई। इनमें गर्ल्स में रावमापा पोर्ट मोर शिमला, प्रताप वर्ड स्कूल इंदौरा जिला कांगड़ा, पब्लिक सीनियर सेकंडरी स्कूल सुंदरनगर मंडी और ब्याॅयज में महावीर पब्लिक स्कूल सुंदरनगर, गुरू नानक पब्लिक स्कूल नालागढ़, रावमापा लोहारली हमीरपुर की टीम ने क्रमश: प्रथम द्वितीय तृतीय स्थान हासिल किया।

समापन कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि शिक्षामंत्री सुरेश भारद्वाज ने विजेताओं को ट्रॉफी और सभी प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया। उन्होंने कहा कि डिजिटल इंडिया में छोटी होती जा रही दुनिया में स्टूडेंट्स को एक्सीलैंस होना जरुरी है। शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाना, संस्कार युक्त, अनुशासित और शिक्षा के लिए प्रदेश सरकार हर प्रयास कर रही है। स्टूडेंट्स के व्यक्तित्व विकास के लिए कई तरह की गतिविधियां और प्रतियोगिताएं करवाई जा रही। इसी मंे समग्र शिक्षा की नई पहल बैंड प्रतियोगिता और कला उत्सव है।

इस मौके पर स्थानीय विधायक नरेंद्र ठाकुर, मंडलाध्यक्ष रमेश शर्मा, एसडीएम डाॅ. चिरंजी लाल, डीएसपी रेणु शर्मा, नगर परिषद अध्यक्ष सुलोचना देवी, उपाध्यक्ष दीप बजाज, एसपीडी आशीष कोहली, एसपीसी रेणु वाला, डिप्टी डायरेक्ट हायर जसवंत सिंह, डिप्टी डायेक्टर एलीमेंट्री बीके नड्डा, डाइट प्रिंसिपल राजेंद्र पाल शर्मा, प्रिंसिपल मंजु ठाकुर, प्रिंसिपल जेपी जीड़, अश्वनी कुमार, संजीव कुमार, एसएमसी स्टेट समन्वयक आंगमो कटवाल, दिनेश शर्मा सहित कई लोग मौजूद थे।

प्रतियोगिता में विजेताओं को सम्मानित करते शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज।

प्रशासन स्कूल की मदद भी किया करें

शिक्षा मंत्री ने प्रशासन को सख्त निर्देश दिए कि बाल स्कूल हमीरपुर प्रशासन की उनके कार्यक्रमों में मदद करता, प्रशासन भी स्कूल की मदद किया करें, उन्होंने कहा यह जिसे कहा जा रहा वह स्वयं समझ गए होंगे। वहीं मंत्री यहां बाल और गर्ल्स सीसे स्कूल में बैंड सुविधा न होने पर भी खफा दिखे, उन्होंने कहा कि विधायक नरेंद्र ठाकुर अपनी निधि से दोनों स्कूलों को बैंड को राशि देंगे, उन्हें प्रपोजल दें। हर स्कूल में बैंड से प्रार्थना होनी चाहिए। जिला मुख्यालय के स्कूलों में इसकी कमी हो और लौहरली जैसे ग्रामीण स्कूल में हो, तो क्या कहा जाए।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना