ग्रामीण क्षेत्रों में काेराेना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए चिकित्साकर्मियाें के पास नहीं है पीपीई किट

Zila News News - दैनिक भास्कर जयपुर कार्यालय में गुरुवार काे अाए प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा से काेराेना...

Mar 27, 2020, 09:46 AM IST

दैनिक भास्कर जयपुर कार्यालय में गुरुवार काे अाए प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा से काेराेना वायरस काे लेकर जनता ने अनेक सवाल किए गए। मंत्री ने जवाब भी दिए। भास्कर के अापके सवाल मंत्री जी के जवाब में काेराेना वायरस काे लेकर ग्रामीण क्षेत्र में चिकित्साकर्मियाें के पास पीपीई (पर्सनल प्राेटेक्ट इक्विपमेंट किट) नहीं हाेने का मुद्दा उठाया ताे उन्हाेंने कहा कि इस समय पूरे देश में काेराेना वायरस के संक्रमण काे लेकर लाॅक डाउन चल रहा है। इस महामारी से लाेगाें काे बचाने के लिए चिकित्साकर्मी, अाशा सहयाेगिनी काम में लगी हुई है। मगर इनके पास पीपीई किट नहीं हाेने से अस्पताल में अाने वाले मरीजाें के स्वास्थ्य परीक्षण, इमरजेंसी में अाने वाले मरीजाें, रेफर करने वाले मरीजाें से एम्बूलेंस चालकाें काे संक्रमण का खतरा बना हुअा है। यहां तक की अाशा सहयाेगिनियाें काे ताे मास्क, सेनेटाइजर व दस्ताने भी उपलब्ध नहीं करवाए गए है। अाशा सहयाेगिनियां, एएनएम के साथ मिलकर गांव- ढाणियाें में जाकर देश विदेश से अाने वाले लाेगाें की नियमित स्क्रीनिंग व जांच की जा रही है। एेसे में इन्हें भी संक्रमण का खतरा बना हुअा है। जबकि पर्सनल प्राेटेक्ट इक्विपमेंट किट मिल जाए ताे संक्रमण से बचाव हाे सकता है।

स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा ने कहा कि इस कार्यक्रम में इस बारे में अाेर भी कई लाेगाें ने सवाल पूछे है। चिकित्साकर्मियाें काे पीपीई किट उपलब्ध करवाने के प्रयास किए जा रहे है। काेराेना वायरस की राेकथाम काे लेकर सरकार पूरी तरह से गंभीर है, इसमें किसी भी प्रकार की काेताही नहीं बरत रही है। जनता काे भी लाॅकडाउन व सरकार की एडवाजरी का पालन करना चाहिए अाैर अपने घराें में ही रहना चाहिए। लाॅक डाउन से ही इस वैश्विक महामारी से जंग जीती जा सकती है। कस्बा निवासी धर्मपाल यादव ने मंत्री से फाेन पर काेराेना काे लेकर सवाल किया। जयपुर ग्रामीण में कई उपस्वास्थ्य केंद्राें पर एएनएम नहीं है, एेसे में लाेगाें में जागरूकता का अभाव है। साथ ही पूछा कि हाेम अाईसाेलेट किए गए लाेग घराें के बाहर घूम रहे है। मंत्री ने कहा कि हाेम अाईसाेलेट किए गए लाेगाें के घराें के बाहर राज्य कर्मचारी व हाेमगार्ड बाेर्ड िडस्पले किए जा रहे है। अगर बाहर निकले ताे उनके खिलाफ पुलिस थाने में मामले दर्ज हाेंगे। इसके लिए पुलिस प्रशासन काे निर्देश दे दिए गए है।

मंत्री ने कहा कि गांव का सरपंच, ग्राम विकास अधिकारी व अन्य जिम्मेदार लाेगाें की भी नैतिक जिम्मेदारी है कि बाहर से अाने वाले लाेगाें की चिकित्सा विभाग व प्रशासन काे तुरंत सूचना दे, ताकि एेसे लाेगाें की स्क्रीनिंग की जा सकें अाैर इस महामारी से अामजन काे बचाया जा सके।

बीडीएम में सुविधाएं बढ़ाएंगे

कोटप्ूतली| स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा ने बीडीएम अस्पताल की ओपीडी व आईपीडी के आंकड़ों के बारे में कहा कि यह सही है कि अस्पताल की ओपीडी अनेक जिला मुख्यालयों पर स्थित अस्पतालों से भी अधिक है। 250 बेड के अस्पताल में चार तहसीलों के मरीज आ रहे है। इनमें प्रतिदिन 10-12 मरीज कोरोना संदिग्ध है। अस्पताल को केवल 50 पीपीई किट ही उपलब्ध कराए गए थे। एक मरीज के सैंपल लेने में करीब 5 पीपीई किट काम में आते है। 300 के करीब मेडिकल स्टॉफ है। इनके लिए प्रतिदिन 1200 मास्क, सेनेटाईजर व अस्पताल में प्रतिदिन छिड्काव के लिए पर्याप्त मात्रा में हाईपर क्लोराईड चाहिए जो उपलब्ध नहीं है। ऐसे में मेडिकल स्टॉफ इस आपदा की घड़ी में अपने आप को कैसे सुरक्षित रख पाएगा। उन्होंने जल्द इसकी व्यवस्था कराने को कहा।

गलती... कोरोना के खतरे को हम स्वयं ही बुला रहे है। जागरूकता के तमाम प्रयास के बाद भी कोटपूतली की एक दुकान में राशन लेने के लिए लोग एकत्रित है। यह बहुत खतरनाक स्थिति है।

इन दिनों दूरी है जरूरी

चौकसी... देश के विभिन्न प्रांतों से कोटपूतली में आने वाले संदिग्धों के घर पर चिकित्सा विभाग की टीम जांच कर रही है। ताकि कोई अपने साथ कोरोना का वायरस गलती से नहीं ले आए।

दैनिक भास्कर जयपुर कार्यालय में आए चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा फोन पर लोगों के पूछे गए सवालों का जवाब देते हुए।

सावधानी... काेराेना के डर से शाहपुरा में किराना की एक दुकान पर गाेले में खड़े हाेकर पुलिस एवं पालिकाकर्मी की निगरानी में सामान लेते हुए लोग। ऐसे प्रयासों की इस समय बहुत जरूरत है।

मदद... लॉकडाउन के चलते यातायात के साधन बंद है। ऐसे में देशभर में फंसे लोग अपने घर लौटने के लिए पैदल ही कई किमी का सफर कर पहुंच रहे है। एेसे भूखे प्यासे लोगों को खाना खिलाते लोग।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना