Hindi News »Lifestyle »Auto» Prepare Your Bike For Monsoon Riding And Use Anti Puncture Liquid

इस बारिश आपकी बाइक या स्कूटर नहीं होगा पंचर, बस टायर में डाल दें ये लिक्विड

प्री-मानसून ने लगभग पूरे देश में दस्तक देना शुरू कर दी है। मौसम विभाग ने भी इस साल अच्छी बारिश होने की उम्मीद जताई है।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Jun 06, 2018, 07:16 PM IST

इस बारिश आपकी बाइक या स्कूटर नहीं होगा पंचर, बस टायर में डाल दें ये लिक्विड

ऑटो डेस्क।प्री-मानसून ने लगभग पूरे देश में दस्तक देना शुरू कर दी है। मौसम विभाग ने भी इस साल अच्छी बारिश होने की उम्मीद जताई है। बारिश के मौसम में गर्मी और सर्दी की तुलना में बाइक, स्कूटर या फिर ऐसी गाड़ियां जिनके टायर कम mm के होते हैं, उनमें पंचर होने की प्रॉब्लम बढ़ जाती है। एक्सपर्ट के मुताबिक इसकी वजह बारिश में सड़कों का खराब होना होता है। बारिश में अक्सर सड़कें उखड़ जाती हैं। ऐसे में पुराने टायर में बारीक गिट्टी अंदर चली जाती है और टायर पंचर हो जाता है। इस प्रॉब्लम को एंटी पंचर लिक्विड से दूर कर सकते हैं।

# एंटी पंचर लिक्विड

- मार्केट में अब कई कंपनियों के ऐसे लिक्विड मौजूद हैं, जिन्हें एंटी पंचर लिक्विड के नाम से जाना जाता है।
- इन लिक्विड को ऑनलाइन और ऑफलाइन खरीदा जा सकता है। ऑनलाइन इनकी बड़ी रेंज मौजूद है।
- इस तरह के लिक्विड की कीमत 500 रुपए से शुरू होकर 800 और 1000 रुपए तक है। कीमत के साथ इनकी क्वांटिटी भी बढ़ जाती है।

# ऐसे करता है काम

- इस लिक्विड को बाइक, स्कूटर या कार के टायर में फिल किया जाता है। फिल करने की 2 प्रॉसेस हैं।
- पहली इस लिक्विड को किसी इंजेक्शन की मदद से टायर में इंटर किया जाता है। और दूसरा टायर की नॉब से इसे अंदर इंटर किया जाता है।
- टायर में पहुंचने के बाद ये अंदर का पूरा एरिया कवर कर लेता है। अब यदि टायर पंचर होता है तब पंचर वाली जगह से ये लिक्विड बाहर आता है और सूख जाता है।
- यानी हवा बाहर नहीं निकल पाती। इस लिक्विड को सेल करने वाली कई कंपनियां 10 हजार किलोमीटर तक इसके काम करने की गारंटी भी दे रही हैं।
- इन लिक्विड में नाइट्रोजन का यूज किया जाता है, जो टायर को कूल करने का काम भी करता है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Auto

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×