• Home
  • National
  • Rahul Gandhi attack on PM Modi said Vijay Mallya Great Escape aided by CBI
--Advertisement--

माल्या विवाद: राहुल ने कहा- सीबीआई ने प्रधानमंत्री की इजाजत के बिना नोटिस बदला, यह समझ से परे

विजय माल्या के प्रत्यर्पण केस में लंदन की कोर्ट 10 दिसंबर को फैसला सुनाएगी

Danik Bhaskar | Sep 14, 2018, 06:16 PM IST
राहुल गांधी ने गुरुवार को वित् राहुल गांधी ने गुरुवार को वित्

- भाजपा-कांग्रेस लगा रहीं एक-दूसरे पर माल्या की मदद का आरोप
- माल्या ने कहा था- देश छोड़ने से पहले मैं वित्त मंत्री से मिला था
- भाजपा का आरोप- किंगफिशर एयरलाइन्स में मुफ्त में सफर करता था गांधी परिवार

नई दिल्ली. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का कहना है कि यह बात समझ से परे है कि सीबीआई ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इजाजत के बिना ही विजय माल्या के खिलाफ लुकआउट नोटिस बदल दिया होगा। राहुल ने यह बात सीबीआई के 2015 में जारी हुए दो सर्कुलर के संदर्भ में कही। पहले सर्कुलर में कहा गया था कि माल्या को एयरपोर्ट पर हिरासत में लिया जाए। बाद में सर्कुलर को बदलकर कहा गया कि माल्या के नजर आने पर एजेंसी को सूचित किया जाए। बैंकों का 9000 करोड़ रुपए का कर्जदार माल्या 2 मार्च 2016 से लंदन में है।

राहुल ने ट्वीट किया- ''सीबीआई सीधे प्रधानमंत्री को रिपोर्ट करती है। यह समझ से परे है कि इस हाईप्रोफाइल और विवादित मामले में सीबीआई ने लुकआउट नोटिस बिना प्रधानमंत्री की इजाजत के बदल कैसे दिया।''

माल्या के लंदन जाने की बात एजेंसियों को क्यों नहीं बताई: कांग्रेस अध्यक्ष ने गुरुवार को अरुण जेटली पर झूठ बोलने का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा कि वित्त मंत्री ने लंदन भागने में विजय माल्या की मदद की। जब उन्हें इस बात की जानकारी थी तो ईडी और सीबीआई को क्यों नहीं बताया।

पुनिया बोले-मैंने जेटली और माल्या को बात करते देखा था : वहीं, कांग्रेस नेता पीएल पुनिया ने दावा किया था कि उन्होंने 1 मार्च 2016 को संसद भवन में जेटली और माल्या को करीब 15 से 20 मिनट बात करते हुए देखा था। इसके बाद भाजपा ने कहा, ''कभी-कभी लगता है कि किंगफिशर एयरलाइंस माल्या की बजाय राहुल गांधी की थी। गांधी परिवार इसमें मुफ्त सफर करता था।''