--Advertisement--

एक मंत्र- जिसके जाप से दूर हो सकता है बुरा समय और बढ़ सकता है धन लाभ

राहु के मंत्र का जाप करने से कुंडली के राहु दोष दूर हो सकते हैं।

Danik Bhaskar | Apr 29, 2018, 05:28 PM IST

रिलिजन डेस्क। ज्योतिष में राहु को छाया ग्रह माना गया है। ये एक रहस्यमयी ग्रह है। इसकी वजह से जीवन में अचानक बड़े-बड़े उलटफेर होने की संभावनाएं बनती हैं। अगर किसी की कुंडली में राहु की स्थिति अशुभ है तो व्यक्ति को आसानी से सफलता नहीं मिल पाती है और परेशानियां बनी रहती है। किसी भी काम में सही मानसिकता नहीं बन पाती है और सही समय पर सही निर्णय नहीं ले पाते हैं। यहां जानिए उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. दयानंद शास्त्री के अनुसार राहु के दोषों को दूर करने के लिए खास उपाय...

राहु के अशुभ होने के संकेत

अगर आपकी कुंडली में राहु दोष है तो आपको मानसिक तनाव, आर्थिक नुकसान, स्वयं की कार्यक्षमता को लेकर गलतफहमी, आपसी तालमेल में कमी, बात-बात पर क्रोधित होना, वाणी का कठोर होना और व्यक्ति सामान्य बातचीत में भी अपशब्द का उपयोग करने लगता है। साथ ही अगर आपकी कुंडली में राहु की स्थिति अशुभ हो तो आपके हाथ के नाखून अपने आप टूटने लगते हैं।

राहु के लिए करें इस मंत्र का जाप

ह्रीं अर्धकायं महावीर्य चंद्रादित्य विमर्दनम्।

सिंहिका गर्भ संभूतं तं राहुं प्रणमाम्यहम्।

ऊँ भ्रां भ्रीं भ्रौं स: राहवे नम:।।

ऊँ शिरोरूपाय विद्महे अमृतेशाय धीमहि तन्नो राहु प्रचोदयात्।

राहु के लिए इस मंत्र का जाप रात के समय करना चाहिए। घर के मंदिर में कालभैरव या शिवजी का पूजन करें। यहां बताए गए राहु मंत्र का जाप रात में 18,000 बार और लगातार 40 दिन तक करना चाहिए।

अगर आप चाहे तो सिर्फ इस मंत्र ऊँ भ्रां भ्रीं भ्रौं स: राहवे नम: का जाप भी कर सकते हैं।

इन चीजों का कर सकते हैं दान

राहु के लिए गोमेद, सोना, सीसा, तिल, सरसों का तेल, नीला कपड़ा, काला फूल, तलवार, कंबल, घोड़ा, सूप आदि चीजों का दान कर सकते हैं।