स्वच्छता और स्मार्ट कैंपस रैंकिंग में पिछडे़ प्रदेश के सरकारी यूनिवर्सिटी और काॅलेज

News - जयपुर | मानव संसाधन विकास मंत्रालय अाैर एअाईसीटीई ने मंगलवार काे उच्च शिक्षण संस्थानों में स्वच्छ कैंपस रैंकिंग...

Dec 04, 2019, 09:55 AM IST
Jaipur News - rajasthan news government universities and colleges of backward state in the cleanliness and smart campus rankings
जयपुर | मानव संसाधन विकास मंत्रालय अाैर एअाईसीटीई ने मंगलवार काे उच्च शिक्षण संस्थानों में स्वच्छ कैंपस रैंकिंग की घोषणा की, लेकिन लगभग सभी कैटेगरी में राजस्थान के उच्च शिक्षण संस्थानों की परफॉर्मेंस फिसड्डी रही। नई दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम में यूजीसी और एआईसीटीई की रिपोर्ट्स के आधार पर 48 यूनिवर्सिटी और अन्य संस्थानों को तीसरे स्वच्छता रैंकिंग पुरस्कार दिए गए। संस्थानों में स्टूडेंट व टॉयलेट अनुपात व सफाई के लिए एडमिनिस्ट्रेशन के दायित्व अाैर अन्य सफाई के मानकों पर रैंकिंग दी गई। जयपुर की बात करें ताे राजस्थान यूनिवर्सिटी अाैर एमएनआईटी ने ताे इस रैंकिंग के लिए आवेदन तक नही किया।

ये अाए राजस्थान से : रेजीडेशियल यूनिवर्सिटी-यूजीसी कैटेगरी में कोनेरू लक्ष्मैया एजुकेशन फाउंडेशन गुन्टूर जहां देश में प्रथम रहा, वहीं राजस्थान से मनीपाल यूनिवर्सिटी ने 4 अाैर जयपुर की ही ज्योति विद्यापीठ वुमंस यूनिवर्सिटी काे 8वां स्थान मिला। नाॅन रेजीडेंशियल यूनिवर्सिटी- यूजीसी कैटेगरी में अाईअाईएचएमअार यूनिवर्सिटी, राजस्थान पहले नंबर पर रहा। नाॅन रेजीडेंशियल काॅलेज- यूजीसी कैटेगरी में सीकर का प्रिंस एकेडमी अाॅफ हायर एजुकेशन शिक्षण प्रशिक्षण काॅलेज प्रथम अाैर अजमेर का श्री रतनलाल कंवरलाल गर्ल्स काॅलेज चतुर्थ स्थान पर रहा।

इनमें नही दिखे प्रदेश के संस्थान : एमएचअारडी ने अवार्ड के लिए जाे लिस्ट जारी की उसमें रेजीडेंशियल काॅलेज- यूजीसी, नाॅन रेजीडेंशियल यूनिवर्सिटी- एअाईसीटीई, रेजीडेंशियल काॅलेज- एअाईसीटीई, नाॅन रेजीडेंशियल काॅलेज- एअाईसीटीई, सरकारी रेजीडेंशियल यूनिवर्सिटी कैटेगरी में राजस्थान के इंस्टीट्यूट नही हैं।

स्वच्छ कैंपस रैंकिंग-2019 में सीकर की प्रिंस एकेडमी देशभर में प्रथम, प्रशस्ति पत्र से नवाजा

जयपुर |
मानव संसाधन विकास मंत्रालय, भारत सरकार की अाेर से नई दिल्ली में हुए एक कार्यक्रम में स्वच्छ कैम्पस रैंकिंग 2019 का अवार्ड वितरण कार्यक्रम हुअा, जिसमें पालवास रोड, सीकर स्थित प्रिंस एकेडमी ऑफ हायर एजुकेशन को अखिल भारतीय स्तर पर प्रथम रैंक के अवार्ड से नवाजा गया। यह अवार्ड केंद्रीय उच्च शिक्षा सचिव आर. सुब्रह्मण्यम, यूजीसी चेयरमैन डी.पी. सिंह, एआईसीटीई चेयरमैन प्रोफेसर अनिल डी. सहस्त्रबुद्धे, एमजीएनसीआरई चेयरमैन डाॅ. डब्लू जी. प्रसन्ना कुमार, एआईसीटीई वाइस चेयरमैन प्रोफेसर एम.पी. पूनिया ने प्रिंस एकेडमी के चेयरमैन डाॅ. पीयूष सुंडा को प्रशस्ति पत्र के रूप में प्रदान किया। मानव संसाधन विकास मंत्रालय, भारत सरकार की टीम ने देशभर में करीब 6900 शिक्षण संस्थाओं का सर्वेक्षण किया था। निदेशक सुंडा ने सभी स्टाफ सदस्यों, विद्यार्थियों एवं अभिभावकों को शुभकामनाएं दी है।

X
Jaipur News - rajasthan news government universities and colleges of backward state in the cleanliness and smart campus rankings
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना