घात लगाए बदमाशों ने शाैच जाने के दौरान खदेड़कर मारीं गाेलियां, मौत

News - वर्चस्व को लेकर पिछले दो दशक से हत्या व गोलीबारी को लेकर सुर्खियों में बने रहने वाले बरियारपुर, देवाचक का इलाका एक...

Nov 10, 2019, 07:51 AM IST
वर्चस्व को लेकर पिछले दो दशक से हत्या व गोलीबारी को लेकर सुर्खियों में बने रहने वाले बरियारपुर, देवाचक का इलाका एक बार फिर गोलियों की तड़तड़ाहट से थर्रा उठा। शनिवार की सुबह मलयपुर थानाक्षेत्र के करमन गांव में अशोक यादव नामक युवक की तीन गोली मारकर हत्या कर दी गई।

सुबह करीब 6:45 बजे घर के सामने बहियार में शौच करने गए अशोक यादव पर घात लगाए अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी। झाड़ियों में छिपकर अपराधियों ने घेराबंदी कर रखी थी। पहली गोली चलने के बाद अशोक यादव अपराधियों से बचकर भागने लगा तो झाड़ियों में छिपा एक अपराधी द्वारा उसे खदेड़ कर तकरीबन 200 मीटर की दूरी पर तीन गोली मार दी। अशोक की मौके पर ही मौत हो गई। घटना के दौरान खेत की जुताई कर रहे एक ग्रामीण ने हल्ला किया तो अपराधियों ने उसपर भी गोली चलाई, हालांकि उसे गोली नहीं लगी और उसने भागकर अपनी जान बचाई।

50 हजार रिश्वत लेते पकड़े गए सीतामढ़ी सिविल सर्जन

भास्कर न्यूज|सीतामढ़ी

निगरानी विभाग की टीम ने सीतामढ़ी के सिविल सर्जन डाॅ. रविंद्र कुमार को 50 हजार रुपए की रिश्वत लेते उनके आवास से गिरफ्तार कर लिया। रुन्नीसैदपुर में पदस्थ डाटा इंट्री ऑपरेटर केशव कुमार ने सीएस के खिलाफ निगरानी में शिकायत की थी। केशव ने बताया था कि तबादला रोकने के एवज में उनसे सीएस 50 हजार रुपए मांग कर रहे हैं। शुक्रवार सुबह साढ़े 6 बजे केशव एक पत्र पर हस्ताक्षर करवाने उनके आवास पर पहुंचे और रिश्वत की रकम दी। वहां पहले से पहुंची निगरानी ने सिविल सर्जन को गिरफ्तार कर लिया। जानकारी के मुताबिक डीएम के अनुमोदन के बिना ही सिविल सर्जन ने 19 अक्टूबर को 6 कर्मियों की बदली कर दी थी।

आर्म्स एक्ट के मामले में 3 बार जेल भी जा चुका था अशोक

हत्या के बाद बिलखते मृतक अशोक यादव के परिजन।

मलयपुर थानाक्षेत्र के करमन गांव निवासी मोहन यादव का पुत्र अशोक यादव भी अपराधिक छवि का बताया जाता है। आर्म्स एक्ट के मामले में यह तीन बार जेल भी जा चुका था। चार माह पूर्व अशोक जेल से छूटकर बाहर आया था। बताया जाता है कि बरियारपुर पंचायत के पूर्व मुखिया मकेश्वर यादव की हत्या के बाद उसके परिजनों को अशोक यादव पर साजिश रचने की अाशंका थी। 20 जून की सुबह जब मुखिया मकेश्वर यादव की गोली मारकर हत्या की गई, उस वक्त अशाेक यादव जेल में बंद था। अशोक यादव की हत्या मामले में मृतक के भाई मनोज यादव के द्वारा मलयपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। दर्ज प्राथमिकी में कुल सात लोगों को नामजद किया गया है। जिसमें मणी राय के अलावा बरियारपुर पंचायत के पूर्व मुखिया देवाचक गांव निवासी स्व. मकेश्वर यादव का भाई अजीत यादव, बलराम यादव और सकलदेव यादव, बहनोई सहदेव यादव, भांजा राजू यादव के अलावा उपेंद्र यादव शामिल है।

गिरफ्तार सिविल सर्जन व निगरानी टीम।

गृह मंत्रालय के निर्देश पर बढ़ी नेपाल सीमा पर चौकसी, हो रही गहन जांच

भारत-नेपाल सीमा पर तैनात एसएसबी 45वीं बटालियन द्वारा भी सीमा पर की जा रही चेकिंग

भास्कर न्यूज | सुपौल

सुप्रीम कोर्ट निर्णय को सभी पक्षों ने अपनी मौन स्वीकृति देते हुए कुछ भी कहने से परहेज किया है। इधर, प्रशासन की ओर से सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे। थाना क्षेत्र को चार सेक्टर में बांट कर सभी सेक्टरों में दंडाधिकारी के साथ पुलिस गश्ती कर रही थी। दूसरी ओर सभी सार्वजनिक स्थलों पर पुलिस बल की तैनाती देखने को मिली।

मुख्यालय स्थित गोल चौक, हटिया चौक, कारगिल चौक, बर्मा सेल, बादशाह चौक, भवानीपुर चौक, प्रखंड कार्यालय, कुमार चौक, अनुमंडल कार्यालय सहित अन्य जगहों पर पुलिस तैनात थी। वहीं, भारत-नेपाल सीमा पर तैनात एसएसबी 45वीं बटालियन द्वारा भी सीमा पर विशेष चौकसी बरती जा रही है। सभी 18 बीओपी पर जवान मुस्तैदी से तैनात दिखे। जहां हर आने-जाने वालों की सघन तलाशी ली जा रही थी। कमांडेंट एचके गुप्ता ने बताया कि पहले से ही धारा 370 हटाए जाने के बाद सीमा पर तैनात एसएसबी अलर्ट पर है। अब अयोध्या के मामले में सुप्रीम कोर्ट के आए फैसले के बाद गृह मंत्रालय द्वारा प्राप्त निर्देश को लेकर सीमा क्षेत्र में प्रवेश करने वाले लोगों की पहचान और जरूरी कागजात की जांच की जा रही है।

रांची, रविवार 10 नवंबर, 2019

मोतिहारी : पुलिस ने रेलवे ट्रैक से युवक का शव बरामद किया

भास्कर न्यूज | घोड़ासहन

घोड़ासहन रेलवे स्टेशन के पश्चिमी सिग्नल के निकट रेलवे ट्रैक के बगल से एक युवक का शव शनिवार की सुबह पुलिस ने बरामद किया। शव की पहचान स्थानीय बीरता चौक निवासी राम एकबाल सिंह के 32 वर्षीय पुत्र सुजीत कुमार सिंह उर्फ गुड्डू सिंह के रूप में हुई है। सुजित अपना घर छोड़कर पट्टीदारी के एक दादा के घर रहता था। मृतक के रिश्ते के दादा अधिवक्ता वीरेंद्र सिंह ने अज्ञात बदमाशों द्वारा गुड्डू की हत्या कर शव को रेलवे ट्रैक पर फेंके जाने की आशंका व्यक्त की है। इधर, आरपीएफ ने शव पर लगे मिट्टी के निशान को देख युवक की हत्या अन्यत्र कर ट्रैक के निकट शव फेंकने की आशंका जताई। मृतक के सिर पर चोट का गहरा निशान है।

बेतिया में स्काॅर्पियो-टेम्पो की टक्कर में तीन महिलाओं समेत सात की मौत

बेतिया में हुआ हादसा, स्काॅर्पियो चालक वाहन छोड़कर फरार

क्राइम रिपोर्टर | बेतिया

मझौलिया थाना के एनएच 727 पर जौकटिया के पास शनिवार की शाम ओवरटेक के दौरान स्कॉर्पियो और टेम्पो के बीच आमने-सामने की टक्कर में टेम्पो पर सवार पांच लोगों की मौत घटनास्थल पर हो गई जबकि दो ने अस्पताल जाने के क्रम में दम तोड़ दिया। एक छह वर्षीय बच्चे की हालत नाजुक है। बताया जाता है कि पूर्वी चंपारण के हरिसिद्धि थाना क्षेत्र के तीन परिवार के लोग टेम्पो से बेतिया आ रहे थे। इधर, बेतिया से एक स्काॅर्पियो तेज गति में ओवरटेक कर रही था। इसी दौरान दोनों की आमने-सामने टक्कर हो गई। टक्कर इतनी भीषण थी कि टेम्पो के परखचे उड़ गए। स्कॉर्पियो चालक वाहन छोड़कर फरार हो गया। मृतकों में हरसिद्धि के जोगिया वार्ड-4 के जलेशर मांझी, प|ी यशोदा, 4 वर्षीय पुत्र शिवकुमार, गणेश मांझी, प|ी मुन्नी, पहाड़पुर के सुरेश मांझी की प|ी बेदामी व पुत्री सोनी शामिल हैं।

जमीन बेचने के नाम पर 14 लाख की धोखाधड़ी

बेतिया| मझौलिया थाना में जमीन बेचने के नाम पर 14 लाख रूपए की धोखाधड़ी करने का मामला सामने आया है। मामले में बखरिया गांव निवासी वीरबहादुर यादव ने मनुआपुल ओपी में केस दर्ज कराया है। आवेदन में कहा है कि वीरबहादुर यादव बेतिया आए थे। इसी क्रम में पूर्व परिचित व बैरिया थाना क्षेत्र के सिसवा सरैया गांव निवासी राजेश कुमार ने कहा कि उसकी योगापट्‌टी थाना क्षेत्र के गुरवलिया गांव में जमीन है। जिसकी बिक्री कर व्यवसाय करना है। इसके बाद आरोपी ने जमीन दिखाई। आरोपी द्वारा यह भी कहा गया कि उसके भाई की मृत्यु हो चुकी है। उसके भाई की प|ी व आरोपी जमीन लिखेंगे। जमीन का महादा बनाकर 14 लाख रुपए दिया गया। इसके बाद वीरबहादुर ने जमीन की पैमाईश कराकर बाउंड्री करा ली। बाद में पता चला कि जमीन आरोपी के ननिहाल की है। 5 लाख रुपए बाउंड्री आदि में खर्च हुए।

भूमि विवाद में घायल की मौत, विरोध में सड़क जाम

जमुई| जमीनी विवाद में घायल युवक की पीएमसीएच में इलाज के दौरान मौत हो गई। युवक की मौत से आक्रोशित परिजनों ने शनिवार को मलयपुर- लक्ष्मीपुर मुख्यमार्ग एनएच 333 को बाबा ढावा के समीप डेढ़ घंटे तक जाम कर दिया। बता दें कि बरहट में 7 नवंबर की देर शाम जमीनी विवाद को लेकर कटारी यादव, द्वारिका यादव, प्रमोद यादव ने बगल के ही सुरेश यादव के पुत्र शैलेश यादव पर टांगी से हमला कर दिया था। जिसमें वह बुरी तरह से घायल हो गया था। जिसे इलाज के लिए पीएमसीएच पटना रेफर कर दिया गया था। जहां इलाज के दौरान शुक्रवार की रात उसकी मौत हो गई। जिसके बाद नाराज परिजनों ने आरोपी की गिरफ्तारी की मांग को लेकर शनिवार की सुबह 8 बजे से लेकर 9:30 बजे तक मलयपुर- लक्ष्मीपुर मुख्य मार्ग को जाम कर हत्यारे की गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे। सड़क जाम की सूचना पाकर बरहट थानाध्यक्ष मो. हलीम पहुंचे और आरोपी की जल्द गिरफ्तारी का आश्वासन दिया। इसके बाद जाम को हटाया गया।

फैक्ट्री से फोम मशीन सहित अन्य कीमती सामान चोरी

सूर्यगढ़ा का मामला, चोरी की प्राथमिकी दर्ज हुई

भास्कर न्यूज | सूर्यगढ़ा (लखीसराय)

शुक्रवार की देर रात सूर्यगढ़ा थाना क्षेत्र के रामपुर गांव के निकट एनएच 80 पर स्थित आदर्श इंडस्ट्रीज मिनी फोम फैक्ट्री में चोरों ने चोरी कर ली। शनिवार को फैक्ट्री मालिक रामपुर गांव निवासी अरविन्द कुमार सिंह के पुत्र धीरज कुमार के फैक्ट्री पर आने के बाद मामले का पता चला। चोरों ने फैक्ट्री के पीछे के खिड़की पर ईंट हटाकर फैक्ट्री में घुसकर चोरी की घटना अंजाम दिया। चोरों ने फैक्ट्री में मौजूद सभी मिशनरी सामान सहित फोम से प्लेट व थाली बनाने वाले मशीन के अलावे मोटर, कम्प्रेसर मशीन सहित कुल 05 लाख से अधिक रुपए की संपत्ति उड़ा ली।

खबर सुनते ही गांव के ग्रामीणों की भीड़ फैक्ट्री के समीप इकट्ठा हो गरई। सूचना के बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामले की छानबीन की। ग्रामीण सूत्रों के अनुसार फैक्ट्री मालिक दो दिनों के लिए बाहर गए हुए थे। इसी का फायदा उठाकर चोरों ने घटना को अंजाम दिया। ग्रामीणों के अनुसार चोरों ने फैक्ट्री के वाहर वाहन लगाकर सभी मशीन को उस पर लाद कर लेते गए। वजन वाली मशीन को बिना वाहन का चोरी करना संभव नहीं था।

अपहरण का आरोपी गिरफ्तार, भेजा जेल

शंकरपुर (मधेपुरा)| सोनवर्षा पंचायत के सोनवर्षा गंाव से एक जुलाई को शादी की नीयत से अपहृत 23 वर्षीय युवक के मामले के नामजद आरोपी पंकज कुमार को पुलिस ने पांच माह बाद उसके घर से गिरफ्तार कर लिया। जानकारी के अनुसार सोनवर्षा निवासी प्रयाग यादव के 23 वर्षीय पुत्र दीपक कुमार का अपहरण गांव के ही तीन युवकों के द्वारा कर लिया गया था। दीपक के पिता प्रयाग प्रसाद यादव के द्वारा सोनवर्षा के दो और मोजमा के एक युवक को नामजद आरोपी बनाया गया था।

13

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना