पीलीबंगा सरकारी अस्पताल के डॉक्टर से बदतमीजी, लिखित माफीनामा देकर छुड़ाया पीछा

Hanumangarh News - आपातकाल के दौर में अपनी जान जोखिम में डालकर मरीजाें की सेवा कर रहे चिकित्सकों व चिकित्साकर्मियों का सम्मान करने...

Mar 27, 2020, 09:16 AM IST

आपातकाल के दौर में अपनी जान जोखिम में डालकर मरीजाें की सेवा कर रहे चिकित्सकों व चिकित्साकर्मियों का सम्मान करने की बजाय उनके साथ बदतमीजी से पेश आकर अपनी कायरता का प्रदर्शन कर रहे हैं। कस्बे के सरकारी अस्पताल में भी बीते बुधवार की शाम को ड्यूटी पर कार्यरत एक सरकारी चिकित्सक के साथ दो युवकों ने अभद्रता कर कुछ ऐसा ही किया। परंतु अस्पताल में कार्यरत अन्य चिकित्साकर्मियों व मौके पर पहुंची पुलिस की सजगता से इन युवकों को यह अभद्रता भारी पड़ गई। प्राप्त जानकारी के अनुसार वार्ड 11 का निवासी राकेश पुत्र बुधराम नायक अपने साथी गौरव पुत्र दर्शन सोनी निवासी वार्ड 12 के साथ अपनी भाभी सुनीता प|ी रवि नायक को सर्दी जुकाम होने पर डॉक्टर को दिखाने के लिए सरकारी अस्पताल लाया था। जहां वे दोनों अपनी भाभी को अस्पताल के बाहर ही खड़ा कर अंदर चले गए और ड्यूटी पर कार्यरत डॉ. संजीव कुलहरि, जो कि लेबररूम से डिलीवरी करवाकर बाहर निकले थे, को दोनों युवक डॉक्टर को तुरंत उनकी भाभी को देखने के लिए जोर देने लगे। डॉक्टर ने डिलीवरी प्रसूता की दवा लिखकर उनके मरीज को देखने को कहा तो इतने में दोनों युवक भड़क कर गालीगलौज करने लगे। डॉक्टर ने आपत्ति जताई तो उन्होंने डॉक्टर के साथ अभद्रता से पेश आते हुए हाथापाई करनी शुरू कर दी। शोरशराबा सुनकर अस्पताल में कार्यरत अन्य स्टाफ व बाहर स्थित मेडिकल स्टोर्स व लैब संचालकों ने मौके पर पहुंचकर दोनों युवकों को पकड़कर पुलिस को सूचित किया। पुलिस ने भी मौके पर पहुंचकर इस आपातकाल की परिस्थिति में अस्पताल में कार्य कर रहे चिकित्सक के साथ बदतमीजी करने वाले युवकों को जमकर झाड़ पिलाई। इसी बीच युवकों के परिजनों ने मौके पर पहुंचकर चिकित्सक से माफी मांगी और दोनों युवकों ने डॉक्टर को लिखित में माफीनामा सौंपकर अपना पिंड छुड़ाया।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना