फीफा फाइनल: पोग्बा ने साथी खिलाड़ियों से कहा था- सपना पूरा होने से 90 मिनट दूर, जो हमें इतिहास में अमर कर देगा / फीफा फाइनल: पोग्बा ने साथी खिलाड़ियों से कहा था- सपना पूरा होने से 90 मिनट दूर, जो हमें इतिहास में अमर कर देगा

पॉल पोग्बा 1966 के बाद विश्व कप खिताब जीतने वाले इंग्लैंड के क्लब मैनचेस्टर युनाइटेड के पहले खिलाड़ी बने

DainikBhaskar.com

Jul 16, 2018, 02:48 PM IST
क्रोएशिया की राष्ट्रपित कोलि क्रोएशिया की राष्ट्रपित कोलि

  • पोग्बा ने फाइनल मैच के 59वें मिनट में इस विश्व कप में अपना पहला गोल किया
  • एंटोनी ग्रीजमैन 4 गोल के साथ हैरी केन (6) के बाद दूसरे टॉप स्कोरर रहे


मॉस्को (रूस). यहां के लुझनिकी स्टेडियम में 21वें विश्व कप के फाइनल में रविवार रात फ्रांस ने क्रोएशिया को 4-2 से हरा दिया। इस जीत के साथ वह दूसरी चैम्पियन बना। फाइनल से पहले टीम फ्रांस के स्टार मिडफील्डर पॉल पोग्बा ने ड्रेसिंग रूम में साथी खिलाड़ियों का हौसला बढ़ाया था। उन्होंने मैदान पर जाने से पहले टीम से कहा था कि हम अपने सपनों को पूरा करने से 90 मिनट में दूर हैं। यह इतिहास में हमें अमर कर देगा। फाइनल में जीत फ्रांस के लोगों को खुशी से सरोबार करेगी। उन्हें जश्न का मौका देगी।

पोग्बा ने कहा- बचपन का सपना पूरा हुआ: पॉल पोग्बा ने मैच के बाद कहा, "दो टीमें थी और एक कप था। हम दूसरी टीम को उस कप को नहीं ले जाने दे सकते थे। आशा है कि फ्रांस को हमारी जीत पर गर्व होगा। एक बार फिर शुक्रिया। सच में यह शानदार था। ऐसा लगा जैसे बचपन का सपना पूरा हो गया। मेरे पास कोई शब्द नहीं बचे।" इस मैच में पोग्बा ने भी एक गोल भी किया। वह 1966 के बाद विश्व कप खिताब जीतने वाले मैनचेस्टर युनाइटेड के पहले खिलाड़ी बन गए। पोग्बा के साथी खिलाड़ी और फाइनल के मैन ऑफ द मैच एंटोनी ग्रीजमैन ने कहा, " मेरे साथी खिलाड़ी शानदार है। हमारे बच्चे भविष्य में इस जीत पर भविष्य में गर्व करेंगे। हम सब अभी इस जीत की खुशी मना रहे हैं।"

पेनल्टी दिए जाने पर क्रोएशियाई कोच नाराज: क्रोएशिया के कोच डालिच ने कहा, "हमने बेहद शानदार खेला लेकिन पेनल्टी के कारण मैच हमारे हाथों से निकल गया। इसके बाद जीतना बेहद मुश्किल हो गया। मैं इस पेनल्टी के बारे में केवल एक वाक्य कहना चाहूंगा कि विश्व कप के फाइनल में आप इस प्रकार की पेनल्टी नहीं दे सकते। मैंने मैच के बाद अपने खिलाड़ियों से सिर ऊंचा रखने के लिए कहा।" फाइनल मैच के 34वें मिनट में क्रोएशिया के खिलाड़ी पेरिसिच के हाथ में गेंद लगी। इसके बाद फ्रांस के खिलाड़ियों ने वीएआर (वीडियो असिस्टेंट रेफरल) की मांग की। रेफरी ने फैसला वीएआर को सौंप दिया। 36वें मिनट में वीएआर ने हैंडबॉल से पेनल्टी फ्रांस को पेनल्टी मिल गई, जिस पर 39वें मिनट में ग्रीजमैन ने गोल कर टीम को 2-0 से आगे कर दिया था।

X
क्रोएशिया की राष्ट्रपित कोलिक्रोएशिया की राष्ट्रपित कोलि
COMMENT