दूसरे राज्यों में फंसे झारखंड के लोग फोन कर मांग रहे मदद

News - कोरोना को लेकर बनाया गया राज्य स्तरीय कंट्रोल रूम प्रभावी साबित हो रहा है। इसमें कोरोना से संबंधित बड़ी संख्या...

Mar 27, 2020, 07:46 AM IST

कोरोना को लेकर बनाया गया राज्य स्तरीय कंट्रोल रूम प्रभावी साबित हो रहा है। इसमें कोरोना से संबंधित बड़ी संख्या में फोन अा रहे हैं, जिसपर त्वरित कार्रवाई की जा रही है। पहले दिन बुधवार को 1169 फोन रिसीव किए गए। गुरुवार को भी शाम सात बजे तक 1000 से अधिक फोन अा चुके थे, जिसकी कंप्लाइलिंग की जा रही है। कंट्रोल रूम में प्रशासनिक के साथ-साथ, पुलिस व स्वास्थ्य विभाग के पदाधिकारियों को तीनों पालियों में लगाया गया है। राज्य स्तरीय कंट्रोल रूम जिला कंट्रोल रूम से समन्वय बनाकर काम कर रहा है। सभी जिलों में भी जिलास्तरीय कंट्रोल रूम बनाया गया है।

झारखंड के लोग बड़ी संख्या में दूसरे राज्यों में फंसे हैं। एेसे लोग राज्य स्तरीय कंट्रोल रूम में फोन कर रहे हैं। एेसे लोगों को वापस लाने के लिए संबंधित राज्यों में अधिकारियों से समन्वय स्थापित किया जा रहा है। गुरुवार को कंट्रोल रूम में पदस्थापित डॉ. यूसी सिन्हा ने बताया कि इसके अलावा कोरोना संक्रमण अौर उसके लक्षण के बारे में भी काफी फोन आ रहे हैं। ट्रैवल हिस्ट्री वाले मरीजों को जिला कंट्रोल रूम से समन्वय स्थापित कर स्वास्थ्य जांच की व्यवस्था की जा रही है।

स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने गुरुवार को कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए बने राज्य स्तरीय कंट्रोल रूम का निरीक्षण किया। उन्होंने अधिकारियों के साथ बैठक कर शिकायतों का फीडबैक लिया, साथ ही आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

कोरोना के लक्षण के बारे में भी लोग ले रहे जानकारी

कंट्रोल रूम में बड़ी संख्या में फोन अा रहे हैं। खासकर कोरोना के लक्षण के बारे में। बाहर राज्यों में फंसे लोग भी फोन कर रहे हैं। कंट्रोल रूम के माध्यम से लोगों की समस्याएं दूर की जा रही है।

जटाशंकर चौधरी, निदेशक माध्यमिक शिक्षा

दो दिनों में राज्य स्तरीय कंट्रोल रूम में अाए 2200 कॉल

स्वास्थ्य मंत्री ने कंट्रोल रूम का किया निरीक्षण

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना