तीनों सरकारी अस्पतालों की रूटीन ओपीडी बंद, फिर भी मरीज आ रहे

Alwar News - अस्पताल में भीड़ का हिस्सा ना बनें: पीएमओ सामान्य अस्पताल के पीएमओ डॉ. सुनील चौहान का कहना है कि अगर आप पहले की...

Mar 27, 2020, 06:40 AM IST

अस्पताल में भीड़ का हिस्सा ना बनें: पीएमओ

सामान्य अस्पताल के पीएमओ डॉ. सुनील चौहान का कहना है कि अगर आप पहले की तरह सामान्य बीमारियों को लेकर अस्पताल की ओपीडी में पहुंचकर भीड़ का हिस्सा बनेंगे तो संक्रमण लग सकता है। इमरजेंसी में ही अब घर से निकलें और अस्पताल आएं। जहां भी जाएं, वहां एक दूसरे से करीब एक से दो मीटर की दूरी बनाकर रखें, जिससे संक्रमण के खतरे से बचा जा सके।

अलवर| कोरोना वायरस के खतरे को लेकर आप भीड़ का हिस्सा ना बनें और संक्रमित होने से बचें। इसके लिए अस्पतालों की रूटीन ओपीडी बंद कर दी गई हैं। डॉक्टरों के कई बार आग्रह के बाद भी ओपीडी में सामान्य बीमारियों के मरीज पहुंच रहे हैं। डॉक्टरों के मुताबिक ऐसे मरीज भी ओपीडी में आ रहे हैं, जो मेडिकल स्टोर से सामान्य दवाएं लेकर भी ठीक हो सकते हैं। जो इमरजेंसी के मरीज हैं, उनके लिए अस्पताल के पुराने भवन में जुकाम खांसी, ट्रोमा सेंटर में सर्जरी और ओपीडी विंग में मेडिसन की ओपीडी संचालित कर रखी है। इधर, अस्पतालों में इनडोर मरीजों की संख्या में काफी कमी आई है। अस्पताल में मोतियाबिंद और सामान्य सर्जरी बंद कर दी गई हैं। अस्पताल में पूरा फोकस कोरोना आइसोलेशन वार्ड में भर्ती मरीजों पर है।

महिला अस्पताल में रूटीन ओपीडी बंद, रोजाना 20 से 35 डिलीवरी : महिला अस्पताल में डिलीवरी के केस ही देखे जा रहे हैं। यहां रूटीन ओपीडी बंद है। रोजाना करीब 20 से 25 डिलीवरी हो रही हैं। जच्चा-बच्चा को कोई संक्रमण नहीं लगे, इसके लिए नर्सिंग अधीक्षक सुशीला शर्मा के नेतृत्व में अस्पताल के गेट व दीवारों को रोजाना सोडियम हाइपोक्लोराइड से सैनेटाइज किया जा रहा है।

शिशु अस्पताल में रोजाना 150 से ज्यादा मरीज आ रहे: शिशु अस्पताल की ओपीडी में जुकाम-खांसी, निमोनिया व बुखार के मरीज पहुंच रहे हैं। यहां रोजाना डेढ़ सौ से अधिक मरीज पहुंच रहे हैं।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना