• Hindi News
  • Rajasthan
  • Bundi
  • Bundi News rajasthan news do not rush keep distance after two days people gathered at the open grocery stores this good initiative here taking vigil in getting the goods

भीड़ न लगाएं, दूरी रखें...दो दिन बाद खुली किराने की दुकानों पर उमड़े लोग, इधर-यह अच्छी पहल-सामान लेने में बरत रहे सतर्कता

Bundi News - लॉकडाउन में जरूरतमंद परिवारों की मदद करने के लिए हर कोई घर से बाहर निकलने लगा है। संकट में मदद अच्छी बात है, पर...

Mar 27, 2020, 07:20 AM IST
Bundi News - rajasthan news do not rush keep distance after two days people gathered at the open grocery stores this good initiative here taking vigil in getting the goods

लॉकडाउन में जरूरतमंद परिवारों की मदद करने के लिए हर कोई घर से बाहर निकलने लगा है। संकट में मदद अच्छी बात है, पर सवाल यह है कि कहीं ये मददगार अपनी और दूसरों की जिंदगी को संकट में तो नहीं डाल रहे, इस पर प्रशासन को ध्यान देना होगा। महिलाएं भी घर-घर जाकर जरूरतमंदों के लिए मदद मांगने बाहर निकल रही हैं। कोई भोजन बांट रहा है तो कोई दफ्तरों-संस्थानों में जाकर चाय-दूध पिला रहा है, कोई मास्क बांट रहा है। इनमें बहुत से मददगारों के पास प्रशासनिक इजाजत भी नहीं है। हर कोई सहायता के नाम पर सड़कों पर उतर आएगा तो लॉकडाउन का मकसद ही खत्म हो जाएगा। मदद बांटते-बांटते संक्रमण नहीं बांट दें, इसके लिए जरूरी है कि इस पर प्रशासन की मॉनिटरिंग हो। मदद के साथ बचाव और सुरक्षा भी जरूरी है।

लॉकडाउन के चौथे दिन किराना की दुकानें खुलीं तो लोगों की लाइनें लग गई। किराना दुकानदारों ने दो दिन तक दुकानें बंद रखने का फैसला लिया था, जैसे ही शुक्रवार को दुकानें खुली तो लोगों की भीड़ लग गई। सजग दुकानदारों सोशल डिस्टेंस के लिए दुकानों के आगे सफेद रंग से निर्धारित दूरी पर गोले बना दिए तो कइयों ने बारदाना डाल दिया, लोग उन्हें पर खड़े होकर सामान लेते नजर आए तो लाइन लगाकर गैप में खड़े होकर सामान लिया। कई लापरवाही दुकानदारों की दुकानों पर भीड़ लगी रही। इधर नगरपरिषद ने सड़कों, पुलिस थानों व सार्वजनिक जगहों को सेनेटाइज किया।

10 हजार सेनेटाइजर जल्द दिए जाएंगे

कलेक्टर अंतरसिंह नेहरा ने कहा कि कोरोना को लेकर जिले में स्थिति नियंत्रण में है। आमजन सहयोग कर पूरी सावधानी बरतें। गुड्स ट्रांसपोर्ट-कृषि उपकरणों को नहीं रोका जा रहा है। मशीनें आ जा सकती है। यह बात उन्होंने प्रेस वार्ता में कहीं। उन्होंने कहा कि खाद्य सामग्री को लेकर सीईओ को नोडल ऑफिसर बनाया गया है। जल्द ही 10 हजार सेनेटाइजर बूंदी आ जाएंगे। मास्क की कमी है, आमजन अपने घरों में ही मास्क बनाकर लगा रहे हैं।

अब तक 908 वाहन जब्त : एसपी

एसपी शिवराज मीणा ने कहा कि बूंदी जिले में 17 नाके बनाए गए हैं। भीलवाड़ा जिले से लगती हुई सीमा पर 9 चैकपोस्ट बनाई है, जहां पुलिसकर्मी अपनी ड्यूटी कर रहे हैं। अब तक 908 वाहनों को जब्त किया गया है। 308 वाहनों के चालान बनाए गए हैं। उन्होंने आमजन से अपील की है कि वे बेवजह वाहनों से बाजारों में नहीं घूमे। आवश्यक होने पर ही बाहर आए।

थोक फल-सब्जीमंडी बंद-पुलिस के बर्ताव से नाराज आढ़तियों-किसानों ने किए हाथ खड़े

पुलिस के बर्ताव से नाराज आढ़तियों व किसानों ने थोक फल-सब्जीमंडी बंद करने का निर्णय लिया है। आढ़तियों के अनुसार गुरुवार सुबह मंडी में पुलिसकर्मी पहुंचे और उन्होंने लाठियां फटकारना शुरू कर दिया। भयवश किसान अपनी सब्जी की बाेरियां छोड़कर भाग गए। किसान काफी मेहनत से सब्जी की पैदावार करता है, लेकिन उन्हें गुरुवार को पुलिस के डर से आैने-पाैने दामों में फुटकर सब्जी विक्रेताओं को बेचकर अपने गांवों में लाैटना पड़ा। इससे पहले अव्यवस्थाओं पर मंडी के आढ़तियों की बैठक हुई। इसके बाद आढ़तियों ने मंडी सचिव को ज्ञापन देकर 31 मार्च तक थोकमंडी बंद करने की घोषणा कर दी गई। अध्यक्ष अशोक जयसिंघानी ने बताया कि थोकमंडी खुलने का समय सुबह 7 से 11 बजे का तय है। संक्रमण राेकने के लिए मंडी को समय से पहले ही बंद किया जा रहा है। मंडी में भीड़ होना स्वाभाविक है, क्योंकि मंडी खुलने के साथ खरीदार अाने लग जाते हैं। व्यवस्था बनाने के लिए प्रशासन ने कुछ नहीं किया। मंडी परिसर भी छोटा पड़ने से दूरी बनाना संभव नहीं हो पा रहा। पुरानी कृषि उपजमंडी खाली पड़ी है। पूर्व में मंडी प्रशासन को बताया जा चुका। कुछ दिन थोक सब्जीमंडी को पुरानी कृषिमंडी में चलाया जा सकता है। हमारे सुझाव पर ध्यान नहीं दे रहे हैं। बैठक में अध्यक्ष अशोक जयसिंघानी, गणेश राठौर, श्याेजीलाल सैनी अाैर अाढ़तिये शामिल थे।


इन गांवों से आते हैं किसान: इस माहाैल में भी किसान अलसुबह अपने साधनों से शहरों में रहने वालों को ताजा सब्जियां दिलवा रहे हैं। बूंदी की थोक सब्जीमंडी में ठीकरदा, बड़ाैदिया, सथूर, बड़ानयागांव, नीमका खेड़ा, उलेड़ा, दलेलपुरा, आकोदा, सियाणा, दरा का नयागांव, रामगंजबालाजी, चापरस, मांगली, तालेड़ा, नमाना, खेड़ा, खटकड़, भैरुपुरा ओझा, केशवपुरा, दबलाना, अलोद, डाबेटा, विषधारी, तालाबगांव, चतरगंज, रघुनाथपुरा, उमर, टीकड़ बासनी, गुढ़ानाथावतान, मेघारावत की झाेंपड़िया, विजयगढ़, देवजी का थाना, आेवण, बसोली से राेज ताजा सब्जियां लाते हैं।


कोटा की तर्ज पर हो व्यवस्था

जिस तरह से कोटा प्रशासन ने थोक सब्जीमंडी में व्यवस्था बना रखी है, उसी तरह से बूंदी थोक सब्जीमंडी में भी व्यवस्था बनानी चाहिए। आढ़तियों को कूपन दिए जाए, ताकि उन्हें आने-जाने में परेशानी नहीं हो। गांवों से सब्जी बेचने आने वाले किसानों को भी पास दिलवाए जाए, ताकि उन्हें पुलिसकर्मी परेशान नहीं करें।

ये अच्छा तरीका

कलेक्टर बोले-थोक सब्जीमंडी को पुरानी कृषि मंडी में लगवाएंगे

थोक सब्जीमंडी बंद करने पर कलेक्टर ने कहा कि शुक्रवार को आढ़तियाें से बात करेंगे। शनिवार से पुरानी कृषि उपज मंडी में मंडी को लगवाना तय कर देंगे, ताकि भीड़-भाड़ नहीं रहे। उन्होंने कहा कि किराने की दुकानें नियमित खुलेंगी। आमजन आवश्यकतानुसार ही खरीदारी करें। आमजन घरों में ही रहें, इसके लिए होम डिलेवरी के प्रयास किए जा रहे हैं।

जब तक व्यवस्था सही नहीं हो जाती, मंडी बंद रहेगी: अध्यक्ष


कालाबाजारी की सूचना तुरंत दी जाए

लाॅकडाउन के दौरान आमजन को जरूरी सामग्री के लिए परेशान नहीं होना पड़े, इसके लिए संबंधित दुकानें खोली जा रही है। डीएसअाे सुरेंद्रसिंह राठौड़ ने बताया कि सामग्री के दौरान ओवररेट-कालाबाजारी होने पर कोई भी आमजन तुरंत फोन नंबर-0747-2442815, मोबाइल-9772201611 पर सूचना दे सकते हैं।

कोषालयों में पेंशनराें-कर्मियों का प्रवेश निषेध

कोषालयों में पेंशनराें-कर्मचारियों का प्रवेश निषेध है। केवल जो सरकारी कार्यालय खुले हैं, उन्हीं विभागों के अत्यावश्यक सेवाओं को बनाए रखने के लिए जरूरी बिल ट्रेजरी में भिजवाए जा सकेंगे। जिला कोषाधिकारी सत्यनारायण पांचाल ने बताया कि बिल की हार्डकाॅपी नहीं भेजकर अपने डिजिटल साइनों से या आॅफिस मेल आईडी से स्केन्ड डॉक्यूमेंट्स ट्रेजरी को भिजवाए जाए। विभाग किसी दावे का भुगतान होना इस क्राइसिस में राहत योग्य समझते हो तो कलेक्टर से पूर्व स्वीकृति लेकर ही बिल भिजवाए जा सकेंगे।

उपखंड मुख्यालयों पर भी बनाया कंट्रोल रूम

कोरोना वायरस को लेकर सूचनाओं के आदान-प्रदान के लिए सभी उपखंड मुख्यालयों में कंट्रोल रूम बनाए गए हैं। राज्यस्तरीय कंट्रोल रूम के फोन नंबर-0141-2225624 हैं। इसके अलावा जिलास्तर पर चिकित्सा विभाग के कंट्रोल रूम के नंबर 0747-2442895, कलेक्ट्रेट में जिलास्तरीय कंट्रोल रूम के नंबर-0747-2442305, उपखंड मुख्यालय बूंदी के कंट्रोल रूम के नंबर-0747-2445458, तालेड़ा के-0747-2438353, हिंडाैली के-07436-276446, केशवरायपाटन के-07478-264170, लाखेरी के-07478-262100 अाैर नैनवां उपखंड मुख्यालय के कंट्रोल रूम के फोन नंबर-07437-257229 हैं।

ये गलत तरीका

बूंदी. नगर परिषद ने शहर की सड़कों सेनेटाइज करने के लिए स्प्रे करवाया।

Bundi News - rajasthan news do not rush keep distance after two days people gathered at the open grocery stores this good initiative here taking vigil in getting the goods
Bundi News - rajasthan news do not rush keep distance after two days people gathered at the open grocery stores this good initiative here taking vigil in getting the goods
Bundi News - rajasthan news do not rush keep distance after two days people gathered at the open grocery stores this good initiative here taking vigil in getting the goods
X
Bundi News - rajasthan news do not rush keep distance after two days people gathered at the open grocery stores this good initiative here taking vigil in getting the goods
Bundi News - rajasthan news do not rush keep distance after two days people gathered at the open grocery stores this good initiative here taking vigil in getting the goods
Bundi News - rajasthan news do not rush keep distance after two days people gathered at the open grocery stores this good initiative here taking vigil in getting the goods
Bundi News - rajasthan news do not rush keep distance after two days people gathered at the open grocery stores this good initiative here taking vigil in getting the goods

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना