• Hindi News
  • 'कंडोम ना पहनना जन्मसिद्ध अधिकार'

'कंडोम ना पहनना जन्मसिद्ध अधिकार'

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

विविड एंटरटेनमेंट और कैलिफ प्रोडक्शनस का दावा है की यह कानून अमरीकी संविधान में निहित अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का उल्लंघन है.

अमरीका की दो बड़ी पोर्न कंपनियों ने अदालत में लॉस एंजेलिस के एक ऐसे कानून को चुनौती दी है जिसमें उनकी बनाई वयस्क फिल्मों में कलाकारों द्वारा कंडोम पहनने को अनिवार्य कर दिया गया है.

'विविड एंटरटेनमेंट' और 'कैलिफ प्रोडक्शनस' का दावा है की यह कानून अमरीकी संविधान में निहित अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का उल्लंघन है.

लॉस एंजेलिस के इस कानून को जिसे 'मेज़र बी' के नाम से जाना जाता है उसे स्थानीय मतदाताओं ने नवंबर में पारित किया है.

इस नए कानून को एड्स हेल्थकेयर फाउंडेशन का समर्थन हासिल है और उनका कहना है कि इसकी वजह से इन वयस्क फिल्मों में काम करने वाले कलाकार एड्स से बचे रहेंगे.

विविड एंटरटेनमेंट के संस्थापक स्टीवन हिर्श ने समाचार एजेंसी एएफपी को बताया, "इस कानून को पलटने के लिए मैं प्रतिबद्ध हूँ."

उन्हें लगता है कि पोर्न उद्योग के वर्तमान मानदंड पर्याप्त हैं.

पोर्न फिल्मों के सितारे केडन क्रॉस और लोगान पीयर्स भी इस कानून के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं.

एचआईवी का ख़तरा

मेज़र बी नामक यह कानून 2 जनवरी 2012 में अस्तित्व में आया था. इस कानून के तहत कैलिफोर्निया में वयस्क फिल्मों को बनाने की अनुमति इस शर्त पर मिलेगी कि इन फिल्मों में काम करने वाले कलाकर कंडोम पहनें.

वयस्क फिल्मों को बनाने वालों का कहना है कि वो कैलिफोर्निया के बाहर जा कर अपनी फ़िल्में बनाने लगेगें लेकिन इसमें एक कानूनी बाधा है.

दरअसल 1988 में कैलिफोर्निया के सुप्रीम कोर्ट ने एक आदेश पारित किया था जिसकी वजह से वयस्क फिल्मों से जुड़े लोगों पर देह व्यापार विरोधी कानूनों के तहत मुकदमा नहीं चलाया जा सकता.

पहले भी लॉस एंजेलिस इलाके में वयस्क फिल्मों के निर्माण कई बार केवल एचआईवी के खतरे के कारण रुक चुका है. इस कानून से नाखुश लोग कहते हैं कि इन फिल्मों में काम करने वाले कलाकारों की नियमित रूप से जांच की जाती है.

पोर्न व्यवसाय से जुड़े लोगों का यह भी कहना है कि अगर इस क़ानून का पालन किया गया तो इससे उनका व्यापार प्रभावित होगा और गैर कानूनी ढंग से फ़िल्में बनने लगेंगी.

ब्रितानी पोर्न स्टार किरन ली का कहना है "हमने पाया है कि घरों पर पोर्न फ़िल्में देख रहे लोग कंडोम के साथ पोर्न को नहीं देखना चाहते."