खूंटी के कई गांवों के लोगों ने बाहरी लोगों के प्रवेश पर लगई रोक, बैरिकेडिंग कर किया क्वारेंटाइन

News - खूंटी-मुरहू| खूंटी के ग्रामीण इलाकों में अज्ञात शत्रु कोरोना का जबर्दस्त खौफ है। यही वजह है कि दर्जनों गांवो में...

Mar 27, 2020, 07:20 AM IST

खूंटी-मुरहू| खूंटी के ग्रामीण इलाकों में अज्ञात शत्रु कोरोना का जबर्दस्त खौफ है। यही वजह है कि दर्जनों गांवो में बाहरी लोगो के प्रवेश पर रोक लगा दी है। गांव के मुंहाने पर ग्रामीणों ने बांस बल्ली से बैरिकेडिंग कर दी है। ताकि बाहरी लोग प्रवेश नही कर पायें। कुछ कुछ गांवो में ग्रामीण बैरिकेडिंग में नजर रखे हुए है। जिले के मुरहू, खूंटी तथा अड़की प्रखंड के ग्रामीण इलाकों में इस तरह की पहल की गयी है। इसका दायरा बढ़ता ही जा रहा है। मुरहू प्रखंड के आजाद बस्ती को पुरी तरह से लॉक डाउन कर दिया गया है। बस्ती के मुंहाने पर बैरिकेडिंग कर बैनर लगाकर लॉक डाउन लिख कर सरकार को सर्पोट करने की बात कही गयी है। मुरहू आजाद बस्ती के लोग जिस तरह से लॉक डाउन का समर्थन किया है उससे लगता है इस महामारी से बचने के लिए खुद को क्वाराईंटेन कर लिया है। बात यही नही रुकती है मुरहू के ही सुरूंदा,गोड़ाटोली तथा बिचना पेलौल के ग्रामीण भी गांव में बाहरी लोगो के प्रवेश पर रोक लगाते हुए गांव के मुंहाने पर बैरिकेडिंग कर दी है। इधर शहर के डहुगुटू बस्ती के लोगो ने भी बाहरी लोगो पर रोक लगा दी है। साथ ही खूंटी के मारंगहादा इलाके के बुरूडीह समेत कई गांव में भी बाहरी लोगो के प्रवेश पर रोक लगाते हुए बैरिकेडिंग की गयी है। उधर अड़की के भी कई गांव में बैरिकेडिंग करने की सूचना है। गांव के ग्रामीण इतना अधिक जागरूक हो गये है कि लॉक डाउन के मर्म को समझ गये है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना