--Advertisement--

चेन्नई की जीत में चमका ये क्रिकेटर, हरभजन सिंह को झिड़कने के बाद हुआ था फेमस

मैच में चेन्नई की टीम ने 3 विकेट पर 182 रन बनाए थे, जवाब में हैदराबाद की टीम 20 ओवरों में 6 विकेट पर 178 रन ही बना सकी।

Danik Bhaskar | Apr 22, 2018, 07:55 PM IST
IPL 2018 में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मैच में चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से अंबाती रायुडू ने शानदार बैटिंग करते हुए 79 रन की इनिंग खेली। IPL 2018 में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मैच में चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से अंबाती रायुडू ने शानदार बैटिंग करते हुए 79 रन की इनिंग खेली।

स्पोर्ट्स डेस्क. IPL 2018 के 20वें मैच में चेन्नई सुपरकिंग्स ने सनराइजर्स हैदराबाद को 4 रन से हरा दिया। मैच में हैदराबाद की टीम को जीत के लिए 183 रन का टारगेट रखा था, जवाब में वो 178 रन ही बना सकी। CSK की ओर से अंबाती रायुडू ने जबरदस्त बैटिंग करते हुए 37 बॉल पर 79 रन की इनिंग खेली। जिसमें उन्होंने 9 चौके और 4 सिक्स भी लगाए। अंबाती रायुडू अपने झगड़ालू स्वभाव के लिए जाने जाते हैं। IPL मैच में हरभजन को दिया था झिड़क...

- इस सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स से खेल रहे अंबाती रायुडू ने साल 2016 में हुए IPL में हरभजन सिंह को झिड़क दिया था। उस वक्त ये दोनों मुंबई इंडियन्स टीम में शामिल थे।
- ये घटना मुंबई इंडियन्स और राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स के बीच खेले गए मैच में हुई थी। भज्जी की बॉल पर पुणे के प्लेयर सौरभ तिवारी ने डीप मिडविकेट और लॉन्ग ऑन के बीच से शॉट लगाया था।
- इसके बाद रायुडू ने डाइव लगाकर बॉल रोकने की कोशिश की, लेकिन बॉल उनके हाथ पर लगने के बाद बाउंड्री के बाहर चली गई।
- मिस फील्ड से भड़के हरभजन ने बीच पिच से ही रायुडू को चिल्लाकर गाली दे डाली। गाली सुनकर रायुडू भी भड़क गए और उन्होंने भी भज्जी को कुछ कहा।
- माहौल बिगड़ता देख हरभजन सिंह उन्हें समझाने गए, लेकिन रायुडू उन्हें झिड़ककर चलते बने थे।

माफी मांगते दिखे थे भज्जी

- उस वक्त हरभजन ने बाउंड्री पर दौड़कर रायुडू का मूड नॉर्मल करने की कोशिश की। लेकिन, रायुडू नहीं माने और उन्हें झिड़कते हुए अपनी फील्डिंग पोजीशन पर चले गए थे।
- इसके बाद भी हरभजन रायुडू को समझाते और माफी मांगने की मुद्रा में नजर आए थे।
- इत्तेफाक से इस सीजन में एकबार फिर अंबाती रायुडू और हरभजन सिंह एक ही टीम यानी चेन्नई सुपर किंग्स में शामिल हैं।

ऐसा रहा इंटरनेशनल करियर

- 2013 में उन्होंने टीम इंडिया के लिए डेब्यू करते हुए जिम्बाब्वे के खिलाफ वनडे मैच भी खेला। वहीं 2014 में इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 डेब्यू किया।
- डेब्यू के बाद से ही वे भारत की ओर से 34 वनडे खेल चुके हैं। जिसमें 50.23 के एवरेज से 1055 रन उन्होंने बनाए हैं।

आगे की स्लाइड्स में देखें, अंबाती रायुडू की पर्सनल लाइफ से जुड़े फोटोज और बाकी फैक्ट्स...

2016 के एक आईपीएल मैच में हरभजन सिंह ने जब गाली देने के बाद रायुडू को समझाने की कोशिश की थी तो वो इस तरह झिड़क कर चले गए थे। 2016 के एक आईपीएल मैच में हरभजन सिंह ने जब गाली देने के बाद रायुडू को समझाने की कोशिश की थी तो वो इस तरह झिड़क कर चले गए थे।

एक झगड़े से बर्बादी की कगार पर पहुंचा था करियर

 

 

- रायुडू के करियर शुरू करने के बाद ही ये माना जाने लगा था कि वे बहुत जल्दी नेशनल टीम में जगह बना लेंगे। लेकिन एक झगड़े ने उनका करियर धीमा कर दिया।
- अंबाती रायुडू का ये झगड़ा हैदराबाद की टीम से खेलने वाले अर्जुन यादव के साथ साल 2005-06 के रणजी सीजन में हुआ था। अनंतपुर में हो रहे उस मैच में अर्जुन यादव हैदराबाद और अंबाती रायुडू आंध्र प्रदेश की टीम से खेल रहे थे।
- मैच की दूसरी इनिंग में रायुडू के आउट होने के बाद पीछे से अर्जुन ने कुछ कमेंट किया। जिसके बाद रायुडू ने उन्हें जवाब देते हुए कुछ कहा।
- दोनों के बीच बात इतनी बढ़ गई कि अर्जुन स्टम्प हाथ में लेकर रायुडू की तरफ बढ़े, रायुडू भी पीछे नहीं रहे, वे भी बैट लेकर उनकी ओर बढ़े।
- बात और बढ़ती इससे पहले ही फील्ड अंपायर्स ने दोनों को दूर कर दिया। मैच खत्म होने के बाद पता चला कि पवेलियन लौटते हुए रायुडू को लेकर अर्जुन ने कुछ आपत्तिजनक शब्द कहे थे। जिसके बाद रायुडू ने भी उनसे कहा कि वे अपने पिता (शिवलाल यादव) के बिना कुछ नहीं हैं।
- उस समय अर्जुन के पिता शिवलाल यादव हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन के सेक्रेटरी थे। इस घटना के बाद उन्होंने कड़ा एक्शन लेते हुए रायुडू को टीम से बाहर करवा दिया था। इस घटना के बाद रायुडू के क्रिकेट करियर पर जैसे ब्रेक लग गया था।

रायुडू ने अपना फर्स्ट क्लास डेब्यू 2001-02 में किया था। ( फोटो में वाइफ चेनुपाली विद्या के साथ अंबाती रायुडू) रायुडू ने अपना फर्स्ट क्लास डेब्यू 2001-02 में किया था। ( फोटो में वाइफ चेनुपाली विद्या के साथ अंबाती रायुडू)

क्रिकेट करियर ने लिए इतने उतार-चढ़ाव

 

- अर्जुन से झगड़े के बाद रायुडू ने बागी क्रिकेट लीग ICL के ज्वाइन कर लिया। जिसके बाद BCCI ने भी उन्हें बैन कर दिया।
- हालांकि कुछ साल बाद जब बैन हटा तो उन्होंने बड़ौदा टीम से खेलते हुए साल 2009-10 में वापसी की।
- इसके बाद उन्हें IPL में मुंबई इंडियन्स की टीम ने खरीद लिया। यहीं से उनके करियर को दूसरी लाइफलाइन मिल गई।
- वापसी के बाद उन्होंने वेस्ट झोन की ओर से क्रिकेट खेला। पिछले साल उन्होंने विदर्भ टीम से घरेलू क्रिकेट खेला।
- एकबार फिर सालों बाद इसी साल उनकी वापसी हैदराबाद की टीम में हुई है।

 

करियर की शुरुआती दिनों में रायुडू को भारत का नया सचिन तेंडुलकर कहा जाता था। करियर की शुरुआती दिनों में रायुडू को भारत का नया सचिन तेंडुलकर कहा जाता था।
डेब्यू फर्स्ट क्लास मैच में लगाई थी दो सेन्चुरी

- रायुडू ने साल 2001-02 में हैदराबाद की ओर से अपना फर्स्ट क्लास डेब्यू किया था। उस मैच में आंध्रप्रदेश के खिलाफ खेलते हुए उन्होंने एक डबल सेन्चुरी समेत दो सेन्चुरी लगाई थीं।
- उस मैच में उनकी बैटिंग देखने के बाद कई स्पेशलिस्ट ने उन्हें भारत का दूसरा सचिन बताया था। क्योंकि रायुडू का शॉट स्टाइल बहुत हद तक सचिन से मिलता-जुलता था।
- साल 2004 में हुए अंडर-19 वर्ल्ड कप में वे भारतीय टीम के कप्तान थे। उस टूर्नामेंट में उनके अंडर में आरपी सिंह, वीआरवी सिंह और सुरेश रैना खेले थे।
दोस्तों के साथ अंबाती रायुडू (रेड सर्किल में) दोस्तों के साथ अंबाती रायुडू (रेड सर्किल में)
IPL 2017 में एक मैच के दौरान रायुडू का टखना अचानक मुड़ गया था, जिसके बाद उन्हें मेडिकल फेसिलिटी देने के लिए मैदान से ले जाया गया था। IPL 2017 में एक मैच के दौरान रायुडू का टखना अचानक मुड़ गया था, जिसके बाद उन्हें मेडिकल फेसिलिटी देने के लिए मैदान से ले जाया गया था।
फोटो में वाइफ चेनुपाली विद्या के साथ अंबाती रायुडू। फोटो में वाइफ चेनुपाली विद्या के साथ अंबाती रायुडू।
साल 2015 में अंबाती रायुडू इंडिया ए टीम के कप्तान भी रहे थे। साल 2015 में अंबाती रायुडू इंडिया ए टीम के कप्तान भी रहे थे।
मुंबई इंडियन्स में रहने के दौरान साथी क्रिकेटर्स के साथ अंबाती रायुडू। मुंबई इंडियन्स में रहने के दौरान साथी क्रिकेटर्स के साथ अंबाती रायुडू।
अर्जुन यादव के साथ 2005-06 रणजी सीजन में हुए झगड़े ने उनकी लाइफ बदल दी। हालांकि अब दोनों फिर से एक ही टीम में हैं। अर्जुन यादव के साथ 2005-06 रणजी सीजन में हुए झगड़े ने उनकी लाइफ बदल दी। हालांकि अब दोनों फिर से एक ही टीम में हैं।